एहतेशाम और वसीम ने आधी रात में हिन्दू बहन की बचाई जान

अल फ़लाह फ्रण्ट (ब्लड डोनेट ग्रुप) एक बार फिर बना इंसानियत की मिसाल

आज़मगढ़,19 जून (प्रेस नोट) आज़मगढ़ के ग्राम सिरसाल की कुसुम को 15 जून रात 11 बजे O पॉज़िटिव ब्लड की आवश्यकता थी तो कुसुम के परिवार के मुन्ना ने अल फ़लाह फ्रण्ट ( ब्लड डोनेट ग्रुप) से संपर्क किया।उसके बाद आधी रात को अल फ़लाह फ्रण्ट ( ब्लड डोनेट ग्रुप) के एहतेशाम,वसीम आज़मगढ़ रमा हॉस्पिटल पहुंचे


और अपनी हिन्दू बहन कुसुम को अपना क़ीमती ब्लड डोनेट किया।ब्लड मिलने के बाद मुन्ना ने डोनर एहतेशाम डोनर वसीम समेत ज़ाकिर हुसैन और पूरी अल्फलाह फ्रण्ट की टीम का शुक्रिया अदा किया।मुन्ना कोटिला बाजार में इलेक्ट्रिक की दुकान चलाते हैं।उन्होंने अल फ़लाह फ्रण्ट (ब्लड डोनेट ग्रुप) से जुड़ने का एलान किया।इस केस में अल फ़लाह फ्रण्ट(ब्लड डोनेट ग्रुप) के संस्थापक ज़ाकिर हुसैन,ऐसाम खान,कामरान संजरी,आदिल शेख,माज़ संजरी,आमिर आज़मी,महफूज़ आज़मी,अबदुलमालिक,मुहम्मद इस्माईल,अब्दुलक़ादिर,मोहम्मद माजिद,मुहम्मद ज़ैद समेत एक बड़ी तादाद में अल फ़लाह फ्रण्ट के सदस्यों ने अहम रोल अदा किया।डोनर एहतेशाम और वसीम के साथ हुरैरा,अरसलान और बिसमिल्लाह आदि मौजूद रहे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

सिविल डिफेंस में काम करने वाली राबिया की हत्या करके हत्यारा हरियाणा से दिल्ली के कालंदिकुंज थाने में आकर क्यों करता है सिरेंडर, खड़े हो रहे हैं कुछ सवाल?

लापता दो आदिवासी युवकों की संदिग्ध मौत की तुरंत जांच की मांग