सऊदी अरब की कोर्ट ने पत्रकार जमाल का कोशिश के मामले में पांच को सुनाई फांसी की सजा

दुबई: सऊदी अरब की एक कोर्ट ने पत्रकार जमाल खशोगी हत्या के मामले में पांच लोगों को मौत की सजा सुनाई है. सोमवार को सऊदी अरब के सरकारी अभियोजक ने जानकारी देते हुए बताया है कि इस मामले में पांच को सजा-ए-मौत दी गई है, जबकि तीन लोगों को कुल मिला कर 24 वर्ष की जेल की सजा सुनाई गई है.












उन्होंने बताया है कि इस प्रकरण में सऊदी क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान के सलाहकार सऊद अल-ख़तानी से भी सवाल जवाब किए गए थे, किन्तु उन पर किसी तरह को आरोप नहीं लगाए गए हैं. बता दें कि दो अक्तूबर 2018 को तुर्की के इस्तांबुल स्थित सऊदी वाणिज्यिक दूतावास में जमाल ख़ाशोज्जी का क़त्ल कर दिया गया था. किन्तु उनकी लाश नहीं मिली थी. तुर्की ने इल्जाम लगाया था कि सऊदी आला अधिकारियों के आदेश पर हत्या की गई थी। अंततरराष्ट्रीय स्तर पर भी इस हत्या की काफी आलोचना हुई थी. इस प्रकरण में सऊदी अरब से तुर्की ने 18 संदिग्धों को प्रत्यार्पित करने की बात कही थी. इनमें से 15 वो एजेंट थे जो हत्या को अंजाम देने सऊदी से तुर्की गए थे. हालांकि सऊदी अरब ने तुर्की की इस मांग को मानने से इंकार कर दिया था।


 













टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश

जिला गाजियाबाद के प्रसिद्ध वकील सुरेंद्र कुमार एडवोकेट ने महामहिम राष्ट्रपति एवं प्रधानमंत्री को देश में समता, समानता और स्वतंत्रता पर आधारित भारतवासियों के मूल अधिकारों और संवैधानिक अधिकारों को सुनिश्चित करने के लिए लिखा पत्र

ज़िला पंचायत सदस्य पद के उपचुनाव में वार्ड नंबर 16 से श्रीमती जसविंदर कौर की शानदार जीत