पुलिस अधीक्षक पीलीभीत दिनेश कुमार पी के कुशल नेतृत्व में तराई पेट्रोल पंप ग्राम पतरसिया के कर्मचारियों के साथ हुई डेढ़ लाख की लूट का तीन दिन में पुलिस ने किया खुलासा,

 बेताब समाचार एक्सप्रेस के लिए पीलीभीत से शाहिद खान की रिपोर्ट, 

लूट की घटना को अंजाम देने वाले अपराधियों को तीन दिन में पकड़ कर लूट का खुलासा करने पर जिले के पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार पी एवं पुलिस विभाग की हर तरफ हो रही है प्रशंसा

जनपद पीलीभीत में होली के त्यौहार के बाद 21.03. 22 को थाना बरखेड़ा क्षेत्र में तराई पेट्रोल पंप ग्राम पतरसिया के कर्मचारी गण कैश जमा करने बरखेड़ा जा रहे थे तभी ग्राम कुंवरपुर के पास बीसलपुर रोड पर मछली तालाब के पास कुछ अज्ञात लोगों द्वारा अपनी मोटरसाइकिल पेट्रोल पंप कर्मचारियों के मोटरसाइकिल के बराबर में लगाकर कर्मचारियों की आंखों में मिर्ची पाउडर फेंक दिया जिससे पेट्रोल पंप के कर्मचारी गिर गए जिनसे 165850 रुपए गोली मारकर लूट लिए गए।





इस घटना से जिले में अफरा-तफरी मच गई यह मामला पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार पी तक पहुंच गया इस घटना के तुरंत बाद जिला पुलिस अधीक्षक अपने अधिकारियों के साथ मौके पर पहुंच गए व इस घटना के खुलासे के लिए तुरंत 3 टीम बनाकर घटना का खुलासा करने के निर्देश दिए गए उक्त घटना के संबंध में दिनांक 24.03.22 को प्रभारी निरीक्षक केके वर्मा मैं फोर्स के क्षेत्र में भ्रमण सील होकर वाहन चेकिंग में लगे हुए थे उसी समय मुखबिर की सूचना पर नवाबगंज रोड निर्माणाधीन पेट्रोल पंप से आगे ग्राम बहादुर हुक्मी को जाने वाले रास्ते पर उपरोक्त घटना को अंजाम देने वाले अभियुक्त अमित और मुन्नू प्रधान पुत्र दीनदयाल, मुनेंद्र सिंह पुत्र विजयपाल ,सूरजपाल पुत्र चिंताराम,पूरन लाल पुत्र गया प्रसाद निवासी गण ग्राम कटक वारा थाना बरखेड़ा जनपद पीलीभीत व विमल पुत्र श्री पाल निवासी कौवा खेड़ा थाना भुता जनपद बरेली को पकड़ने के समय दबिश के दौरान अभियुक्त गढ़ द्वारा पुलिस पार्टी पर जान से मारने की नियत से फायर किया गया जिसमें पुलिस पार्टी की मुठभेड़ के दौरान लूट की घटना में प्रयुक्त मोटरसाइकिल यूपी 25 bw9161 तथा डस्टर कार संख्या यूपी 32 जी सी 5005 व एक आदत तमंचा 12 बोर व उपरोक्त नोट से संबंधित ₹55000 नकदी बरामद की व मुठभेड़ में अमित और मुन्नू प्रधान पुत्र दीनदयाल के बाएं पैर में गोली लगने के कारण घायल हो गया तथा मुनेंद्र सिंह, सूरजपाल,पूरनलाल को गिरफ्तार कर लिया गया इधर पुलिस अधीक्षक द्वारा फरार विमल की गिरफ्तारी पर ₹25000 का इनाम घोषित किया है इस लूट की घटना को अंजाम देने वाले अपराधियों को सिर्फ 3 दिन में ही पकड़ कर जिले के पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार पी व पुलिस विभाग की हर तरफ प्रशंसा हो रही है


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

सिविल डिफेंस में काम करने वाली राबिया की हत्या करके हत्यारा हरियाणा से दिल्ली के कालंदिकुंज थाने में आकर क्यों करता है सिरेंडर, खड़े हो रहे हैं कुछ सवाल?

लापता दो आदिवासी युवकों की संदिग्ध मौत की तुरंत जांच की मांग