*यमुना पार के बुजुर्ग शायर और समाज सेवक असलम देहलवी को शमां एनजीओ ने लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड से सम्मानित किया।*

दिल्ली,  यमुना पार की सीलमपुर विधानसभा के बुजुर्ग समाज सेवक और मशहूर उर्दू शायर असलम दिल्ली को उनके जरिए लगातार 50 सालों से सीलमपुर, जाफराबाद इलाके में सामाजिक कार्य करने और सामाजिक मुद्दों,इंसानी संघर्ष को उर्दू शायरी के जरिए लोगों तक पहुंचने के लिए दिल्ली की सरगम शमां एजुकेशनल एंड पॉलिटेक्निक सोसायटी के जरिए लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड से सम्मानित किया गया।


शमां एनजीओ के राष्ट्रीय अध्यक्ष मिर्ज़ा शाहिद चंगेजी ने असलम देहलवी को सम्मान देते हुए कहा कि असलम देहलवी यमुना पार  के मशहूर  समाज सेवक और उर्दू के शायर हैं जिनके जरिए सीलमपुर , जाफराबाद ,चौहान बांगर में अनेको सामाजिक कार्य किए गए और लोगों को जोड़ने में, जाफराबाद जैसे क्षेत्र को बसाने में इनका योगदान हमेशा याद किया जाएगा।

शमां एनजीओ के राष्ट्रीय महासचिव डॉक्टर फहीम बेग ने इस मौके पर कहा कि असलम देहलवी जैसे बुज़ुर्ग हमारी विरासत है जिन्होंने अपने जीवन के कीमती वर्ष समाज की सेवा,उर्दू भाषा की सेवा और नौजवानों को सही दिशा दिखाने के लिए अपना जीवन लगाया, अब यह हमारी जिम्मेदारी है कि अपने बुजुर्गों  के बताए हुए मार्ग पर चलकर समाज को बेहतर,शिक्षित, विकसित और संगठित बनाने का कार्य बड़ी जिम्मेदारी के साथ करें इसलिए आज हम असलम देहलवी को शॉल पहनकर लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड देकर बहुत गौरांवित महसूस कर रहे हैं।

संस्था के संगठन सचिव मोहम्मद साबिर ने भी असलम देहलवी को अपनी ओर से सम्मान अर्पित किया। सम्मन प्राप्त करने पर असलम देहलवी ने शमां एजुकेशनल एंड पॉलिटेक्निक सोसायटी के सभी सदस्यों का धन्यवाद किया और कहा कि उम्र के इस पड़ाव में जिस प्रकार से आप लोगों ने मेरे घर पर आकर मेरा हौसला बढ़ाया है, मैं आज बहुत खुश हूं और जीवन में जो भी समाज को अपनी ओर से दे पाया इसके लिए मैं ऊपर वाले का धन्यवाद देता हूं,जिस प्रकार से आपकी शमां एनजीओ समाज में बेहतर शिक्षा, बेहतर स्वास्थ्य,नौजवानों को रोजगार से जोड़ने और आपस में भाईचारा कायम करने के साथ साथ अनेकों कार्य कर रहे हैं उसके लिए मैं अपनी विशेष शुभकामनाएं आपको देता हुं।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उज़मा रशीद को अपना बेशकीमती वोट देकर भारी बहुमत से विजई बनाएं

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उजमा आदिल की हार की समीक्षा

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश