पीरो मुरशिद शाह सकलैन मियां हुज़ूर की नमाज़े ए जनाज़ा में लाखों बिरादराने इस्लाम ने की शिरकत,

 रिपोर्ट-मुस्तकीम मंसूरी 

दुनिया ए सुन्नियत के अज़ीम रूहानी पेशवा हज़रत शाह मुहम्मद सकलैन मियां हुज़ूर अपने मुरीदों को रोता हुआ छोड़ इस दुनिया को अलविदा कह गए।

सिलसिला ए क़ादिरिया, मुजद्दिदया, नक्शबंदिया के अज़ीम उल मर्तबत बुज़ुर्ग और विश्व प्रसिद्ध दरगाह शाह शराफ़त अली मियां के सज्जादानशीन पीरे तरीकत हज़रत शाह मुहम्मद सकलैन मियां हुज़ूर का 20 अक्तूबर 2023 बरोज़ जुमा शाम को अचानक तबियत बिगड़ जाने की वजह से करीब के एक निजी हॉस्पिटल में दौराने इलाज आपने आखिरी सांस ली और इस दुनिया ए फानी को हमेशा के अलविदा कह गए।
पीरो मुर्शिद शाह मुहम्मद सक़लैन मियां हुज़ूर के विसाल की खबर पूरी दुनिया में चंद लम्हों में फ़ैल गई, मियां हुज़ूर के मुरीदीन जो मियां हुज़ूर से बड़ी मुहब्बत और दीवानगी रखते हैं आपके विसाल की ख़बर सुनकर रोते बिलखते हुए आपके आस्ताने पर आते गए और आपके। दीदार से मुशर्रफ़ हुए।
दूर दराज़ के ज़ायरीन के आने में देरी और अकीदतमंदों के मुसलसल बंधे तांते की वजह से जमाज़ा मुबारक दो दिन रखा गया, इस दौरान दरगाह शरीफ के मेहमान खाने में सभी मुरीदों व चाहने वालों को मियां हुज़ूर का आखिरी दीदार कराया गया,  मुरीदीन कतार बा कतार मियां हुज़ूर के दीदार से फैज़याब होते रहे, दो दिन दरगाह शरीफ़ पर व आस-पास की सभी गलियां मुरीदों की तादाद से खचाखच भरी रही।
इस दौरान मियां हुज़ूर की ताज़ियत के लिए बहुत सी खानकाहों के सज्जादानशीन व उल्मा ए किराम खानकाह शरीफ़ पर पहुंचे और मियां हुज़ूर का आखिरी दीदार किया, जिनमें कलियर शरीफ़ के नायब सज्जादानशीन हज़रत यावर एजाज कुद्दूसी साबरी, बरेली ख़ानक़ाह नियाज़िया से हज़रत शब्बू मियां व दीगर खानवादगान, इसके अलावा खानकाह ए रज़विया से जनाब तौक़ीर मियां साहब, पीलीभीत शरीफ़ से, बहेड़ी वगैरह से सज्जादानशीन व उल्मा ए किराम इस दुख में शरीक होने आए और मियां हुज़ूर का आखिरी दीदार किया।  
मियां हुज़ूर के विसाल की खबर सुनकर बड़ी बड़ी दूर के मुरीदीन फौरन दरगाह शरीफ की तरफ कूच कर गए, हिंदुस्तान के सभी सूबों व ज़िलों से बड़ी तादाद में चाहने वाले आए  जिनमें महाराष्ट्र, गुजरात, मध्यप्रदेशf, राजिस्थान, उड़ीसा, तेलंगाना,पंजाब, उत्तराखंड, दिल्ली, बिहार, बंगाल इसके अलावा सभी शहरों व गांव कस्बों से  लाखों संख्या में अकीदतमंद इस दुख में फौरन शामिल होने आए।

इसके अलावा शहर के कई सम्मानित लोग व बहुत से सियासी गण दरगाह शरीफ पर पहुंचे और मियां हुज़ूर के आखिरी दीदार किए जिनमें सपा के इस्लाम साबिर, शहजिल इस्लाम, बदायूँ के सपा जिला अध्यक्ष आशीष यादव, सपा विधायक हिमांशु यादव, भाजपा मंत्री व शहर विधायक अरुण कुमार, भाजपा सांसद संतोष गंगवार व कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय राय व जिला अध्यक्ष अशफाक सकलैनी इस गम में शामिल हुए।

आज बतारीख़ 22 अक्तूबर मुताबिक 7 रबिउस्सानि बरोज़ इतवार पीरो मुरशिद हज़रत शाह मुहम्मद सकलैन मियां हुज़ूर की नमाज़े जनाज़ा सुबह 10 बजे इस्लामिया इंटर कॉलेज के मैदान में अदा कराई गई।

नमाज़े जनाज़ा मियां हुज़ूर के साहिबज़ादे हज़रत गाज़ी मियां सकलैनी ने पढ़ाई और दुआ हाफ़िज़ गुलाम गौस सकलैनी ने कराई। 

नमाज़े जनाज़ा में मियां हुज़ूर के मुरीदीन व चाहने वालों का एक बहुत बड़ा सैलाब उमड़ा, इस्लामिया कॉलेज का मैदान बरेली सबसे बड़ा मैदान माना जाता है लेकिन वो भी मियां हुज़ूर के दीवानों के आगे छोटा पड़ गया, इस्लामिया का मैदान पहली बार इस कदर भरा नजर आया जो पहली कभी नही देखा गाय, हर तरफ मियां हुज़ूर के चाहने वालों का सैलाब था, नमाज़े जनाज़ा में लाखों ब्रादराने इस्लाम शामिल हुए, जितने लोग ग्राउंड के अंदर थे उससे डबल लोग बाहर सड़कों पर थे।
नमाज़ के बाद वापस दरगाह शरीफ पर आए और इसके बाद ठीक 1 बजे आपको दादा मियां हुजूद हज़रत शाह मौलाना शराफ़त अली मियां के बिल्कुल पहलू में सुपुर्दे खाक किया गया।

अल्लाह पाक मियां हुज़ूर के तमाम मुरीदीन को इस बड़े दुख को सहने के तौफीक अता करे और सबको सब्रे ए जमील अता फरमाए और पीरो मुरशिद के फैजान से हमें खूब मालामाल फरमाए। आमीन।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उज़मा रशीद को अपना बेशकीमती वोट देकर भारी बहुमत से विजई बनाएं

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उजमा आदिल की हार की समीक्षा

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश