पीलीभीत शमशान व ग्राम समाज चकरोड की जगह पर अवैध कब्जा हटवाने के लिए हिंदू जागरण मंच के जिला अध्यक्ष पंकज शर्मा ने सिटी मजिस्ट्रेट के नाम एक ज्ञापन दिया*

बेताब समाचार एक्सप्रेस के लिए पीलीभीत से शाहिद खान की रिपोर्ट*

पीलीभीत बनकटी रोड पर पुष्प इंस्टीट्यूट के पास एक नई कॉलोनी बनाई जा रही है, जिसका नाम राम विहार कॉलोनी है, उस कॉलोनी के आस पास के गांव वालों का आरोप है कि राम विहार कॉलोनी के मालिक ने गांव के शमशान घाट की जमीन पर कब्जा कर प्लाटिंग कर दी है, और खेतों में जाने वाले चकरोड रातों-रात बंद कर दिया है l जब गांव वालों ने इसका विरोध किया तो कॉलोनी के कर्मचारियों ने धमकी देते हुए





कॉलोनी से बाहर निकाल दिया, गांव वालों का कहना है कि यह शमशान घाट 50 वर्षों से हमारे गांव के मृतक लोगों के शव दाह संस्कार होता, और यह जगह सरकारी दस्तावेजों में दर्ज हैl यह कॉलोनी इसलिए बनाई जा रही है कि शमशान व ग्राम समाज की सरकारी जमीन जो बिगो में खाली पड़ी है उसको प्लाट के रूप में बदलकर मोटी रकम बनाई जा सके l दिनांक 6 जुलाई 2020 को भी इस कॉलोनी के मालिक ने अपने लोगों के साथ मिलकर इस जगह पर कब्जा करने की कोशिश की थी, लेकिन गांव वालों की शिकायत पर कुछ अधिकारी गणों ने सख्त कार्रवाई करते हुए जेसीबी से जगह मुक्त कराई थी, और सरकारी बोर्ड लगाकर इस कॉलोनी के मालिक को सख्त चेतावनी दी थी l लेकिन अब मौके का फायदा उठाते हुए अधिकारियों से मिलीभगत कर रातो रात बोर्ड हटाकर जमीन पर कब्जे की नीयत से प्लाटिंग शुरू कर दी l इस प्रकरण की जानकारी हिंदू जागरण मंच के जिला अध्यक्ष पंकज शर्मा को जैसे ही मिली उन्होंने तत्काल 

एस.डी.एम सदर से मिल उन्हें पूरे प्रकरण से अवगत कराया और अवैध प्लाटिंग को रुकवाने की बात कही l 

एस.डी.एम सदर देवेंद्र सिंह ने बताया कि शिकायत मिलने पर तुरंत नायब तहसीलदार को जांच सौंप दी गई हैl देखना यह है कि इस कार्य में तहसील विभाग के कौन-कौन अधिकारी दोषी पाए जाते हैं और किन-किन लोगों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई होती है l

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उज़मा रशीद को अपना बेशकीमती वोट देकर भारी बहुमत से विजई बनाएं

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उजमा आदिल की हार की समीक्षा

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश