प्रदेश की योगी सरकार फ्री राशन योजना के बदले अंग्रेजों की तरह कर रही है प्रत्येक परिवार से लगान वसूली - देवेंद्र सिंह

सपा सुप्रीमो के नेतृत्व में बनने वाली अगली सरकार उत्तर प्रदेश को बनाएगी उत्तर प्रदेश।

Report By: Mustaqeem Mansoori

बरेली, बिथरी विधानसभा क्षेत्र से समाजवादी पार्टी के प्रबल दावेदारों में शुमार पूर्व ब्लाक प्रमुख समाजवादी पार्टी के सक्रिय सदस्य देवेंद्र सिंह से 39 पवन विहार बरेली में उनके निवास स्थान पर हमारे संवाददाता ने खास बातचीत की बातचीत के दौरान राजनीति के चाणक्य स्वर्गीय वीरेंद्र सिंह पूर्व विधायक के छोटे भाई चुनावी रणनीति के माहिर होने के साथ ही 17 वर्षों तक ब्लॉक प्रमुख ई के पद पर रहे, देवेंद्र सिंह ने कहा की मोदी,योगी की सरकार है सभी मोर्चों पर विफल साबित हुई है। केंद्र व राज्य की सरकारों ने जिस तरह की व्यवस्थाएं देश व प्रदेश को दी है उससे  किसानों को प्रत्येक एकड़ फसल पर ₹25000 प्रति वर्ष का नुकसान उठाना पड़ रहा है, ऊपर से तीन काले कृषि कानून बनाकर केंद्र सरकार ने अदानी, अंबानी, जैसे उद्योगपतियों के हाथों किसानों का भविष्य समाप्त करने का कार्य किया है जिसको लेकर पूरे देश का किसान लंबे समय से आंदोलन कर रहा है, केंद्र सरकार द्वारा देश के संसाधनों को पूंजीपतियों के हाथ बेचने का जो कार्य किया जा रहा है वह भी अत्यंत चिंता का विषय है उन्होंने कहा जब सरकारी संस्थानों का निजी करण होता है तो बेरोजगारी चरम पर पहुंच जाती है।


पूर्व ब्लाक प्रमुख देवेंद्र सिंह ने केंद्र व प्रदेश की सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि आज परिस्थितियां यहां पहुंच गई है कि प्रदेश सरकार फ्री राशन वितरण के नाम पर देश की जनता से अंग्रेजों की तरह लगान वसूली कर रही है। देवेंद्र सिंह ने उदाहरण देते हुए कहा कि जब सपा की सरकार प्रदेश में थी, तब पेट्रोल और डीजल की कीमतें ₹55 से लेकर ₹60 प्रति लीटर हुआ करती थी जो आज ₹100 को पार कर गए हैं, सपा सरकार में सरसों का तेल₹80 से ₹100 तक हुआ करता था, जो आज ₹200 के पार पहुंच गया है, घरेलू गैस सिलेंडर जो सपा सरकार में ₹430 हुआ करता था आज ₹950 के पार पहुंच गया है, इसी तरह भवन निर्माण सामग्री की कीमतें सपा सरकार के मुकाबले दुगनी से अधिक हो गई है, सपा सरकार में पुलिस द्वारा वाहन चालकों का जुर्माना₹100 से ₹500 तक ही होता था योगी सरकार में यह जुर्माना ₹1000 से ₹5000 तक हो गया है, सपा सरकार में ड्राइविंग लाइसेंस फीस साडे ₹300 से लेकर 500 तक हुआ करती थी, जो योगी सरकार ने ₹5000 हो गई है, जिसकी मार देश का 85% गरीब वर्ग झेल रहा है इसका जवाब 2022 में प्रदेश की जनता सत्ता परिवर्तन के रूप में देगी।

पूर्व ब्लाक प्रमुख सपा नेता देवेंद्र सिंह ने अखिलेश यादव पूर्व मुख्यमंत्री व वर्तमान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सरकारों के बीच तुलनात्मक अध्ययन करते हुए कहा कि प्रदेश की जनता को योगी सरकार के अंग्रेजों की तरह चलाए जा रहे लगान वसूली अभियान को समझना होगा क्योंकि जिस तरह योगी सरकार लगान वसूली कर रही है उसमें गरीबों, मध्यवर्गीय परिवारों पर फ्री राशन योजना के नाम पर पांच से दस हजार रुपए प्रति परिवार

 लगान वसूला जा रहा है, इसी तरह किसानों से 25000 रुपए प्रति एकड़ सरकार लगान वसूल कर रही है। इस फर्क को प्रदेश की जनता के बीच सपा कार्यकर्ताओं द्वारा बताने का काम किया जा रहा है। सपा नेता देवेंद्र सिंह ने कहा 2022 में प्रदेश की जनता सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव को उत्तर प्रदेश की सत्ता सौंपने का मन बना चुकी है। उन्होंने कहा 2022 में सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव मुख्यमंत्री बनेंगे और प्रदेश का चौमुखी विकास होगा महंगाई, भ्रष्टाचार, नारी सुरक्षा, शिक्षा और स्वास्थ्य चिकित्सा, आदि सभी सुविधाएं पिछले सपा शासनकाल की तरह जनता को उपलब्ध कराई जाएंगी तभी उत्तर प्रदेश में  खुशहाली होगी, और उत्तर प्रदेश उत्तम प्रदेश कहलायेगा।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बरेली के बहेड़ी थाने में लेडी कांस्‍टेबल के चक्‍कर में पुलिस वालों में चलीं गोलियां, थानेदार समेत पांच पर गिरी गाज

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

लोनी नगर पालिका परिषद लोनी का विस्तार कर 11 गांव और उनकी कॉलोनियों को शामिल कर किया गया