*अपना दल कि मा०-अनुप्रिया पटेल भाभी जी को बहुजन हसरत पार्टी का खुला पत्र*

*सेवा मे*

         *माननीया अनुप्रिया भाभी जी साहिबा व भाईजान श्री आशीष सिंह पटेल साहब ....जय भीम जय हसरत मोहानी*


*विषय:--कलाकार जाति-पेशेवर जाति वाले लोगो को यानि OBC समाज के लोगो को SC ST भाईयों कि तरह "सेवा और खिदमत" के नाम पर राजनैतिक-आरक्षण लोकसभा आदि सभी चारों सदनो में दिलवाने के लिए U.P-2022 के विधान सभा चुनाव में गठबंधन करने के लिए सार्थक पहल हेतु समर्थन-नामा*

*(1)••माननीया अनुप्रिया भाभी जी साहिबा व भाईजान श्री. आशीष सिंह पटेल साहब••जैसे कि देश-दुनियाँ को मालूम है कि दलित समाज भीमवादी दलित शेरनी बहन मायावती जी को अपना मसीहा मानता है अब तो सर्व समाज भी बहन जी को मसीहा मानने पर बाध्य है तथा जैसे भीमवादी क्षत्रिय माननीय श्री राजनाथ सिंह साहब में भी देश के महान पूर्व प्रधानमंत्री भीमवादी क्षत्रिय वी.पी. सिंह साहब जी कि छबि 101% झलकती व दिखाई देती है:--ठीक वैसे ही बहुजन हसरत पार्टी BHP को आप जैसी मसीहा जिसे भारत देश के हर नागरिक "कलाकार जाति पेशेवर जाति" वाले लोग अपने इस मसीहा को माननीया अनुप्रिया भाभी जी साहिबा के नाम से जानते व पहचानते है आप भी "कलाकार जाति-पेशेवर जाति" वाले लोगो का यानि OBC समाज का मसीहा बनकर इन "बहुजन" जिन्हे "कामगार-श्रमिक-मजदूर" भी कहते है इनका उद्धार व भला आप करिये ये "कलाकार जाति पेशेवर जाति" सदियो से "सर्व-समाज" कि "सेवा और खिदमत" करती चली आ रही है जो हिन्दू-मुस्लिम दोनो समुदायो मे पायी जाती है जो सब के सब 96% OBC कि श्रेणी मे आती है जिनका पूरा आधा देश है* 


*(2)••महामानव डॉ. बाबासाहेब ने इन "कलाकार जाति-पेशेवर जाति" वाले लोगो को यानि OBC समाज के लोगो को SC ST भाईयों कि तरह सभी क्षेत्रो में राजनैतिक आरक्षण दिलवाने के लिए संविधान में आर्टिकल 340 का प्रावधान किया था तथा इसे लागू करवाने के लिए अपने मंत्री पद से इस्तीफा भी दे दिया था इसके उपरान्त बहुजन नायक मा० काँशीराम साहब ने भी मंडल आयोग लागू करो वरना कुर्सी खाली करो आंदोलन चलाकर महान पूर्व प्रधानमंत्री भीमवादी क्षत्रिय वी.पी. सिंह साहब के माध्यम से हम "कलाकार जाति-पेशेवर जाति" वाले यानि OBC लोगो के उद्धार के लिए मंडल आयोग लागू करवाया परंतु अफसोस 1947-आजादी से लेकर आज 2021 में भी किसी भी सरकार ने 3743-OBC-जनगणना न करवाकर हम MUSLIM SC ST OBC शूद्र "कलाकार जाति-पेशेवर जाति" वाले लोगो को यानि OBC समाज के लोगो को SC ST भाईयों कि तरह लोकसभा राज्यसभा विधान सभा विधान परिषद आदि में राजनैतिक आरक्षण से वंचित रखा है यदि बाबासाहेब और मान्यवर काँशीराम साहब के रास्ते पर चलने वाली बहन मायावती जी/BSP कि सरकार केंद्र में होती तो बेशक हमे कब का यह राजनैतिक आरक्षण आदि मिल गया होता किन्तु ये भीमवादी दलित शेरनी बहन मायावती केन्द्र कि सत्ता मे नही है तो क्या हुआ इस बहुजन हसरत पार्टी को कोई गम नही है परन्तु आप जैसी भीमवादी OBC शूरवीर शेरनी तो केंद्र कि सरकार मे प्रबल-ताकतवर बनकर सरकार मे मजबूती से सामिल तो है जो काम बहन मायावती जी न कर पा रही है उस काम को आप जैसी शूरवीर ताकतवर भीमवादी OBC शेरनी तो कर ही सकती है*

*(3)••इन "कला और पेशा" में बँटी वंचित हजारो कलाकार जाति पेशेवर जाति के लोगो को "सेवा और खिदमत" के नाम पर SC ST भाईयों कि तरह सभी "लोकसभा-राज्यसभा-विधान सभा-विधान परिषद" आदि में राजनैतिक आरक्षण दिलवाने के लिए बहुजन हसरत पार्टी ने पहले 3-3 संस्था के माध्यम से इलाहाबाद हाई कोर्ट तथा सुप्रीम कोर्ट में 7-7 P.I.L/SLP (C) दाखिल कि थी जिसे माननीय अदालतों ने सरकार को बिना कोई डायरेक्शन दिये "दिस इज ऐ नाँट मैन्टीनेबुल" करके ही खारिज कर दिया था इसलिए संस्था के पदाधिकारियों द्वारा इन "कलाकार जाति पेशेवर जाति" के लोगो के यानि OBC समाज के उद्धार के लिऐ SC ST भाईयों कि तरह "सेवा और खिदमत" के नाम "राजनैतिक-आरक्षण" दिलवाने के लिए बहुजन समाज पार्टी BSP के संस्थापक मा० काँशीराम साहब के जन्मदिन 15/03/2017 को बहुजन हसरत पार्टी BHP के नाम से नयी पार्टी कि स्थापना कि गयी है जिसका पूरा विस्तार व खुलासा अंत मे कर दिया गया है*

*(4)••इसके बाद बहुजन हसरत पार्टी ने 3 तलाक पर कानून बनाने वाले तथा 10% गरीब सवर्ण को आरक्षण देने वाले तथा कश्मीर से धारा 370 व धारा 35 A हटाने वाले--ऐसे तमाम युगपुरुषों को (1)--महामहिम-राष्ट्रपति महोदय जी--(2)--मा०-प्रधानमंत्री साहब जी (3)--NCBC (4)--P.M.O (5)--लोकसभा स्पीकर (6)--चुनाव आयोग (7)--बार कौंसिल ऑफ इंडिया (8)--न्याय-विधि मंत्रालय (9)--सामाजिक अधिकारिता मंत्रालय (10)--सामाजिक न्याय मंत्र आदि को लगभग 25 महीना से दिनाँक : 28/5/19 से 28/8/21 तक करीब 1250 के इर्द-गिर्द रजिस्ट्री व स्पीड पोस्ट भेजा गया था जिसमें 800-अनेको/सैकड़ो जबाव इन आला आफिसर व आला-मंत्री द्वारा बहुजन हसरत पार्टी BHP को भेजा गया है जिसमे हमारे द्वारा निम्न माँगो के साथ-साथ यह भी माँग हुई थी कि बहन मायावती जी को 6 महीने के लिए "फिल्म-नायक" कि भाँति प्रधानमंत्री बना दीजिए जिससे देश और इन कलाकार जाति पेशेवर जाति वाले समाज का भला होगा*

*(5)••मा० अनुप्रिया भाभी  साहिबा जी:--आप द्वारा OBC समाज के लोगो के हितों की गयी लड़ाई से BHP बखूबी वाकिफ है तथा इस बहुजन हसरत पार्टी BHP को आपके रूप में 3743-OBC जाति/समाज का मसीहा नजर आता है--बहुजन हसरत पार्टी BHP ने इन "कलाकार जाति पेशेवर जाति" के लोगो को यानि OBC समाज को SC ST भाईयों कि तरह "सेवा और खिदमत" के नाम पर राजनैतिक आरक्षण दिलवाने के लिए कागजी-पत्राचार कि संवैधानिक लड़ाई 2017 से आज 2021 तक जमकर लड़ी है परंतु जमीनी स्तर पर BHP अभी इतनी मजबूत व ताकतवर नही है जितना आप जैसी मसीहा कि पार्टी अपना-दल मजबूत है इतना ही नही ये MUSLIM SC ST OBC शूद्र कलाकार जाति पेशेवर जाति वाले लोग आप जैसी मसीहा को माननीया अनुप्रिया भाभी जी साहिबा के नाम से जानते व पहचानते है इसलिए 2022 के U.P विधान सभा चुनाव मे यदि आप बहुजन हसरत पार्टी BHP कि इन तमाम माँगो को "देशहित-जनहित मे राष्ट्रीय मुद्दा बनाकर" चुनाव लड़ोगी तो बहुजन हसरत पार्टी आप से इस चुनाव में खुशी-खुशी गठबंधन करेगी आप चाहे हमें जितनी भी सीटे दे दोगी हमे स्वीकार है कोई गम नही है भाभी जी यह बहुजन हसरत पार्टी BJP से गठबंधन नही चाहती है परंतु आपकी अपना दल-(S) जहाँ-जहाँ होगी वहाँ-वहाँ पर यह बहुजन हसरत पार्टी BHP आप पर घमंड करके आपके साथ कंधे से कंधा मिलाकर चलने के लिए तैयार है क्योंकि आपको हम OBC कि मसीहा मानकर आपके संग चलने के लिए बाध्य है...अभी तक हम पार्टी बनाने के बाद कोई "आडिट-आदि" भी नही तैयार कर पाये है और नाहिं पार्टी के संविधान के मुताबिक पदाधिकारी-गण फीस ही जमा किये है हमने सभी 28/5/19 से 28/8/21 तक प्रार्थना पत्र मे लिखकर भी भेज दिये थे कि बहुजन हसरत पार्टी BHP कि यदि सभी माँगे मान ली जायेगी तो यह बहुजन हसरत पार्टी BHP क्या 2300-पार्टियों मे दो-चार पार्टी छोड़कर सभी पार्टियाँ खुशी-खुशी "BJP-BJP-BJP" मे अपना विलय करने पर बाध्य हो जायेगी*

*नोट:--मा० अनुप्रिया भाभी साहिबा जी वगैर "बहुजन" शब्द के सहारे शायद ही बहुजन समाज पार्टी BSP को रोकना मुश्किल होगा इसलिए बहुजन हसरत पार्टी BHP के साथ गठबंधन करके तथा BHP कि तमाम माँगो को मुद्दा बनाकर चुनाव लड़ने से न सिर्फ BSP/बहन जी को रोका जा सकता है बल्कि इतना ही नहीं आप इन बनावटी OBC का मसीहा बनने का ढोंग करने वाले लालू प्रसाद यादव जी,मुलायम सिंह यादव जी आदि सभी नेताओ के चेहरे से OBC नेताओं के झूठ का नकाब/पर्दा उतार कर उन्हें भी रोक सकती हो और तो और महामानव बाबासाहेब के बाद BHP क्या देश के सभी तमाम लोग आप को ही अकेला OBC का सच्चा हितैषी मसीहा मानने पर बाध्य हो जायेंगे*

*मुख्य नोट--उपरोक्त बिंदु 4 में बहुजन हसरत पार्टी BHP द्वारा 28/5/19 से 28/8/21 तक करीब 1250 के इर्द-गिर्द जो रजिस्ट्री व स्पीड पोस्ट भेजा गया था जिसका बहुत सा जवाब बहुजन हसरत पार्टी BHP को  दिया भी गया है उन माँगो का संक्षिप्त में विवरण निम्न प्रकार है:-यदि आप चाहो तो तो तो माह नवंबर मे इलाहाबाद हाई कोर्ट मे फिर सभी मुद्दो पर जनहित याचिका/P.I.L हेतु बहुजन हसरत पार्टी BHP अदालत का दरवाजा खटखटाकर अपील कर सकती है* 

