अब्दुल हमीद मेमोरियल कान्वेंट स्कूल बरेली में सत्य अहिंसा के पुजारी राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का जन्मदिन मनाया गया

बेताब समाचार एक्सप्रेस के लिए बरेली से मुस्तकीम मंसूरी की रिपोर्ट।

जिसने मुल्क को आजाद कराया, जिसने पूरी दुनिया को अहिंसा का पाठ पढ़ाया, जिसने हिंदुस्तान की संस्कृति का महत्व बताया, वही महान पुरुष राष्ट्रपिता कहलाया, ज़ैनब फातिमा

बरेली 2 अक्टूबर, गांधी जी के जन्मदिन के ख़ास मौक़े पर एयरफ़ोर्स स्थित अब्दुल हमीद मैमोरियल कॉन्वेन्ट स्कूल बरेली में हर्षोल्लास के साथ गांधी जयंती मनाई गई।जिसमें प्रबंधक अनीस अंसारी के साथ तमाम शिक्षक शिक्षिकाओं ने गांधी जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर पुष्प अर्पित किये।साथ ही कई तरह के कार्यक्रम भी आयोजित किये।प्राचार्य अनीस अंसारी  ने बच्चों को आज़ादी की लड़ाई में गांधी जी के योगदान और त्याग,समर्पण से अवगत कराया।





उन्होंने कहा कि स्वतंत्रता दिवस और गढ़तंत्र दिवस की तरह दो अक्टूबर को भी राष्ट्रीय पर्व का दर्जा हासिल है।वाइस प्रिंसिपल सुश्री ज़ैनब फ़ातिमा ने मुख़्तसर पंक्तियों के माध्यम से समझाया कि जिसने मुल्क़ को आज़ाद कराया। जिसने पूरी दुनिया को अहिंसा का पाठ पढ़ाया। जिसने हिन्दोस्तां की संस्कृति का महत्व बताया। जिसने विदेशी कल्चर को दूर कराया। वही महान पुरुष राष्ट्रपिता महात्मा गांधी कहलाया। शिक्षिका उषा शर्मा जी ने कहा कि गांधी जी के कार्यों और विचारों ने देश की स्वतंत्रता और इसके बाद आज़ाद भारत को आकार देने में बड़ी भूमिका निभाई।

कार्यालय प्रबंधक़  मुस्तक़ीम अंसारी ने मुख्य बिंदुओं पर रोशनी डालते हुए कहा कि गांधी जयंती पर हम सब मिलकर प्रण लें कि एक स्वच्छ भारत के निर्माण में अपना योगदान करेंगे न गंदगी फैलाएंगे न ही किसी को फ़ैलाने देंगे।इसी कड़ी में अनुराधा मैम, मैनाज़ मैम, यादव सर, असद सर आदि ने अपने विचार रखे। इस अवसर पर सभी विद्यार्थियों ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराई जिसमें मुख्य तौर पर नाज़िया, रक्षिन्दा, इमरान अंसारी, जीत, सम्राट, तमन्ना, ख़ुशी, ज़ुबैर खान, नूर फ़ातिमा, हर्ष सिंह, पंकज शर्मा, कहकशां आदि शामिल रहे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश

जिला गाजियाबाद के प्रसिद्ध वकील सुरेंद्र कुमार एडवोकेट ने महामहिम राष्ट्रपति एवं प्रधानमंत्री को देश में समता, समानता और स्वतंत्रता पर आधारित भारतवासियों के मूल अधिकारों और संवैधानिक अधिकारों को सुनिश्चित करने के लिए लिखा पत्र

ज़िला पंचायत सदस्य पद के उपचुनाव में वार्ड नंबर 16 से श्रीमती जसविंदर कौर की शानदार जीत