बहेड़ी विधायक छत्रपाल सिंह गंगवार के उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री बन कर प्रथम बार अपने विधानसभा आगमन पर मंत्री जी का कार्यकर्ताओं ने ऐतिहासिक स्वागत किया।

बहेड़ी में प्रथम बार मंत्री छत्रपाल सिंह गंगवार का ऐतिहासिक स्वागत देखकर विरोधियों में पैदा हुआ दहशत का माहौल।

बरेली, (अनीता देवी की रिपोर्ट) उत्तर प्रदेश सरकार में पहली बार मंत्री बने बहेड़ी से भाजपा विधायक छत्रपाल सिंह गंगवार मंत्री पद की शपथ ग्रहण के बाद लखनऊ से चलकर हरदोई शाहजहांपुर तिलहर कटरा फरीदपुर बरेली भोजीपुरा देवरिया रिछा आदि रूटो पर होते हुए बहेड़ी पहुंचे, लखनऊ से चलकर बहेड़ी पहुंचते-पहुंचते मंत्री छत्रपाल सिंह गंगवार को शाम हो गई इस बीच रास्ते में जगह-जगह भाजपा कार्यकर्ताओं व मंत्री छत्रपाल सिंह गंगवार के समर्थकों द्वारा जोरदार स्वागत किया गया, जैसे से मंत्री जी का काफिला आगे बढ़ता जा रहा था स्वागत करने वालों की भीड़ जगह जगह स्वागत के लिए उमड़ रही थी,




आज मंत्री छत्रपाल सिंह गंगवार के स्वागत मैं उमड़ता हुआ कार्यकर्ताओं का जन सैलाब देखकर विरोधियों के हौसले पहले ही पस्त हो गए। जगह-जगह कार्यकर्ता मंत्री छत्रपाल सिंह गंगवार को फूल मालाएं पहनाकर स्वागत कर रहे थे, मंत्री जी के स्वागत में आज कार्यकर्ताओं का जोश अपने चरम पर था वही जनता भी मंत्री छत्रपाल सिंह गंगवार की एक झलक पाने को बेताब नजर आ रही थी।


बहेड़ी मैं स्वागत करने वालों में विधानसभा संयोजक सुरेश गंगवार नगर अध्यक्ष सुनील रस्तोगी नगर उपाध्यक्ष राहुल गुप्ता मंडल उपाध्यक्ष देवेंद्र गंगवार दुष्यंत कुमार ब्लॉक प्रमुख दमखोदा अमरिंदर सिंह गोल्डी ब्लाक प्रमुख बहेड़ी चौधरी आराम सिंह भाजपा मंडल संयोजक सूरज शर्मा सोशल मीडिया विभाग प्रभारी दीपक शर्मा भाजपा मंडल संयोजक सोशल मीडिया मनोज शर्मा एवं भाजपा के वरिष्ठ नेता का और पदाधिकारियों नए मंत्री छत्रपाल सिंह गंगवार का जोरदार स्वागत किया जगह जगह गगनभेदी नारे गूंज रहे थे कार्यकर्ताओं का उत्साह देखते ही बनता था।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बरेली के बहेड़ी थाने में लेडी कांस्‍टेबल के चक्‍कर में पुलिस वालों में चलीं गोलियां, थानेदार समेत पांच पर गिरी गाज

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

लोनी नगर पालिका परिषद लोनी का विस्तार कर 11 गांव और उनकी कॉलोनियों को शामिल कर किया गया