राष्ट्रीय अल्पसंख्यक परिषद के पदाधिकारियों ने बाकरगंज की बदहाली के लिए क्षेत्रीय पार्षदों के साथ ही नगर निगम को जिम्मेदार बताया|

 बेताब समाचार एक्सप्रेस के लिए बरेली से मुस्तकीम मंसूरी की रिपोर्ट, 


 बरेली,राष्ट्रीय अल्पसंख्यक परिषद बरेली के पदाधिकारियों ने आज मोहल्ला बाकरगंज का दौरा कर वहां के स्थानीय निवासियों से मुलाकात के साथ ही बाकरगंज की दुर्दशा के लिए नगर निगम के अधिकारियों को सवालों के घेरे में खड़े करते हुए कहा आखिर बाकरगंज को अछूता क्यों समझतें हैं?


  राष्ट्रीय अल्पसंख्यक परिषद के सभी पदाधिकारीगण मोहल्ला बाकरगंज गये। और वहाँ के लोगों से जनसम्पर्क किया तो लोगों ने अपनी -अपनी समस्याएँ रखी। तभी बाकरगंज की कुछ महिलाऐं शबाना w/o अनीस मियां, फरजाना w/oअब्दुल क़य्यूम, रेशमा w/oकल्लू, रेशमा w/oछोटे , शबनमw /oजावेद,तसलीमनw/oलश्करी बख्श, ज़ायरा w/oउस्मान,

रफ़ीक़नw /oमजीद, ख़ुशी w/oआफताब ,ने अपनी गलियाँ दिखायीं और परेशानी सुनाने लगीं कि हमारे इलाके में विकास नही हो रहा है। जहां बरेली स्मार्ट सिटी में शामिल हैऔर लगातार विकास कार्य हो रहें हैं लेकिन हमारे बाकरगंज के इलाके में पपीते वाली गली बहुत ही खराब है पुरुष,महिलायें,बच्चे जब गली से गुज़रते है तो ठोकर लगकर गिर जाते हैं और हाथ-पैर फ्रेक्चर हो जाते हैं हम लोगों की मांग है कि सड़क जल्द से जल्द बनवाई जाये। जिससे दोबारा किसी व्यक्ति को चोट न लगे। 
राष्ट्रीय अल्पसंख्यक परिषद की ज़िला अध्यक्ष महिला प्रकोष्ठ सादिया जी ने महिलाओं की बात सुनकर,महिलाओं को भरोसा दिलाया कि हम सब पदाधिकारीगण नगर निगम जाकर मेयर जी से बाकरगंज के इलाके का विकास कार्य कराये जाने की बात करेंगें। और जल्द पपीते वाली गली की सड़क बनवाने का काम करेंगें ।महानगर अध्यक्ष मुनीर अहमद जी,शहर अध्यक्ष  समीर अहमद जी, समाजसेविका शाहीन रज़ा खा़नम भी मौजूद रहीं ।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश

विधायक अताउर्रहमान के भाई नसीम उर्रहमान हज सफर पर रवाना

जिला गाजियाबाद के प्रसिद्ध वकील सुरेंद्र कुमार एडवोकेट ने महामहिम राष्ट्रपति एवं प्रधानमंत्री को देश में समता, समानता और स्वतंत्रता पर आधारित भारतवासियों के मूल अधिकारों और संवैधानिक अधिकारों को सुनिश्चित करने के लिए लिखा पत्र