नागरिकता संशोधन एक्ट के खिलाफ अब तक उत्तर प्रदेश में 15 लोगों की मौत

नागरिकता संशोधन अधनियिम और एनआरसी को लेकर अब उत्तर प्रदेश के रामपुर में बवाल हो गया है। बिना अनुमति के हाथीखाना चौराहा, शाहबाद गेट, ईदगाह, हाफिज साहब की दरगाह पर हजारों की संख्या में प्रदर्शनकारी इकट्ठा हुए। इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने सरकार व कानून विरोधी नारे लगाए। जब पुलिस ने इन्हें रोकने का प्रायस किया तब ही भीड़ हिंसक हो गई। उग्र भीड़ ने पुलिस जीप समेत कई वाहनों को आग के हवाले कर दिया है। पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर काबू पाने के लिए लाठीचार्ज और आंसू गैस के गोले दागे हैं। हिंसक प्रदर्शन में एक युवक की मौत हुई है। प्रदर्शनकारियों ने बैरिकेडिंग तोड़कर पुलिस पर पथराव किया है। जिसके बाद पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े और हवाई फायरिंग भी की। बताया जा रहा है कि हवाई फायरिंग में गोली लगने से एक व्यक्ति की मौत हो गई। मरने वाले व्यक्ति का नाम फैज बताया जा रहा है। वहीं पथराव में दो युवक भी घायल हुए हैं, जिन्हें उपाचार के लिए मुरादाबाद रेफर किया गया है। डीएम आंज्नेय सिंह, एसएसपी डॉक्टर अजय पाल शर्मा मौके पर पहुंचे। दुकानों को बंद करा दिया गया है। वहीं उत्तर प्रदेश के कानपुर में समाजवादी पार्टी के नेताओं को हिंसा भड़काने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। उत्तर प्रदेश में नागरिकता विरोधी संशोधन अधिनियम के खिलाफ प्रदर्शनों में कुल 15 लोगों की मौत हो गई है। मेरठ- 4 की मौत फिरोजाबाद- 2 की मौत संभल- 2 की मौत बिजनौर- 2 की मौत कानपुर- 2 की मौत मुजफ्फरनगर- 1 की मौत रामपुर- 1 की मौत लखनऊ- 1 की मौत


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश

जिला गाजियाबाद के प्रसिद्ध वकील सुरेंद्र कुमार एडवोकेट ने महामहिम राष्ट्रपति एवं प्रधानमंत्री को देश में समता, समानता और स्वतंत्रता पर आधारित भारतवासियों के मूल अधिकारों और संवैधानिक अधिकारों को सुनिश्चित करने के लिए लिखा पत्र

ज़िला पंचायत सदस्य पद के उपचुनाव में वार्ड नंबर 16 से श्रीमती जसविंदर कौर की शानदार जीत