दिल्ली एनसीआर में पड़ रही ठंड ने तोड़े रिकार्ड

नई दिल्ली। एक पखवाड़ के अंदर दिल्ली-एनसीआर में पड़ी रही कड़ाके सर्दी ने पिछले कई वर्षों के रिकॉर्ड तोड़े हैं। वहीं एक बार फिरसे सोमवार को सर्दी ने एक और रिकॉर्ड तोड़ दिया है। राजधानी दिल्ली में शीतलहर ने 119 वर्ष का रिकॉर्ड धवस्त कर दिया है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के मुताबिक सोमवार दोपहर दो बजकर 30 मिनट पर सफदरगंज में दिन का अधिकतम तापमान 9.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जोकि दूसरा सबसे ठंडा दिसम्बर महीना है। इससे पहले दिसम्बर में दिल्ली का यह तापमान साल 1901 में दर्ज किया गया था। Also Read - अंडर ट्रेनिंग आईआरएस को बदमाशों ने ठगा वहीं मौसम विभाग के अन्य वेधशाला के में दिन के तापमान में भी कमी दर्ज किया गई। पालम में 9, आयानगर में 7.8 और लोधी रोड में 9.2 डिग्री सेल्सियस दिन का तापमान दर्ज किया गया है। 1901 यानी 119 वर्ष बाद दिल्ली में दिसम्बर महीने में इतना नीचे पारा पहुंचा था। वहीं 28 दिसम्बर 1997 को भी दिल्ली का तापमान 11.3 डिग्री सेल्सियस पहुंचा गया था। वो भी सबसे ठंडा दिन माना गया था। Also Read - हार्ट अटैक के मरीजों को अब इमरजेंसी एम्बूलेंस 78 किलोमीटर तक भी होगा उपलब्ध मौसम विभाग के मुताबिक सोमवार को दिल्ली का न्यूनतम तापमान सामान्य से चार डिग्री कम 2.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। सुबह साढे आठ बजे हवा में नमी का स्तर 100 फीसदी रहा। दिन के समय ठंडी का एहसास बना रहेगा, जबकि अधिकतम तापमान 16 डिग्री सेल्सियस के आस पास रहने की संभावना जताई गई है। कोहरे ने ट्रेने और फ्लाइट की रोकी गाति दिल्ली एनसीआर में सोमवार को भीषण कोहरा पड़ने से विजिबिलिटी में कमी थी। जिसका सीधा प्रभाव दिल्ली एयरपोर्ट और रेलवे पर पड़ा है। दृश्यता कम होने के चलते 21 फ्लाइटों को डाइवर्ट करना पड़ा, जबिक पांच उड़ानों को रद्द करना पड़ा। वहीं 500 उड़ानों में देरी हुई है। कोहरे की दृष्यता काफी होने की वजह से उत्तर रेलवे रीजन में 30 ट्रेनें देरी से दौड़ रही हैं। हालांकि अभी तक कोई भी ट्रेन की रद्द होने की सूचना नहीं मिली है। वायु प्रदूषण से भी दिल्ली एनसीआर के लोग बेहाल राजधानी दिल्ली में इस समय ठंड के साथ कोहरे का लोगों को डबल डोज मिल रहा है। कोहरे की वजह से हवा की रफ्तार थम गई है,जिससे चलते वायु प्रदूषण 'खतरनाक' स्तर पर पहुंच गया है। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के मुताबिक सोमवार की सुबह आनंद विहार में एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआई) 462, मंदिर मार्ग में 433, द्वारका सेक्टर- 8 में 467, आईटीओ दिल्ली में 450, रोहिणी में 449, फरीदाबाद में 347 औक उत्तर प्रदेश के नोएडा में 373 पर दर्ज किया गया, जोकि इन सभी जगहों पर एक्यूआई का स्तर "खतरनाक" श्रेणी के स्तर पर पाया गया है। मौसम विभाग के अनुसार पश्चिमी विक्षोभ और निचले स्तर पर तेज हवाओं के प्रभाव से 31 दिसम्बर की शाम से दिल्ली व एनसीआर में हवा की रफ्तार में तेजी आई गई। वहीं नए साल के जश्न में दिल्लीएनसीआर के लोगों को हल्की बारिश का सामना करना पड़ेगा। यह सिलसिला 2 जनवरी से शुरु होकर 3 जनवरी तक चलेगा। उसके बाद एक बार फिरसे मौसम में परिवर्तन दिखाई देगा। 4 व 5 जनवरी को घना कोहरा पड़ने की उम्मीद जताई गई है। इस पूरे हफ्ते न्यूनतम और अधिकतम तापमान क्रमश: 7 डिग्री और 16 डिग्री तक जाने की संभावना हैं। हालांकि बीच में शहर के तापमान में उतार चढाव होने की संभावना है।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश

जिला गाजियाबाद के प्रसिद्ध वकील सुरेंद्र कुमार एडवोकेट ने महामहिम राष्ट्रपति एवं प्रधानमंत्री को देश में समता, समानता और स्वतंत्रता पर आधारित भारतवासियों के मूल अधिकारों और संवैधानिक अधिकारों को सुनिश्चित करने के लिए लिखा पत्र

ज़िला पंचायत सदस्य पद के उपचुनाव में वार्ड नंबर 16 से श्रीमती जसविंदर कौर की शानदार जीत