*~बिन्दु~1-((क)):--"कला और पेशा" मे बँटी कलाकार जाति पेशेवर जाति जो "हिन्दू-मुस्लिम" दोनो समुदायो मे पाये जाते है इन्ही "कामगार-मजदूर-श्रमिक" जो सदियो से "सर्व-समाज" कि "'सेवा और खिदमत"' करते चले आ रहे है जो सब के सब 96% OBC कि श्रेणी मे आते है जिनका पूरा आधा देश इन्हे भी लोकसभा+राज्यसभा+ विधानसभा+विधान परिषद आदि में SC ST भाईयों कि तरह ""सेवा और खिदमत"" के नाम पर "राजनैतिक-आरक्षण" दो वरना जाति व्यवस्था ही ख़त्म करो:--व मंत्रिमंडल में "सर्व-समाज" को जनसंख्या के हिसाब से आरक्षण मिले--((ख)):--2021-कि जनगणना के फॉर्म में "'कलाकार जाति पेशेवर जाति'" व घुमंतू जाति कि गणना हेतु "नया-कॉलम" हो तथा ""आधार-कार्ड"" व ""राष्ट्रीय स्वास्थ-पहचान-पत्र"" पर भी सबकी जातियाँ लिखी जाए--((ग)):--सुप्रीम कोर्ट से लेकर तहसील कोर्ट तक हर कोर्ट में MUSLIM SC ST OBC कलाकार जाति पेशेवर जाति तथा '"सर्व-समाज'" के लिए उनकी संख्यानुरूप न्यायाधीश/जजों मे आरक्षण हो..*

*--------------------------------------------*

*~बिन्दु~2-((क))--EVM हटाकर बैलेट पेपर से चुनाव कराये जाए---((ख))--EVM मशीन पर "नोटा बटन" कि तरह ही "[[A]]:-"बैलेट पेपर से चुनाव हो" [[B]]:-"EVM से चुनाव हो इसका दो बटन अलग से होने चाहिए--जिससे जो जनता अगर "नोटा" मे सबसे ज्यादा बटन दबाती है तो यह सिद्ध कैसे हो कि जनता प्रत्याशी-उम्मीदवार के खिलाफ "नोटा-बटन" दबाये है कि EVM मशीन के खिलाफ अपना गुस्सा जाहिर करी है--इसका फैसला कैसे हो ((ग))--सभी 2300 के इर्द-गिर्द पंजीकृत राजनैतिक दल के ""अध्यक्ष-महासचिव-कोषाध्यक्ष-सचिव"" से लिखित जवाब माँगा जाए कि वे "बैलेट-पेपर" से चुनाव चाहते है कि EVM-मशीन से चुनाव चाहते है--((घ)):--सभी 2300 के इर्द-गिर्द पंजीकृत राजनैतिक दल के ""अध्यक्ष-उपाध्यक्ष-महासचिव-कोषाध्यक्ष-सचिव"" के साथ-साथ देश के विद्वान-इंजीनियर आदि को भी चुनाव आयोग कि EVM मशीन-VVPAT को हाँथ लगाकर सबके सामने हैक करने के लिए आमंत्रित किया जाए--((ङ)):--P.M/C.M जब-तक दोनों सदनों में से किसी एक सदन का सदस्य नही बन जाते तब-तक P.M/C.M द्वारा बनाये गए सभी कानून व अध्यादेश निरस्त हो--((च)):--P.M/C.M के अविश्वास प्रस्ताव के कानून कि भाँति M.P/M.L.A के खिलाफ भी अविश्वास प्रस्ताव का कानून बनाया जाय जिससे वर्तमान M.P-M.L.A समाज व देश का विकास करने मे लापरवाही व कोताही न बरतने पावे:--((छ)):--NRC CAA NPR कानून निरस्त किये जाए*

