भारत में अंबेडकर के बारे में इसलिए नहीं पढ़ाया जाता हैं क्योंकि लोग कानून सीख जाएंगे तो हमारी गुलामी कौंन करेगा-गादरे*

  भारत एक ऐसा देश है जहां आस्था की बात करें तो हैलीकॉप्टर से फूल बरसाए जाते है और शिक्षा की बात करें तो सिर पे लाठी बरसाई जाती है।

बहुजन मुक्ति पार्टी के प्रदेश मीडिया प्रभारी आर डी गादरे ने 6 जनवरी को होने वाली राष्ट्रीय परिवर्तन मोर्चा की रैली को सफल बनाने के लिए बहुजन मुक्ति पार्टी के कार्यकर्ताओं के साथ मीटिंग की और लोगों में जानकारी दें कि यदि हमें अपने संविधान और देश को बचाना है तो 6 जनवरी 2021 को मेरठ मंडल स्तरीय रैली को सफल बनाना होगा जिसे अपने हक अधिकार चाहिए तो वह रेडी रहे अन्यथा दूध नाले में और मूत प्याले में इसीलिए  मेरा देश उजाले में नहीं जा रहा है। आगे जानकारी देते हुए कहा कि नालंदा विश्वविद्यालय को खत्म करने वाले, आज JNU को खत्म कर रहें हैं। चाल वही बस सोच नई!

मेरठ मंडल उपाध्यक्ष मदन पाल गौतम ने कहा कि SC/ST/OBC के लोग राम मंदिर ट्रस्ट में पुजारी के लिये आवेदन करके देखे, हिन्दू होने का भ्रम दूर हो जायेगा! आर डी गादरे ने कहा कि भारत में अंबेडकर के बारे में इसलिए नहीं पढ़ाया जाता हैं क्योंकि लोग कानून सीख जाएंगे तो हमारी गुलामी कौंन करेगा? गंगा हमारे लिए पवित्र है, गंगाजल सिर्फ हमारे लिए पवित्र है! फिर भी मैंने बनारस में बिसलेरी की बोतल बिकते देखी है!

अंधविश्वास खतरे में हैं, इसलिए शिक्षा को ओर महँगा किया जा रहा है, ताकि अक्ल के बैलो को अंधविश्वास के हल मे जोता जा सके!

कुछ खुदगर्ज़ लोग समाज को गुमराह करने पर लगे हुए है। शिक्षा,रोजगार के लिए आन्दोलन करना पड़े और मंदिरो के लिए बिना मांगे धन बरसे तो, देश विश्वगुरू नही पाखण्डगुरू ही बन सकता है।

एक बात ओर अगर न्यूटन भारत में पैदा होता, तो ऊपर से गिरे सेब को दैवीय फल मानकर अपनी #बीवी को खिला देता और वो गर्भवती हो जाती नियम वगैरह नही बनते ओर न नोबल मिलता बस रोजगार शुरू हो जाता। संविधान जैसे ग्रन्थ को पढोगे तो हक और अधिकार मांगोगे और अगर धार्मिक ग्रंथ पढोगे तो पत्थर की मूर्ति के सामने केवल भीख मांगोगे तय आपको करना है कि आप किस दिशा में अपना प्रयास करते हो बाकी आपके ऊपर। देश के लोगों का मान सम्मान स्वाभिमान छीनने वाले दुश्मनों का सत्यानाश होगा। जब शेर जागेगा तो लुटेरा गीदड़ दुम दबाकर भागेगा।

अंधविश्वास भगाओ आत्मविश्वास जगाओ सवेरा और उजाला तब नहीं होता जब सूर्योदय होता है, उसके लिए आंखें भी खोलनी पडती है। बैठक मे एडवोकेट राम अवतार रोहताश कुमार बौद्ध मौलाना शाहनवाज मोहम्मद खुर्शीद आलम मदनलाल गौतम विजय कश्यप जितेंद्र कुमार सिद्धार्थ महराज अलवी सेवा चरण देवराज सिह अमजद अली प्रसन्नजीत सिह राजेन्द्र कुमार राहुल परमजीत सिंह यादव आदि ने रैली.को सफल बनाने के लिए तैयार की बात रखी।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बरेली के बहेड़ी थाने में लेडी कांस्‍टेबल के चक्‍कर में पुलिस वालों में चलीं गोलियां, थानेदार समेत पांच पर गिरी गाज

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

लोनी नगर पालिका परिषद लोनी का विस्तार कर 11 गांव और उनकी कॉलोनियों को शामिल कर किया गया