लखीमपुर किसान स्मृति दिवस के अवसर पर उत्तर प्रदेश के समस्त निवासियों, किसानों के शुभचिंतकों व अन्य सहयोगी पार्टियां हर माह की 3 नवंबर को किसान स्मृति दिवस मनाए, जसविंदर सिंह बरार।

  समाचार एक्सप्रेस के लिए बहेड़ी से अनीता देवी की रिपोर्टबेताब

हर महीने की 3 तारीख को लखीमपुर किसान स्मृति दिवस मनाए और लोगों को भाजपा की क्रूरता की याद दिलाएं।

बहेड़ी, भारतीय किसान यूनियन के जिला अध्यक्ष जसविंदर सिंह बरार ने लखीमपुर किसान स्मृति दिवस के अवसर पर उत्तर प्रदेश के समस्त निवासियों, किसानों के शुभचिंतकों व अन्य सहयोगी पार्टियों से अपील की है कि अब हर महीने की 3 तारीख को लखीमपुर किसान स्मृति दिवस मनाएं और लोगों को भाजपा की क्रूरता की याद दिलाएं।

इस 3 नवंबर को सबके साथ स्मृति दिवस के दीए जलाएं और अन्नदाताओं का मान बढ़ाएं। किसान नेता जसविंदर सिंह बरार  ने कहा आज देश का किसान जो लड़ाई लड़ रहा है वह केवल किसानों की लड़ाई नहीं है बल्कि वह देश के 100 करोड़ गरीबों, दलितों, पिछड़ों, अति पिछड़ों के साथ ही अल्पसंख्यकों की लड़ाई भी लड़ रहा है। श्री बरार ने कहा आज जो लोग यह अफवाह फैला रहे हैं किए किसानों के हित की किसानों की लड़ाई है वह लोग 100 करोड़ देशवासियों के साथ दुश्मनी कर रहे हैं। उन्होंने आज किसान स्मृति दिवस के अवसर पर देश के गरीब मजदूर पिछड़े अति पिछड़े व दलित वर्ग के साथ ही अल्पसंख्यकों से अपील की अन्नदाताओं द्वारा लड़ी जा रही लड़ाई केवल किसानों की लड़ाई नहीं है यह आपकी लड़ाई है आपको इस लड़ाई में अन्नदाताओं के साथ बराबर से लड़ना होगा। उन्होंने कहा आज देश का अन्नदाता देश के 100 करोड़ जनता को भुखमरी से बचाने के लिए पिछले 10 महीने से सड़कों पर संघर्ष कर रहा है अब समय आ गया है देश की जनता को भी अन्नदाताओं के साथ कंधे से कंधा मिलाकर देश को बचाने की लड़ाई लड़ना होगी।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बरेली के बहेड़ी थाने में लेडी कांस्‍टेबल के चक्‍कर में पुलिस वालों में चलीं गोलियां, थानेदार समेत पांच पर गिरी गाज

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

लोनी नगर पालिका परिषद लोनी का विस्तार कर 11 गांव और उनकी कॉलोनियों को शामिल कर किया गया