ऑल इंडिया जमीअतुल मन्सूर के राष्ट्रीय अध्यक्ष बब्बू मंसूरी का भाजपा में जाना मंसूरी समाज के साथ एक बड़ा विश्वासघात है, डॉक्टर फाजिल

 बेताब समाचार एक्सप्रेस के लिए बरेली से मुस्तकीम मंसूरी की रिपोर्ट

मंसूरी समाज हमेशा संप्रदायिक ताकतों के खिलाफ धर्मनिरपेक्ष ताकतो के साथ खड़ा रहा है, 

बरेली 123 बिथरी विधानसभा क्षेत्र से आवेदन करता, आला हजरत सर्जिकल एंड ट्रामा सेंटर मल्टी स्पेशलिटी अस्पताल के डायरेक्टर सपा नेता डॉक्टर मोहम्मद फाजिल मंसूरी ने आज पत्रकारों से वार्ता करते हुए कहा की गत दिवस अखबार के माध्यम से जानकारी मिली की अमरोहा निवासी हाजी महमूद हसन बब्बू मंसूरी ने मंसूरी समाज के राष्ट्रीय अध्यक्ष की हैसियत से भारतीय जनता पार्टी की  सदस्यता ग्रहण की है, इस खबर को लेकर मंसूरी समाज के लोगों में आक्रोश व्याप्त है

सपा नेता 123 बिथरी विधानसभा क्षेत्र से आवेदन करता डॉक्टर मोहम्मद फाजिल मंसूरी ने पत्रकारों को बताया की मंसूरी समाज के राष्ट्रीय अध्यक्ष बब्बू मंसूरी नहीं है, उन्होंने कहा कुछ लोग मंसूरी समाज को बदनाम करने की की ग़रज़ से इस तरह का कार्य कर रहे हैं, जो समाज के हित में नहीं है,  डॉक्टर मोहम्मद फाजिल मंसूरी ने कहा मंसूरी समाज हमेशा सेकुलर समाज रहा है, और मंसूरी समाज ने हमेशा धर्मनिरपेक्ष लोगों का साथ दिया है, मंसूरी समाज हमेशा सांप्रदायिक ताकतों से दूर रहा है, और इस देश के निर्माण में मंसूरी समाज का बहुत बड़ा योगदान रहा है, उन्होंने कहा अट्ठारह सौ सत्तावन की क्रांति से लेकर 1947 तक मंसूरी समाज के लोगों ने अपने प्राणों की आहुति इस देश के लिए दी है, मंसूरी समाज का किरदार हमेशा साफ सुथरा रहा है, डॉक्टर मोहम्मद फाजिल ने कहा कुछ स्वार्थी किस्म के लोग  अपने निजी स्वार्थ के लिए भाजपा में जा सकते हैं,मंसूरी समाज के सेकुलर सोच के लोग भाजपा में कभी नहीं जाएंगे, डॉक्टर मोहम्मद फाजिल मंसूरी ने कहा आज उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी की लहर चल रही है, सभी मंसूरी समाज के लोग एकजुट होकर उत्तर प्रदेश में भाजपा को सत्ता से बाहर करने का संकल्प लेकर प्रदेश में सेकुलर सरकार बनाना चाहते हैं, परंतु कुछ लोगों के अपने निजी स्वार्थ होते हैं जिस को पूरा करने के लिए वह लोग किसी के भी साथ जा सकते हैं, ऐसे लोगों का मंसूरी समाज कभी साथ नहीं देता है, और ना ही कभी साथ देगा, आपको बताते चलें डॉक्टर मोहम्मद फाजिल मंसूरी बरेली मंडल की उभरती हुई एक ऐसी शख्सियत के मालिक हैं, जिनके पीछे मंसूरी समाज एकजुटता से खड़ा हुआ है, आज बरेली ही नहीं बरेली मंडल के 27 विधानसभा क्षेत्रों में डॉक्टर फाजिल किसी परिचय के मोहताज नहीं है, उनका समाज उनके साथ हैं, और वह सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव के साथ मिशन 2022 में सपा सरकार बनवाने के लिए अपने समाज के लोगों को रात दिन संगठित करने का कार्य कर रहे हैं, इस संबंध में डॉक्टर मोहम्मद फाज़िल मंसूरी ने संवाददाताओं से बात करते हुए बताया कि देश में लगभग 30 से 40 संगठन मंसूरी समाज को संगठित करने का कार्य कर रहे हैं और उत्तर प्रदेश में चार संगठन सक्रिय रुप से कार्य कर रहे हैं परंतु कोई भी संगठन भाजपा के साथ नहीं जा सकता बब्बू मंसूरी का व्यक्तिगत फैसला हो सकता है जिसे समाज स्वीकार नहीं करेगा उन्होंने कहा हो सकता है बब्बू मंसूरी पर कोई राजनीतिक दबाव हो या कोई उनका राजनीतिक स्वार्थ हो या फिर  उनके संगठन में पद को लेकर विवाद हो जिससे नाराज होकर उन्होंने बीजेपी में शामिल होने का फैसला लिया है, लेकिन उनके इस फैसले से समाज उनके साथ खड़ा नहीं होगा चंद स्वार्थी लोग अपना स्वार्थ पूरा करने के लिए उनके साथ तो जा सकते हैं लेकिन मंसूरी समाज बब्बू मंसूरी के इस फैसले की कड़ी निंदा करता है और इसका विरोध करेगा डॉक्टर मोहम्मद फाजिल मंसूरी ने कहा संगठन का मुखिया समाज सुधारक होता है और उसका कार्य अपने समाज को सही दिशा में ले जाकर समाज को राजनीतिक तौर पर और सामाजिक तौर पर मजबूत करना होता है परंतु बब्बू मंसूरी के फैसले से समाज के लोगों को पीड़ा पहुंची है और कहीं ना कहीं समाज के सम्मान पर लोग उंगली उठाने को मजबूर हो गए हैं डॉक्टर फाजिल ने कहा बिना शर्त बब्बू मंसूरी का बीजेपी में शामिल होना अपने आप में कई सवाल खड़े करता है उन्होंने मंसूरी समाज के सभी लोगों से अपील करते हुए कहा के 2022 के चुनाव में संप्रदायिक ताकतों को हराने के लिए सभी मंसूरी समाज के लोगों को एक ताकत की शक्ल में संगठित होकर अपने वोट का इस्तेमाल करना होगा यही समाज हित में होगा यही देश हित में होगा

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बरेली के बहेड़ी थाने में लेडी कांस्‍टेबल के चक्‍कर में पुलिस वालों में चलीं गोलियां, थानेदार समेत पांच पर गिरी गाज

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

लोनी नगर पालिका परिषद लोनी का विस्तार कर 11 गांव और उनकी कॉलोनियों को शामिल कर किया गया