संदेश

उर्दू विरासत मेला 2024 ,दिल्ली सरकार कला एवं संस्कृति के प्रचार-प्रसार के लिए लगातार आयोजन कर रही है: सौरभ भारद्वाज

चित्र
  उर्दू अकादमी दिल्ली द्वारा आयोजित चार दिवसीय "जश्न उर्दू" बड़ी सफलता के साथ संपन्न हुआ नई दिल्ली उर्दू विरासत मेले के तहत चार दिवसीय "उर्दू उत्सव" के अपना सफर जारी रखते हुए सफलता की एक नई इबारत लिखी जा रही है।  आखिरी दिन शनिवार था, दिल्ली और दिल्ली के बाहर से लोग मौज-मस्ती, पिकनिक और उर्दू के जश्न के लिए सुंदर नर्सरी आ रहे थे।  दिल्ली में हर साल कई सफल समारोह आयोजित किए जाते हैं, उनमें से एक उर्दू-उर्दू हेरिटेज मेला है, जो पिछले कई वर्षों से दिल्ली के विभिन्न क्षेत्रों में आयोजित किया जाता है। लाल किला और सेंट्रल पार्क, कनॉट प्लेस, दिल्ली के बाद इस वर्ष, निज़ामुद्दीन के पास सुंदर नर है। इस वर्ष श्री के सब्ज़ाज़ार में आयोजित उर्दू के उत्सव ने नए अनुभवों और उर्दू के प्रति अपार दीवानगी के साथ एक नया इतिहास रचा। श्री सौरभ भारद्वाज और अन्य ग़ज़ल गायिका मंजरी अकादमी बैज प्रस्तुत करते हुए।  दिल्ली सरकार के कला, संस्कृति एवं संस्कृति मंत्री श्री सौरभ भारद्वाज प्रतिदिन उपस्थित होकर अपनी रुचि बखूबी दिखा रहे हैं, अनुशासन की कमी एवं अतिरेक पर वे लगातार अपने निर्देश देते रहे ह

हमारा देश पूरी दुनिया में छाप छोड़ रहा - वरूण गांधी

चित्र
 कहा कि सबसे ऊंचे दर्ज के वकील, डॉक्टर, इंजीनियर सब हिन्दुतानी हैं रेलवे स्टेशन पर शिलान्यास कार्यक्रम के दौरान बोले सांसद*  बेताब समाचार एक्सप्रेस के लिए पीलीभीत से शाहिद खान की रिपोर्ट पीलीभीत। सांसद वरुण गांधी सोमवार को जिले में पहुंचे। ​जिले की सीमा पर पहुंचते ही कार्यकर्ताओं ने उनको स्वागत किया। ब्लॉक के ग्राम खजुरिया पचपेड़ा, फूटा कुआं, बरगदा व ग्राम मसौत में जनसंवाद कार्यक्रमों को संबोधित करने के बाद वह पीलीभीत जंक्शन पर आयोजित अमृत स्टेशनों के शिलान्यास कार्यक्रम में शरीक हुए।  संबोधन में सांसद वरुण गांधी ने कहा कि हमारा देश पूरी दुनिया में छाप छोड़ रहा है। ​विश्व में 18 ऐसे देश हैं, जिनके प्रधानमंत्री, अध्यक्ष, राष्ट्रपति हिन्दूस्तान मूल के हैं। दुनिया में कहीं भी जाए सबसे ऊंचे दर्ज के वकील, डॉक्टर, इंजीनियर सब हिन्दुतानी हैं। हमारे ​देश में मेहनत की कमी नहीं। न ही हिम्मत और प्रतिभग की। हमारे देश में लोगों को बस अवसर की जरूरत है। कहा कि आने वाली पीढि़या पूरे दुनिया में जयहिंद का नारा लगाएंगी। बोले कि राष्टभक्ति केवल एक नारा न हो बल्कि जीवन का एक मूल्य हो, एक रास्ता हो। यह संक्

कांग्रेस पार्टी की एक सभा कांग्रेस नेता जितेंद्र पांचाल एडवोकेट के प्रतिष्ठान पर आयोजित की गई

