आम आदमी पार्टी ने ‘आपका विधायक आपके द्वार’ कार्यक्रम के तहत एक सितंबर से 20 अक्टूबर तक पूरे दिल्ली में 2532 मोहल्ला सभाएं की- गोपाल राय

नई दिल्ली, 24 अक्टूबर, 2021आम आदमी पार्टी की तरफ से आयोजित मोहल्ला सभाओं में आए लोगों ने साफ संकेत दे दिया है कि एमसीडी में भाजपा के गिनती के दिन ही बचे हैं। ‘आप’ दिल्ली संयोजक गोपाल राय ने कहा कि ऐसा लग रहा है कि दिल्ली के बॉर्डर पर सीना तान कर खड़े तीन कूड़े के पहाड़ों को साफ करने की डेड लाइन खत्म होने से पहले ही भाजपा की एमसीडी से विदाई की डेड लाइन आ जाएगी।


क्योंकि ‘आपका विधायक आपके द्वार’ कार्यक्रम के तहत एक सितंबर से 20 अक्टूबर के बीच पूरे दिल्ली में 2532 मोहल्ला सभाएं की गईं और हर सभा में लोगों ने दिल्ली में फैली गंदगी और कूड़े के मुद्दे को उठाया। लोगों का कहना है कि भाजपा और एमसीडी कूड़ा साफ करने और डेंगू के खिलाफ अभियान चलाने में पूरी तरह असफल साबित हुई है। गोपाल राय ने कहा कि दिल्ली के लोग भी इस बार एमसीडी में बदलाव चाहते हैं। इसलिए पार्टी दीपावली के बाद संगठात्मक ढांचे को और मजबूत करने के लिए अभियान शुरू करेगी।

आम आदमी पार्टी के दिल्ली प्रदेश संयोजक एवं कैबिनेट मंत्री गोपाल राय ने आज पार्टी मुख्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि दिल्ली के अंदर एमसीडी चुनाव के तैयारियों के मद्देनजर आम आदमी पार्टी ने एक सितंबर से ‘आपका विधायक आपके द्वार’ कार्यक्रम की शुरूआत की थी। इस कार्यक्रम को 30 सितंबर तक पूरा करना था, लेकिन बारिश की वजह से और कई मोहल्लों मंे मोहल्ला सभा आयोजित करने के नए प्रस्ताव आने के बाद हमने इसे 20 अक्टूबर तक बढ़ा दिया था। एक सितंबर से 20 अक्टूबर के बीच में दिल्ली के अंदर आम आदमी पार्टी के सभी विधायकों और जिस विधानसभा के अंदर आम आदमी पार्टी के विधायक नहीं है, वहां संगठन के पदाधिकारियों ने मोहल्ला सभा का आयोजन किया। 

गोपाल राय ने बताया कि एक सितंबर से 20 अक्टूबर के बीच में 2532 मोहल्ला का आयोजन किया गया। जिसमें नार्थ ईस्ट लोकसभा में 376 मोहल्ला सभा हुई। ईस्ट दिल्ली लोकसभा में 358, वेस्ट लोकसभा में 367, चांदनी चौक लोकसभा में 338, नई दिल्ली लोकसभा में 345, साउथ लोकसभा में 389, नार्थ वेस्ट लोकसभा में 359 मोहल्ला सभा आयोजित की गई। जिसमें हमारे विधायकों ने जनता के साथ उनकी समस्याओं को लेकर संवाद किया। कोरोना काल की वजह से काफी लंबे समय से जनता के साथ सीधा संवाद नहीं हो पा रहा था। मोहल्ला सभाओं में जनता की समस्याओं को सुना गया और उनकी समस्याओं को लेकर विधानसभावार और दिल्ली सरकार के स्तर पर भी काम हो रहे हैं।

‘आप’ प्रदेश संयोजक गोपाल राय ने कहा कि सबसे बड़ी बात यह है कि हमारी कोई ऐसी मोहल्ला सभा नहीं रही, जिसमें लोगों ने पूरे दिल्ली के अंदर फैली गंदगी और कूड़े के मुद्दे न उठाया हो। चाहे वह नरेला विधानसभा हो, चाहे वह नजफगढ़ विधानसभा हो, चाहे बुराड़ी हो, छतरपुर हो, रोहिणी हो या बदरपुर विधानसभा हो, पूरे दिल्ली के अंदर हर तरफ लोगों ने गंदगी के मुद्दे को उठाया। इस कार्यक्रम के माध्यम से जनता के साथ संवाद करने के साथ-साथ एक बात यह भी सामने आई कि एमसीडी के पास जो साफ सफाई की जिम्मेदारी है, उसमें भारतीय जनता पार्टी पूरी तरह असफल साबित हुई है। इसका परिणाम आज दिल्ली के अंदर देखने को मिल रहा है। दिल्ली के अंदर हर साल अक्टूबर के महीने में डेंगू के संक्रमण से बचने के लिए एमसीडी द्वारा साफ-सफाई अभियान चलाया जाता था। खासतौर से फागिंग कराई जाती थी। डेंगू लार्वा को मारने वाली दवा लोगों के कूलर और जहां पानी जमा होता है, वहां पर डाला जाता था। एमसीडी और भारतीय जनता पार्टी न सिर्फ कूड़ा को साफ करने में असफल हुई, बल्कि इस साल डेंगू के खिलाफ जिस तरह से अभियान चलना चाहिए था, उसमें भी असफल साबित हुई है। 

‘आप’ के वरिष्ठ नेता गोपाल राय ने कहा कि दिल्ली को भारतीय जनता पार्टी ने कूड़े के पहाड़ के तीन गिफ्ट दिए हैं, जो दिल्ली के बॉर्डर पर सीना तान कर खड़े हैं। उसको साफ करने के लिए बार-बार डेड लाइन पड़ती है और बार-बार डेड लाइन आगे बढ़ जाती है। जिस गति से कूड़े के पहाड़ की सफाई हो रही है, उसे देखकर ऐसा लग रहा है कि कूड़ा साफ होने की डेड लाइन खत्म होने से पहले ही भाजपा की एमसीडी से विदाई की डेड लाइन आ जाएगी। हमारी मोहल्ला सभाओं की जो प्राथमिक रिपोर्ट आई है, उसके आधार पर हम लोग अपनी कार्य योजना बना रहे हैं। साथ ही, मोहल्ला सभा के अंदर पार्टी संगठन का जगह-जगह क्या प्रदर्शन रहा है, उसकी भी पार्टी समीक्षा कर रही है। सभी विधानसभाओं की रिपोर्ट संकलित करके और संगठन की समीक्षा करके दीपावली के बाद बड़े स्तर पर संगठनात्मक अभियान की शुरूआत करेंगे। दिल्ली के लोगों की चाहत भी है कि एमसीडी में इस बार बदलाव हो। इसके लिए अपने संगठनात्मक ढांचे को और मजबूत करने के लिए पार्टी दीपावली के बाद एक बड़ा अभियान शुरू करेगी।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बरेली के बहेड़ी थाने में लेडी कांस्‍टेबल के चक्‍कर में पुलिस वालों में चलीं गोलियां, थानेदार समेत पांच पर गिरी गाज

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

लोनी नगर पालिका परिषद लोनी का विस्तार कर 11 गांव और उनकी कॉलोनियों को शामिल कर किया गया