*--------------------------------------------*

*~बिन्दु~3-((क)):--देश और संविधान व लोकतंत्र के रक्षक व "जमीनी-भाग्य-विधाता-मसीहा" ••जूनियर-सीनियर•• वकील साहब लोग जो कोरोना कि बिमारी कि वजह से तबाह और बर्बाद हुए है ऐसे सभी ••जूनियर-सीनियर•• वकील साहब के आर्थिक सहयोग के लिए 6 से 8 लाख रुपए ""प्रधानमंत्री-{राहत-कोष}"" से वगैर ब्याज पर कर्ज-ऋण दिया जाय जिसका भुगतान 5-साल के बाद किस्त के तौर पर वसूला जाय तथा ••सीनियर-जूनियर•• वकील-गण को अपनी-अपनी समस्या का समाधान करने हेतु इसके लिए ""अधिवक्ता आयोग"" का गठन हो जिससे "सर्व-समाज" के काबिल जजो व काबिल ••जूनियर-सीनियर•• वकीलों को भी "सुप्रीम-कोर्ट हाय-कोर्ट" जिला स्तरीय कोर्ट तथा सभी ट्रिब्यूनल आदि में जज/न्यायाधीश बनने का सीधे-सीधे मौका मिले--((ख)):--सुप्रीम कोर्ट से लेकर तहसील कोर्ट तक हर कोर्ट में MUSLIM SC ST OBC शूद्र कलाकार जाति पेशेवर जाति तथा "सर्व-समाज" के लोगो के लिऐ संख्यानुरूप न्यायाधीश/जजों मे आरक्षण हो-- ((ग)):--सुप्रीम कोर्ट/हाई कोर्ट में हिन्दी तथा हर राज्यों के लोकल भाषाओं में पेटिशन दाखिल करने का व बहस करने का भी कानून हो जिसके लिए दुभाषी/ट्रांसलेटर कि कोर्ट में नियुक्ति भी कि जाए तथा दो-साल के लिए सरकारी खर्च पर कर्मचारी के तौर वकील-गण को अदालत आदि के काम मे लगाया जाय जिससे अदालत को कानून का अच्छा जानकार वकील साहब जैसा कर्मचारी भी मिले और उन वकील-गण को अदालत व समाज मे सम्मान भी मिल सके--((घ)):--सुप्रीम कोर्ट से लेकर तहसील कोर्ट तक के सभी जजमेन्ट आर्डर इंग्लिश के साथ-साथ हिन्दी तथा लोकल भाषाओं में भी उपलब्ध हो ऐसा कानून भी बनाया जाय* 

*--------------------------------------------*

*~बिन्दु~4-((क)):--SC ST भाईयो कि तरह "'सच्चर समिति-रंगनाथ मिश्र आयोग"" कि सुविधा के अनुसार मुस्लिम महिलाओं के उद्धार के लिए 16% राजनीतिक आरक्षण हो--((ख)):--SC ST भाईयों कि तरह गरीब सवर्ण भाई को भी 10% राजनैतिक आरक्षण मिले--((ग)):--1935 के कानून कि भाँति सभी धर्म के दलितों को SC ST भाईयों कि तरह राजनैतिक आरक्षण कि सुविधा संविधान कि धारा 341 के तहत "हिन्दू-सिख" तथा बौद्ध धर्म के दलितों के तरह ही "मुस्लिम-धर्म" के दलितों व "क्रिश्चन-धर्म" के दलितों को भी  SC ST भाईयों कि तरह राजनैतिक आरक्षण कि सुविधा आदि में दिया जाये*

*--------------------------------------------*

*बहुजन हसरत पार्टी BHP द्वारा 3-3 संस्थाओ के जरिए इलाहाबाद हाई कोर्ट व सुप्रीम कोर्ट में दाखिल की गई  7/7 P.I.Lऔर S.L.P (C) कि डिटेल नीचे है*


*(A)--5842 कि P.I.L 6.2.17 को दरगाह शरीफ शहीद बाबा इसराईल शाह जन कल्याण सेवा संस्था के नाम से दाखिल करी गयी जो 9.2.17 DROW कर दि गयी थी फिर एक साल बाद P.I.L NO. 2961 को फरवरी माह मे वापस दरगाह के नाम से फाइल दाखिल हुई तथा माननीय जज महोदय ने बहस सुनने के बाद "दिस इज ऐ नाँट मैन्टीनेबुल" करके दिनाँक 26/2/2018 खारिज कर दिया....जिसकी अपील सुप्रीम कोर्ट नई दिल्ली मे दिनाँक 21/5/2018 को करी गयी है जिसका केश नम्बर 30983 है डायरी नम्बर 20166 है वह भी दिनाँक 7/12/2018को माननीय सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दी*

*(B)--10499 को P.I.L 6.3.2017 को संत रविदास एंव अंम्बेडकर जन कल्याण सेवा समीति के नाम से दाखिल करी गयी जो 9.3.2017 को खारिज कर दी गयी ..जिसकी अपील माननीय सुप्रीम कोर्ट मे दिनाँक 7/12/2017 को करी गयी जिसका केश नम्बर 002258/2017 तथा डायरी नम्बर 39989/2017  है वह भी दिनाँक 19/1/2018 को सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दी गयी*

*(C)--3562 को P.I.L माह मई 2018 को मुस्लिम जन कल्याण सेवा समीति कि तरफ से दाखिल करी गयी जो दिनाँक 21/5/2018 को खारिज कर दि गयी..जिसकी अपील माननीय सुप्रीम कोर्ट मे दिनाँक 30/7/2018 को करी गयी जिसका केश नम्बर SLP(C) 20769/2018 तथा डायरी नम्बर 27881/2018/ये है वह भी दिनाँक 13/08/2018 को सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दी गयी यह सब Date और डायरी नम्बर सहित है...*

*--------------------------------------------*

*आखिर कलाकार जाति पेशेवर जाति जैसा महान नया नाम अदालत मे 7/7 P.I.Lऔर S.L.P (C) दाखिल करके बहुजन हसरत पार्टी BHP ने तीन-तीन संस्थाओ के माध्यम से क्यों दिया है कुछ जातियों को अलग-अलग राज्यों मे गजब-गजब श्रेणी मे कैसे रखा गया है आओ नीचे समझने का प्रयास करते है*

*1)--रजक-निर्मल-बरेठा-दिवाकर कन्नौजिया-(धोबी भाई) यह UP में SC के श्रेणी में आते है तथा मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र में OBC के श्रेणी में आते हैं जो समझ के बाहर है इसी षड्यंत्र के तहत वर्षो से ये मनुवादी सत्ता का सुख भोग रहे है*

*2)--विश्वकर्मा-(लोहार भाई) यह UP में OBC के श्रेणी में आते है तथा बिहार हिमांचल प्रदेश और दिल्ली में शायद SC के श्रेणी में आते हैं जो समझ के बाहर है इसी षड्यंत्र के तहत वर्षो से ये मनुवादी सत्ता का सुख भोग रहे है* 

*3)--प्रजापति-(कुम्हार भाई) यह UP में OBC के श्रेणी में आते है तथा मध्य प्रदेश में और बुंदेलखंड के कुछ 10 जिलों में SC के श्रेणी में आते हैं जो समझ के बाहर है इसी षड्यंत्र के तहत वर्षो से ये मनुवादी सत्ता का सुख भोग रहे है*

*सारांश नोट:--इसलिए इन सबका एक उपाय ''कलाकार जाति पेशेवर जाति'' तथा घुमंतू/आदिवासी जाति-जनजाति का कॉलम "स्वास्थ्य पहचान पत्र" पर तथा "आधार कार्ड" पर भी जाति का कालम/2021-कि जनगणना फ़ॉर्म में निर्धारित किया जाय*

*दमदार नोट:--मंडल आयोग कि रिपोर्ट मे आर्टिशियन-कास्ट का मतलब "कला और पेशा" होता है:--यदि सभी 7/7 P.I.L और SLP (C) दिस इज ऐ नाँट मैन्टीनेबुल कहकर अदालत ने खारिज न किया होता और माननीय अदालत इन "कला और पेशा" मे बँटी वंचित हजारो कलाकार जाति पेशेवर जाति वाले लोगो के उद्धार के लिऐ SC ST भाईयो कि तरह "सेवा और खिदमत" के नाम पर राजनैतिक-आरक्षण लोकसभा आदि चारों सदनों मे कानून बनाने के लिए केंद्र सरकार को देशहित-जनहित मे दे दिया होता तो BSP के जन्मदाता मान्यवर काँशीराम साहब के जन्मदिन-15/3/2017 को बहुजन मुस्लिम पार्टी-बहुजन नवाब पार्टी व अब जाकर बहुजन हसरत पार्टी BHP का उदय कदापि न होता देश के लोगो के संज्ञान मे लाने हेतु संक्षेप मे 124 क्या हजारों वंचित "कलाकार जाति पेशेवर जाति" वाले लोगो का नाम जो "हिन्दू-मुस्लिम" दोनो समुदायो समुदायो मे पाये जाते है जो सभी 96% OBC कहलाते है:---"पसमांदा-फँसमांदा" नाम भी वफादार मुसलमान भाईयों को राजनैतिक-आरक्षण नही दिला सका*

*1)--चुड़ीहार-(मनियार) चूड़िया बनाता है 2)--मल्लाह निषाद मछलीहार मछली पकड़ता है 3)--दर्जी-कपड़ा सिलता है 4)--नाऊ-दाढ़ी बनाता है 5)--धुनियाँ-रजाई/गद्दा धुनता है 6)--डफाली-डफ़ली यानि शादी विवाह में बैंड-बाजा बजाता है 7)--लोनियाँ-ईट बनाता है*

*8)--ठठेरा-बर्तन बनाता है 9)--धोबी-कपड़ा धोता है 10)--मिल्कमैन (यादव)-दूध वाला कहलाता है 11)--चौरसिया-पान की पैदावार करता है 12)--बढ़ई-कुर्सी मेज बनाता है 13)--अंसारी-कपड़ा बुनता है 14)--कुम्हार-(प्रजापति)-मिट्टी का सामान बनाता है*

*15)--कहार-(गौड़) डोली उठता और शादी विवाह में पानी भरता है 16)--लोहार-लोहे का औजार बनाता है 17)--सुनार-सोने का आभूषण बनाता है 18)--धरिकार-(बंसफोड) बाँस का सारा सामान बनाता है 19)--कोईरी-(मौर्य सैनीम कुशवाहा)-सब्जी की पैदावार करता है 20)--राईन(कुंजड़ा)-सब्जी बेचता है 21)--नोनियाँ-नमक बनाता है*

*22)--तांबेर-तांबे का बर्तन बनाता है  23)--हवाईदार-पटाखे बनाता है 24)--सलमानी-(तुर्किया नाऊ) बाल दाढ़ी काटता है 25)--रंगरेज-छपाई का काम करता है 26--गुप्ता-(भड़भूजा)-चना दाना भूँजते है 27)--सिद्दीकी-तेल की पेराई करता है 28)--ज्योतिष-भविष्य बताने वाला 29)--शेख मेहतर हलालखोर  30)--पाल गड़ेरिया धनगर का भेड़-बकरे आदि पालना होता है*

  *अतः माननीय अनुप्रिया भाभी साहिबा जी आपसे बहुजन हसरत पार्टी BHP निवेदन/विनती करती है कि यदि आप इन "बहुजन" जिन्हे "कामगार-श्रमिक-मजदूर" OBC/ जो आज के कलाकार जाति-पेशेवर जाति वाले लोग है जो हिन्दू-मुस्लिम दोनो समुदायो मे पाये जाते है जिनकी जनसँख्या पूरे देश मे करीब 50% के इर्द-गिर्द है जो सब के सब 96% OBC कि कि श्रेणी मे आते है जो सदियों से "सर्व-समाज" कि "सेवा और खिदमत" करते चले आ रहे है इनको SC ST भाईयों कि तरह "सेवा और खिदमत" के नाम पर ""राजनैतिक-आरक्षण"" दिलवाने के लिए बहुजन हसरत पार्टी BHP द्वारा कि गयी उपरोक्त तमाम माँगो को चुनावी मुद्दा बनाती हो तो बहुजन हसरत पार्टी U.P-2022 में होने जा रहे चुनाव में आप के साथ खुशी-खुशी गठबंधन करने को एक पैर पर तैयार खड़ी है और जहाँ आपकी पार्टी "अपना दल-(S)" खड़ी होगी वहाँ पर BHP आप के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ी रहेगी तथा बहुजन हसरत पार्टी BHP का "बहुजन" शब्द आपके साथ रहेगा तो "बहुजन" होने कि वजह से BSP/बहन जी को रोकना बहुत ही आसान होगा और OBC का नेता होने का दावा करने वाले ढोंगी लालू प्रसाद यादव साहब और मुलायम सिंह यादव साहब का भी पर्दाफाश होगा और जैसे दलित समाज बहन मायावती जी को मसीहा मानता है उसी भाँति OBC/कलाकार जाति पेशेवर जाति वाले लोग आपको अपना मसीहा मानने पर मजबूर हो जायेंगे अर्थात बाध्य हो जायेंगे*


*जय भीम  जय हसरत मोहानी*

*कलाकार जातियाँ जिन्दाबाद*

*पेशेवर जातियाँ जिन्दाबाद*


*मुहम्मद मैराज शेख*

*संस्थापक-राष्ट्रीय अध्यक्ष*


*बहुजन हसरत पार्टी-BHP*


*9819316944 - 11-11-21*



टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बरेली के बहेड़ी थाने में लेडी कांस्‍टेबल के चक्‍कर में पुलिस वालों में चलीं गोलियां, थानेदार समेत पांच पर गिरी गाज

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

लोनी नगर पालिका परिषद लोनी का विस्तार कर 11 गांव और उनकी कॉलोनियों को शामिल कर किया गया