बरेली के इस्लामिया ग्राउंड पर लाखों की संख्या में आशिक ए रसूल अकीदत मोहब्बत के जज्बे़ के साथ आईएमसी प्रमुख मौलाना तौकीर रज़ा खांन के आवाहन पर उमड़ पड़े नुपूर शर्मा की गिरफ्तारी की मांग को लेकर,

बेताब समाचार एक्सप्रेस के लिए बरेली से मुस्तकीम मंसूरी की रिपोर्ट, 

सुन्नी मुस्लिम समुदाय की आस्था के केंद्र बरेली जहां पूरी दुनिया के अनुयाईयों की आस्था जुड़ी है, आईएमसी प्रमुख के आवाहन पर पर (यौमे दुरूद) में पहुंचे लाखों मुसलमान, 

मुसलमानों की धार्मिक भावनाओं को आहत करने वाले आज भी आजाद हैं, वही संवैधानिक आधार पर विरोध करने वाले जेलों में डाले जा रहे हैं,आखिर क्यों? तौकीर रज़ा

बरेली, भाजपा की पूर्व प्रवक्ता नुपूर शर्मा द्वारा पैगंबर हज़रत मोहम्मद साहब पर अभद्र टिप्पणी के बाद देश के मुसलमानों मैं भारी ग़ुस्सा है, पूरे देश में नूपुर शर्मा की गिरफ्तारी की मांग को लेकर जगह जगह प्रदर्शन हो रहे हैं| नूपुर शर्मा की गिरफ्तारी की मांग को लेकर आईएमसी प्रमुख मौलाना तौकीर रजा खान  ने 10 जून को बरेली के इस्लामिया ग्राउंड पर प्रदर्शन का एलान किया था|


वही 10 जून को गंगा स्नान का पर्व होने पर आईएमसी प्रमुख ने शहर की शांति व्यवस्था और प्रशासन की परेशानी हो देखते हुए 10 जून के ऐलान की तारीख आगे बढ़ाकर 17 जून को प्रदर्शन का ऐलान कर दिया| 17 जून जुमे का दिन होने की वजह से जिला प्रशासन ने आईएमसी प्रमुख से प्रोग्राम आगे बढ़ाने का आग्रह किया| जिस पर आईएमसी प्रमुख तौकीर रजा खान ने 19 जून  इतवार को प्रदर्शन की जगह(यौमे दुरूद) की प्रशासन से परमिशन देने का आग्रह किया|
जिसको प्रशासन ने स्वीकार करते हुए,यौमे दुरूद की 2 घंटे की सशर्त अनुमति देकर  प्रशासन ने अपनी व्यवस्थाएं दुरुस्त करते हुए पुलिस, पीएसी, आरपीएफ, के ज़रिए शहर को छावनी में तब्दील कर दिया| परंतु लाखों आशिक़ ए रसूल अक़ीदत मोहब्बत के जज़्बे के साथ यौमे दुरूद में शामिल होकर गुस्ताख ए रसूल नूपुर शर्मा की गिरफ्तारी की मांग को लेकर इस्लामिया ग्राउंड में उमड़ पड़े|
आईएमसी प्रमुख मौलाना तौकीर रजा़ खांन का आवाहन और नूपुर शर्मा की गिरफ्तारी न होने का ग़ुस्सा लाखों के जन सैलाब में तब्दील होते देख जिला प्रशासन की चिंताएं बढ़ने लगी| ऐसे में आईएमसी प्रमुख मौलाना तौकीर रजा़ खांन ने(यौमे दुरूद)में शामिल लाखों लोगों से कहा कि पैगंबर हजरत मोहम्मद साहब दुनिया में शांति के दूत बनकर आए और उन्होंने मोहब्बत और शांति का पैगाम दिया|

आज उसी पर अमल करते हुए आप सब आशिक ए रसूल जिस अक़ीदत मुहब्बत के जज़्बे के साथ यहाँ आये हैं| उसी अक़ीदत मुहब्बत के  जज़्बे के साथ वापस भी जाएं| यौमे दुरूद के पाठ के बाद नुपूर शर्मा की गिरफ्तारी की मांग के साथ ही मुल्क की तरक्की, खुशहाली,नफ़रतों के ख़ात्मे और हुक्मरानों की अक़्ल ए सलीम की दुआ की गई|

आज के यौमे दुरूद कार्यक्रम में डॉक्टर नफीस खान, नदीम खान, मुनीर इदरीसी, अफजाल बेग, आसिफ मियां, सैफ मियां, फरहत खान, मखदूम बेग, सलीम खान, कामरान अहमद, रुखसार रजा खां, गोलू मिर्जा, फरमान रजा़ खांन, वामिक मियां,सिराज रजा़ खांन, नुसरत रजा़ खांन, आदि लोग मौजूद रहे|

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

सिविल डिफेंस में काम करने वाली राबिया की हत्या करके हत्यारा हरियाणा से दिल्ली के कालंदिकुंज थाने में आकर क्यों करता है सिरेंडर, खड़े हो रहे हैं कुछ सवाल?

लापता दो आदिवासी युवकों की संदिग्ध मौत की तुरंत जांच की मांग