थाना बिथरी चैनपुर के गांव उमरिया में ससुर ने बहू को जान से मारने की नियत से बहू का गला दबाया बहू की हालत गंभीर।

महिलाओं पर हो रहे उत्पीड़न रूकने का नाम नहीं ले रहे हैं।

महिला उत्पीडन का ताजा मामला यूपी के बरेली के थाना बिथरी चैनपुर से सामने आया है।

ग्राम सैदपुर खजुरिया की रहने वाली महिला फातिमा जिला अस्पताल में जिंदगी और मौत से जूझ रही हैं।


दरअसल सैदपुर खजुरिया के रहने वाला मुर्तजा खान ने लगभग दो साल पहले फातिमा को अपने प्रेम जाल में फंसाकर शादी रचा ली थी। कुछ समय बाद ही मुर्तजा खान का प्रेम अपनी प्रेमिका पत्नी फातिमा से खत्म हो गया। और प्रेमी पति मुर्तजा खान ने अपने पिता मुबीन खान,भाई मुसर्रत खान,मोबीन खान, मां हसीना,बहन तैयबा, आदि के साथ मिलकर। फातिमा को कमरे में बंद कर के मारते पिटते रहे दो दो दिन तक ससुराल वाले फातिमा को खाना नहीं देते थे। दो दिन पहले भी फातिमा के ससुर मुबीन खान ने जान से मारने की नियत से फातिमा का गला घोंट ने की कोशिश की थी । जिससे फातिमा गम्भीर रूप से घायल हो गई। क्षेत्र के कुछ भले लोगों की मदद से फातिमा को ससुराल से निकाला और जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया ।जहां पर फातिमा का उपचार हो रहा है । वहीं घटना की लिखित शिकायत थाना पुलिस से की गई मगर पुलिस ने मामले को गम्भीरता से ना लेते हुए आज दोपहर तक मुकदमा दर्ज नहीं किया था। आला अधिकारियों के पास पीड़िता फातिमा के भाई फरियाद की तो कहीं जाकर मामले में मुकदमा दर्ज हो सका| यहां गौरतलब है की पूर्व प्रधान गुड्डू का स्थानीय पुलिस में अच्छा रसूख होने के कारण पुलिस कार्रवाई में लगातार हीला हवाली करती रही। जिसके कारण पीड़िता को अभी तक न्याय नहीं मिल सका । वहीं पीड़िता के ससुराल जन खुलेआम पीड़िता को धमकियां दे रहे हैं । क्योंकि पूर्व प्रधान का उन्हें खुला संरक्षण प्राप्त है।

बरेली से मुस्तकीम मजबूरी की रिपोर्ट

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जिला गाजियाबाद के प्रसिद्ध वकील सुरेंद्र कुमार एडवोकेट ने महामहिम राष्ट्रपति एवं प्रधानमंत्री को देश में समता, समानता और स्वतंत्रता पर आधारित भारतवासियों के मूल अधिकारों और संवैधानिक अधिकारों को सुनिश्चित करने के लिए लिखा पत्र

ज़िला पंचायत सदस्य पद के उपचुनाव में वार्ड नंबर 16 से श्रीमती जसविंदर कौर की शानदार जीत

पीलीभीत सदर तहसील में दस्तावेज लेखक की गैर मौजूदगी में उसका सामान फेंका, इस गुंडागर्दी के खिलाफ न्याय के लिए कातिब थाना कोतवाली पहुंचा*