सपा के पूर्व मंत्री अताउर रहमान के नेतृत्व में किसानों के बकाया गन्ना भुगतान को लेकर केसर चीनी मिल पर विशाल धरना प्रदर्शन किया गया।

बेताब समाचार एक्सप्रेस के लिए बहेड़ी से अनीता देवी की रिपोर्ट।

काले कृषि कानूनों को वापस लेने की गुहार लगा रहे सात सौ से अधिक किसान शहीद हो गए किसान विरोधी सरकार किसानों की बात सुनने को तैयार नहीं है - अताउर रहमान

   बहेड़ी, 16 अक्टूबर को समाजवादी पार्टी के पूर्व मंत्री  अताउर्रहमान के नेतृत्व में किसानों के बकाया गन्ना भुगतान को लेकर केसर चीनी मिल बहेड़ी पर विशाल धरना प्रदर्शन किया। जिसमें क्षेत्र से कई हजार किसान शामिल हुए।
   विशाल धरना प्रदर्शन की अध्यक्षता पूर्व प्रमुख चौ. अतरसिंह ने की। अताउर्रहमान ने कहा कि भाजपा सरकार ने कहा था कि किसानों को गन्ने का भुगतान चौदह दिन में करेंगे। अगर चीनी मिल मालिक चौदह दिन में भुगतान नहीं करते हैं तो किसानों को ब्याज सहित भुगतान दिया जायेगा या फिर चीनी मिल मालिकों को जेल भेजा जाएगा। लेकिन इस भाजपा सरकार ने ना तो चौदह दिन में किसानों को भुगतान दिलवाया और ना ही मिल मालिकों को जेल भेजा।






और ना ही किसानों की आय दुगुनी की। यह सरकार केवल उद्योगपतियों की सरकार है। पेट्रोल, डीजल, गैस, सरसों तेल आदि तमाम चीजें दुगुनी कीमत पर पंहुच गई। मंहगाई की मार से आम जनजीवन अस्त-व्यस्त हो चुका है।दस महीने से अधिक समय हो गया है किसान दिल्ली गाजीपुर वार्डर पर काले कृषि कानूनों को वापस लेने की गुहार लगा रहे हैं,सात सौ से अधिक किसान शहीद हो गए लेकिन यह किसान विरोधी सरकार किसानों की बात सुननें को तैयार नहीं है। बहेड़ी केसर चीनी मिल पर डेढ़ सौ करोड़ रुपए किसानों के गन्ने का भुगतान बकाया है। लेकिन भाजपा बहेड़ी विधायक ने एक बार भी किसानों को भुगतान दिलाने की कोशिश नहीं की। बल्कि आंदोलन कर रहे किसानों के प्रति अभद्र टिप्पणी करते हुए कहा कि बहेड़ी का किसान दिल्ली वार्डर पर शराब पीने और पिकनिक मनाने जाता है।इस लिए अब बहेड़ी भाजपा विधायक का किसान जगह जगह पर काले झंडे दिखा कर विरोध कर रहे है। अब बहेड़ी का किसान 2022 के चुनाव में भाजपा विधायक की जमानत जब्त करा कर इन्हें भी पिकनिक मनाने के लिए बाहर भेज देगा। 
  लखीमपुर में किसानों के ऊपर भाजपा केंद्रीय गृह राज्य मंत्री के बेटे और उनके गुंडों ने किसानों के ऊपर गाड़ी चढ़ाकर आठ किसानों को मौत के घाट उतार दिया। लेकिन यह भाजपा की सरकार ने अभी तक उस मंत्री से स्तीफा नहीं लिया बल्कि उसका बचाव करने में लगी हुई है।
   उत्तर प्रदेश की जनता इस भाजपा की सरकार से त्रस्त हो गई है अब किसान, नौजवान और व्यापारी 2022 के चुनाव में भाजपा को उत्तर प्रदेश से उखाड़ फेंकने का काम करेगी। और राष्ट्रीय अध्यक्ष आदरणीय अखिलेश यादव जी को उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री बनाने का काम करेगी।तभी उत्तर प्रदेश का विकास होगा और किसान, नौजवान, व्यापारी खुशहाल होगा।
  धरना प्रदर्शन के बाद केसर चीनी मिल के प्रबंधक तहसील और पुलिस अधिकारियों के साथ धरना स्थल पर आये और उन्होंने मंच से गन्ना किसानों का बकाया भुगतान जल्दी से जल्दी करने का आश्वासन दिया।
  महामहिम राष्ट्रपति भारत के नाम उपजिलाधिकारी बहेड़ी के द्वारा ज्ञापन  सौंपा।
   पूर्व मंत्री श्री अताउर्रहमान जी ने कहा कि अगर किसानों का जल्दी भुगतान नहीं किया गया तो फिर समाजवादी पार्टी किसानों के साथ आगे की रणनीति तय करेगी।
   इस मौके पर जिला अध्यक्ष ईंजी. अगम मौर्य, विधानसभा अध्यक्ष नासिर रजा खां, जिला उपाध्यक्ष चौ. विजेंदर सिंह, तारिक लिटिल, महासचिव सतेंद्र यादव, पूर्व जिला उपाध्यक्ष अरविंद यादव, जिला सचिव ठा. चंद्रपाल सिंह, आरिफ एडवोकेट,जय प्रकाश भास्कर, पूर्व महानगर महासचिव पं.दीपक शर्मा, अल्पसंख्यक जिला अध्यक्ष असलम खां, प्रवक्ता मंयक शुक्ला,कमबर एजाज शानू, पूर्व महानगर सचिव मोहित सक्सेना, कोषाध्यक्ष रविंदर यादव, अहमद खान टीटू, महानगर उपाध्यक्ष शमीम अहमद सभासद,पूर्व ब्लाक प्रमुख हाजी वफाउर्रहमान जी, चेयरमैन केंद्रपाल सिंह गंगवार, नगर प्रभारी नसीमउर्रहमान, नगर अध्यक्ष लईक अहमद चांदनी, इकबाल सिंह चीमा,पं. जगदीश शर्मा,पं.नरेंदर शर्मा,स. सुखविंदर सिंह चौहान,स. हरपाल सिंह गोराया वरिष्ठ सपा नेता आलम जीत सिंह, हाशिम अली, अखलाक अहमद नेता जी, हरस्वरूप मौर्य, राजू मौर्य, राकेश गंगवार, वरिष्ठ सपा नेता चौ. सुरेंद्र सिंह, पूर्व चेयरमैन सुखवीर सिंह,चौ. अमित सिंह,चौ. पुष्पेन्द्र सिंह,चौ.विपिन सिंह, वरिष्ठ सपा नेता पीर मोहम्मद, जिला पंचायत सदस्य ब्रह्म स्वरूप सागर, कमरुद्दीन सैफी,मो. कामिल पूर्व चेयरमैन, पूर्व प्रधान अनवार मलिक, वरिष्ठ सपा नेता सुजात खां, ताहिर रजा खां, इकबाल अहमद प्रधान जी,

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बरेली के बहेड़ी थाने में लेडी कांस्‍टेबल के चक्‍कर में पुलिस वालों में चलीं गोलियां, थानेदार समेत पांच पर गिरी गाज

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

लोनी नगर पालिका परिषद लोनी का विस्तार कर 11 गांव और उनकी कॉलोनियों को शामिल कर किया गया