चित्र
कांग्रेस पार्टी की एक सभा कांग्रेस नेता जितेंद्र पांचाल एडवोकेट के प्रतिष्ठान पर आयोजित की गई, जिसमे आगामी लोकसभा चुनाव की तैयारियो को लेकर चर्चा की गई l सभा की अध्यक्षता वरिष्ठ कांग्रेस नेता डा. एम एन खान ने की तथा संचालन  बृजराज सिंह एडवोकेट ने किया l सभा मे बोलते हुए जितेंद्र पांचाल एडवोकेट ने कहा कि _" कांग्रेस पार्टी के शीर्ष नेतृत्व के निर्देश पर सभी कांग्रेस जनों को एकजुट होकर चुनाव की तैयारी व प्रचार प्रसार मे लग जाना चाहिए, उन्होंने कहा कि ऐसे तानाशाही हालात मे कांग्रेस के लोग पूरी निष्ठा के साथ कांग्रेस केसाथ खडे हैं ये अपने आप मे कांग्रेसियों के सम्मान की बात है l आज इस देश को कांग्रेस की आवश्यकता है l किसानों कामगारो नौजवानो, दलितों के हको को बहाल कराने के लिए हम सब लोगों को इस क्रन्तिकारी चुनाव मे कूद जाना चाहिए l उन्होंने बताया कि शीघ्र एक बड़ी सभा सरधना नगर मे आयोजित होगी जिसमे प्रदेश के बड़े नेता भी भाग लेंगे l कांग्रेस जिला महासचिव युसूफ अंसारी, नगर अध्यक्ष इकराम अंसारी, रिजवान खान,मुजम्मिल खिरवा,शाहनवाज मिर्जा, आसिफ अंसारी, अनीश खान, शालू  इरफ़ान राकेश कश्यप, राजबीर

खाद्य प्रसंस्करण विभाग द्वारा लागू की गई मंडी सूची दोहरी नीति के बारे में उठाया मुद्दा उधोग व्यापार प्रतिनिधि मंडल ने* *माननीय मुख्यमंत्री को सम्बोधित जिलाधिकारी महोदय को सौंपा ज्ञापन*

चित्र
 *बेताब समाचार एक्सप्रेस के लिए पीलीभीत से शाहिद खान की रिपोर्ट* खाद्यान्न के पूरे व्यापार पर मंडी शुल्क एक समान करने के संबंध में* किसानों को इस नीति के सिद्धांत का नही हुआ पूरा लाभ* उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल द्वारा माननीय मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन के माध्यम से जिलाधिकारी महोदय जी से कहा गया कि फरवरी 2023 में खाद एवं प्रसंस्करण विभाग द्वारा कृषको को मंडी प्रांगण की जगह सीधे राइस एवं फ्लोर मिलों पर अपने उत्पाद के विक्रय की छूट प्रदान कर दी गई। यह किन्हीं मायनों में एक अच्छा कदम माना जा सकता है "परंतु इसके साथ प्रत्येक मिलर (बड़े क्रेता) को उनकी नियमवत खरीद पर मंडी शुल्क एवं विकास सेस में छूट प्रदान करते हुए उपरोक्त विभाग द्वारा मंडी शुल्क के भुगतान की व्यवस्था बनाना और मंडी में चल रहे अधिनियम अनुरूप व्यापार पर मंडी शुल्क एवं विकास सेस की पूर्ववत देयता बनाए रखना कहां तक न्यायोचित है। यदि यह कृषक हित में लागू किया गया हो तो सर्वथा अनुचित अनुचित एवं अनुपयुक्त साबित हुआ है , क्योंकि प्रत्येक किसान को मंडी के भाव का ही मिलर्स द्वारा भुगतान मिला है और "मंडी शुल्क का लाभ क्र

मदरसा आहया अल-उलूम सरकड़ा (चकराजमल ) में हुआ सालाना इजलास। मां की गोद से लेकर कब्र में जाने तक इल्म हासिल करो : मदरसे से दिया गया पैग़ाम

चित्र
  एक दिन की पढ़ाई का नुकसान चालीस दिन में भी पूरा नहीं किया जा सकता :  मौलाना मुहम्मद ज़ुल्फ़िकार नदवी सरकड़ा, स्योहारा (ज़िला बिजनौर) उ.प्र. (अनवार अहमद नूर ) इस्लाम में इल्म हासिल करने का बड़ा महत्व है और ज्ञान प्राप्त करना भी इबादत है। पैग़म्बर मुहम्मद साहब (सल्ल) ने कहा कि ज्ञान प्राप्त करना पुरुषों और महिलाओं पर अनिवार्य है। इसी तरह इस्लाम धर्म में मां की गोद से लेकर कब्र में जाने तक इल्म हासिल करने की बात कही गई है। इसलिए अधिक से अधिक इल्म हासिल करो, ये पैग़ाम यहां ग्राम सरकड़ा चकराजमल में मदरसा आहया अल उलूम में उलमा हज़रात ने दिया। मदरसे के वार्षिक प्रोग्राम में बच्चों से अधिक से अधिक इल्म हासिल करने का आग्रह करते हुए महिलाओं से कहा गया कि आपमें से जो बहनें शिक्षित हैं, वे अपने आसपास की अशिक्षित बहनों को शिक्षित करें और तालीम के दीपक से और दीपक जलाएं। ऐसे ही विचार व्यक्त करते हुए मौलाना मुहम्मद ज़ुल्फ़िकार नदवी ने मदरसा अहया के वार्षिक सम्मेलन में तालीम पर ज़ोर दिया और कहा कि जिस धर्म (इस्लाम में) ज्ञान प्राप्त करने को बड़ा कर्तव्य बताया हो और जिसमें ज्ञान प्राप्त करना इबादत

