पीलीभीत - पूरनपुर सेहरामऊ क्षेत्र में मिट्टी खनन माफिया हावी प्रतिबंध के बावजूद भी नहीं मान रहे खनन माफिया*

*बेताब समाचार एक्सप्रेस के लिए पीलीभीत से शाहिद खान की रिपोर्ट*



थाना सेहरामऊ उत्तरी क्षेत्र में मिट्टी खनन माफिया हावी दिन हो या शाम ढलते ही खनन माफिया ट्रैक्टर ट्राली लेकर पहुंच जाते हैं। जिससे दिन रात खनन करते हैं। इससे पहले भी कई बार अधिकारियों ने खनन पर प्रतिबंध लगाया गया। लेकिन प्रतिबंध के बावजूद भी खनन माफिया अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहे हैं ।आए दिन लगातार मिट्टी खनन किया जा रहा है। थाना सेहरामऊ उत्तरी के गोरा, रायपुर, क्षेत्र में मिट्टी खनन करते नजर आ रहे हैं ।मिट्टी खनन करने से माफिया अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहे हैं। कई दिनों से मिट्टी खनन माफिया सुर्खियों में हैं  । आए दिन हजारों ट्रैक्टर ट्राली मिट्टी खनन किया जाता है। जिससे उच्च अधिकारी के संज्ञान में होने के बावजूद भी कोई भी कार्यवाही नहीं की जाती है। आए दिन पर दिन मिट्टी खनन करते  रहते हैं। जांच पड़ताल के फाइलों को कोने में दबा दिया जाता है। लेकिन अधिकारि कर्मचारी पर कोई भी ध्यान नहीं देते हैं ।लगातार थाना सेहराऊउत्तरी क्षेत्र मिट्टी खनन में माफिया हावी रहते हैं। दिन हो या रात मिट्टी खनन माफिया ट्रैक्टर ट्राली मिट्टी भरकर सड़कों पर दौड़ते है।  गेहूं की कटाई होने के बाद खनन माफिया धरती चीर कर मिट्टी खनन कर  ऊंचे दामों में बिक्री करते हैं।   अधिकारियों को इसकी भनक तक नहीं खनन माफिया लगातार मिट्टी खनन करने से बाज नहीं आते हैं। देखना ये है कि अधिकारी संज्ञान में लेकर किस तरह की खनन माफियाओं पर कार्रवाई की जाती है

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश

विधायक अताउर्रहमान के भाई नसीम उर्रहमान हज सफर पर रवाना

जिला गाजियाबाद के प्रसिद्ध वकील सुरेंद्र कुमार एडवोकेट ने महामहिम राष्ट्रपति एवं प्रधानमंत्री को देश में समता, समानता और स्वतंत्रता पर आधारित भारतवासियों के मूल अधिकारों और संवैधानिक अधिकारों को सुनिश्चित करने के लिए लिखा पत्र