सपा संरक्षक पूर्व रक्षा मंत्री मुलायम सिंह यादव का जन्मदिन सपा कार्यालय बहेड़ी में धूमधाम से मनाया गया

बेताब समाचार के लिए बहेड़ी से अनीता देवी की रिपोर्ट

 बहेड़ी 22 नवंबर को समाजवादी पार्टी कार्यालय बहेड़ी पर सपा संस्थापक, भारत के पूर्व रक्षामंत्री, पूर्व मुख्यमंत्री उ.प्र. एवं सपा संरक्षक आदरणीय श्री मुलायम सिंह यादव नेताजी का तिरासिवां जन्मदिन, केक काट कर बड़ी धूमधाम से मनाया गया। नेता जी की लम्बी उम्र और अच्छी सेहत की कामना करते हुए कार्यकर्ताओं व पदाधिकारियों ने सबको मुबारक बाद दी।


 विधानसभा अध्यक्ष नासिर रजा खां ने सभी पदाधिकारी व कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि *आदरणीय नेताजी को जन्मदिन का सबसे बड़ा तोहफा 2022 के चुनाव में 118 बहेड़ी विधानसभा से पूर्व मंत्री श्री अताउर्रहमान जी को भारी मतों से विजयी बना कर* लखनऊ भेजने का काम करेंगे।

  इस मौके पर जिला उपाध्यक्ष चौधरी विजेंदर सिंह, नगर प्रभारी नसीमउर्रहमान, नगर अध्यक्ष लईक अहमद चांदनी, हरस्वरूप मौर्य, अखलाक अहमद नेता जी, एड. पातीराम गंगवार, वरिष्ठ सपा नेता पंडित जगदीश प्रसाद शर्मा, कम्मू मलिक, हाशिम अली, प्रमोद गंगवार, प्रेम पाल सिंह गुर्जर, सुरेंद्र सिंह गुर्जर, छत्रपाल सिंह गंगवार, हाजी अब्दुल मजीद, फैजुल इस्लाम, तेजपाल यादव, जलील अहमद, राजेंद्र सिंह, महेंद्र सक्सेना, तीर्थ श्रीवास्तव,सूखा खां, सत्येंद्र सिंह,खलीक अहमद, नजीब खां प्रधान जी, धर्म वीर मौर्य, चंद्र सेन मौर्य, राजू मौर्य, चौधरी अमित सिंह, चौधरी ओमवीर सिंह राठी, चौधरी विपिन सिंह,खडग सिंह बेलदार, मुकेश श्रीवास्तव, अमर पाल बीडीसी, असलम भैय्ये, शकील रजा फास्ट, इकबाल अहमद, नावेद खां, इमरान रजा,अफसार अहमद मिस्त्री,लईक उस्मानी,नईम वैहलीम, नसीम मलिक,डी.एल. मौर्य, फुरकान सैफी,रहमत अली, नवीन गंगवार, नुक्ता प्रसाद गंगवार नेताजी विधानसभा मिडिया प्रभारी विजय शर्मा और तमाम पदाधिकारी व कार्यकर्ता मौजूद रहे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

सिविल डिफेंस में काम करने वाली राबिया की हत्या करके हत्यारा हरियाणा से दिल्ली के कालंदिकुंज थाने में आकर क्यों करता है सिरेंडर, खड़े हो रहे हैं कुछ सवाल?

लापता दो आदिवासी युवकों की संदिग्ध मौत की तुरंत जांच की मांग