*नोटों पर वोट की शक्ति को मजबूत करेगा', चुनावी बॉन्ड को रद्द करने का फैसला।*

(चुनावी बांड पर दिया गया फैसला अभिव्यक्ति की आजादी को मजबूत करता है। चुनावी बॉन्ड योजना को रद्द करना लोकतंत्र की मजबूती की दिशा में पहल।) चुनाव में नियमों का उल्लंघन करके प्रत्याशी बड़े पैमाने पर काले धन का चुनावों में इस्तेमाल करते हैं। इसके अलावा, सभी पार्टियों को कानूनी और गैर-कानूनी तरीके से चंदा मिलता है। पार्टियों के संगठित पैसे से कॉरपोरेट ऑफिस, चार्टर्ड फ्लाइट, रोड शो, रैलियां और नेताओं की खरीद-फरोख्त भी होती है। बोहरा कमेटी की रिपोर्ट में नेता, अपराधी और कॉरपोरेट्स की मिलीभगत को लोकतंत्र के लिए सबसे बड़ा संकट माना गया था।  दिवालिया कानून की आड़ में अनेक कंपनियां सरकारी बैंकों का पैसा हजम कर रही हैं। ऐसी कंपनियों को चुनावी बॉन्ड की आड़ में फंडिंग की इजाजत देना देश के खजाने की लूट ही मानी जाएगी।    एक बेहतर समाज बनाने के लिए हमें उनकी समृद्ध लोकतांत्रिक परंपराओं को भी अंगीकार करने की जरूरत है।  यह ऐतिहासिक फैसला लोकतंत्र को मजबूत बनाने में मील का पत्थर बन सके, इसके लिए पार्टियों और नेताओं द्वारा पारदर्शी फंडिंग पर अमल जरूरी है।   *-प्रियंका सौरभ*  सुप्रीम कोर्ट ने एक ऐतिहासिक फैसले

सुल्तान बेग और शिवचरण का मतभेद डॉक्टर अनीस बेग ने खत्म करा दिया, आखिर मनभेद कैसे खत्म होगा?

चित्र
रिपोर्ट-मुस्तकीम मंसूरी  बरेली, समाजवादी पार्टी को निकाय चुनाव में मिली करारी हार के बाद समीक्षा बैठक में सपा जिला अध्यक्ष शिवचरण कश्यप एवं पूर्व विधायक सुल्तान बेग द्वारा हार के कारणों को लेकर एक दूसरे पर समीक्षा बैठक के दौरान लगाए गए आरोप प्रत्यारोपो को लेकर चले आ रहे मनमुटाव को खत्म कराने में डॉक्टर अनीस बेग ने आज महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हुए सपा जिला अध्यक्ष शिवचरण कश्यप और पूर्व विधायक सुल्तान बेग को गले मिलवा कर सपा में चल रही गुटबाजी को समाप्त करने का जो कार्य किया है। उससे लोकसभा चुनाव में सपा को फायदा मिलने की संभावनाएं बढ़ गई है। वहीं सूत्रों का कहना है की डॉक्टर अनीस बेग  ने शिवचरण कश्यप और सुल्तान बेग को एक दूसरे के गले मिलवा कर मतभेद तो दूर करा दिया, आखिर मनभेद कैसे दूर होगा यह अपने आप में बहुत बड़ा सवाल है? आपको बताते चलें निकाय चुनाव में सपा को जिले में मिली करारी हार के बाद हुई, समीक्षा बैठक में हार की जिम्मेदारी कोई लेने को तैयार नहीं था। सपा के जिम्मेदार एक दूसरे पर हार का ठीकरा फोड़ते हुए एक दूसरे को जिम्मेदार ठहरा रहे थे। इसी को लेकर सपा जिला अध्यक्ष शिवचरण कश्यप औ

बागपत में पूर्व राज्यपाल सत्यपाल मलिक की हवेली पर CBI का छापा,

चित्र
 रिपोर्ट-मुस्तकीम मंसूरी  बागपत,जम्मू कश्मीर के पूर्व राज्यपाल सत्यपाल मलिक के बागपत जनपद स्थित पैतृक गांव हिसावदा में गुरुवार सुबह ही गाजियाबाद से सीबीआई की टीम पहुंच गई। हिसावदा में सत्यपाल मलिक की केवल एक पुरानी हवेली है, जो जर्जर हालत में ही है। वहां सीबीआई की टीम ने सत्यपाल मलिक के परिवार के सतबीर मलिक उर्फ हिटलर के घर पहुंचकर बातचीत की। बताया जा रहा है कि टीम उनसे सत्यपाल मलिक की संपत्ति से जुड़ी व अन्य जानकारी ले रही है। सीबीआई टीम के साथ स्थानीय पुलिस भी मौजूद है और फिलहाल किसी के भी अंदर जाने व बाहर आने पर रोक लगा दी गई है। केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने जम्मू-कश्मीर की कीरू जल विद्युत परियोजना में रिश्वतखोरी के मामले में कई शहरों में ठिकानों पर छापे मारे। परियोजना के लोक निर्माण कार्य के लिए 2,200 करोड़ रुपये का ठेका दिया गया था, जिसके खिलाफ राज्य के तत्कालीन राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने आवाज उठाई थी। सत्यपाल मलिक ने दो परियोजनाओं को मंजूरी के एवज में 300 करोड़ रुपये की रिश्वत की पेशकश की शिकायत की थी।

शिक्षा का उद्देश्य एक बेहतर समाज और देश का निर्माण आने वाले 25 साल देश के विकास के लिए महत्वपूर्ण, युवा शक्ति बनेगी कर्णधार, आनंदीबेन पटेल

चित्र
रिपोट-मुस्तकीम मंसूरी विश्वविद्यालय राष्ट्र को दिशा देने में निभाते हैं महत्वपूर्ण भूमिका हमारे विश्वविद्यालय रिकॉर्ड संख्या में वैश्विक रैंकिंग में कर रहे हैं प्रवेश। सहारनपुर,राज्यपाल उत्तर प्रदेश शासन श्रीमती आनंदीबेन पटेल की अध्यक्षता में जनमंच सभागार में माँ शाकुम्भरी विश्वविद्यालय के प्रथम दीक्षान्त समारोह का आयोजन किया गया।  कार्यक्रम का शुभारम्भ महामहिम राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल एवं पदम श्री योगाचार्य श्री भारत भूषण द्वारा दीप प्रज्ज्वलित कर किया गया। कार्यक्रम में राज्यपाल महोदया द्वारा 06 कुलाधिपति स्वर्ण पदक, 49 कुलपति स्वर्ण पदक एवं एक छात्रा को शत-प्रतिशत अंक के लिए प्रायोजित स्वर्ण पदक दिया गया। यूनिवर्सिटी के प्रथम दीक्षांत समारोह में कुल 12755 छात्रों को उपाधियां दी गयी। इसमें 4077 छात्र एवं 8677 छात्राएं शामिल है। आंगनबाडी को पांच किट देने के साथ ही उच्च प्राथमिक विद्यालय सरकडी शेख, आसनवाली, पुंवारका के 30 छात्र-छात्राओं को पुरस्कार दिए। राज्यपाल द्वारा इन छात्र-छात्राओं को 200 पुस्तकें भी दी गयी। इसी के साथ 12755 उपाधियों की सूची पर हस्ताक्षर किए एवं उपाधियों को

पीएम मोदी करेंगे जयंत चौधरी से मुलाकात,छपरौली में एनडीए की रैली की तय होगी तारीख,

चित्र
 रिपोर्ट-मुस्तकीम मंसूरी  बागपत।राष्ट्रीय लोक दल का भारतीय जनता पार्टी के साथ गठबंधन होने की बात चौधरी जयंत सिंह ने भले ही खुद कही हो, लेकिन जयंत की जल्द ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मुलाकात होगी। इसके साथ ही गठबंधन की दोनों तरफ से औपचारिक घोषणा होगी। ये जरूर है कि गठबंधन की औपचारिक घोषणा के साथ उन सीटों के नाम की घोषणा नहीं की जाएगी जो रालोद को मिलेंगी। रालोद का भले ही भाजपा के साथ गठबंधन हो गया हो, लेकिन इसका‌ औपचारिक ऐलान अभी तक नहीं हुआ है। रालोद के एक वरिष्ठ पदाधिकारी के अनुसार चौधरी जयंत सिंह की जल्द ही पीएम नरेंद्र मोदी से मुलाकात होगी।जयंत पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय चौधरी चरण सिंह को भारत रत्न दिए जाने के लिए प्रधानमंत्री का आभार जताने के लिए जाएंगे। जहां गठबंधन को लेकर बातचीत होगी और उसके बाद दोनों तरफ से औचारिक ऐलान होगा। यह अगले दो-तीन दिनों में होना है। जिससे दोनों पार्टियों के कार्यकर्ता उसी तरह चुनावी तैयारी में जुट सके। उसके बाद ही उन विधायकों को लेकर फैसला होगा, जिनको यूपी के मंत्रीमंडल में शामिल किया जाना है।