हुज्जातुल इस्लाम के कुल शरीफ के साथ मदरसा मंज़र-ए-इस्लाम का दीक्षांत समारोह भी मनाया गया।

 बेताब समाचार एक्सप्रेस के लिए बरेली से मुस्तकीम मंसूरी की रिपोर्ट,

मुल्क के बटवारे के समय फैली अशांति को दूर करने और मुल्क में अमन कायम रखने को हुज्जातुल इस्लाम ने मुल्क भर में कॉन्फ्रेंसो का आयोजन किया:मुफ्ती सलीम।

बरेली, आला हज़रत फ़ाज़िले बरेलवी के बड़े साहिबजादे हुज्जातुल इस्लाम हज़रत मुफ़्ती हामिद रज़ा खान साहब (हामिद मियां) के 83 वे उर्स-ए-हामिदी के दूसरे दिन आज हुज्जातुल इस्लाम मुफ्ती हामिद रज़ा खान(हामिद मियां) के कुल शरीफ की रस्म अदा की गई। इसके बाद आला हजरत द्वारा स्थापित मदरसा मंजर-ए-इस्लाम का 122 वा दीक्षांत समारोह(दस्तार बंदी) का मनाया गया। सभी कार्यक्रम दरगाह प्रमुख हज़रत मौलाना सुब्हान रज़ा खान साहब (सुब्हानी मियां) की सरपरस्ती व सज्जादानशीन मुफ्ती अहसन रज़ा क़ादरी (अहसन मियां) की सदारत में सम्पन्न हुए। निजामत(संचालन) कारी यूसुफ रज़ा संभली ने की। उर्स में देश भर से अकीदतमंद शिरकत करने दरगाह पहुंचे।
 मीडिया प्रभारी नासिर कुरैशी ने बताया कि आज उर्स का आगाज़ बाद नमाज़-ए-फ़ज़्र रज़ा मस्जिद में कुरानख्वानी से हुआ। दिन में नात-ओ-मनकबत का दौर जारी रहा। तिलावत मुफ्ती स्वालेह रज़ा मंजरी व मिलाद हाजी गुलाम सुब्हानी और आसिम नूरी ने पढ़ी। इस दौरान अकीदतमंदों का दरगाह पर  तांता लगा रहा। मुख्य कार्यक्रम बाद नमाज़-ए-ईशा रात 9 बजे दरगाह सरपरस्त हजरत सुब्हानी मियां की सरपरस्ती मुफ्ती अहसन मियां की सदारत मुफ्ती आकिल रजवी,मुफ्ती सलीम नूरी,मुफ्ती सय्यद कफील हाशमी,मुफ्ती अय्यूब नूरी,कारी अब्दुर्रहमान क़ादरी,मुफ्ती मोइनुद्दीन,मुफ्ती सय्यद शाकिर अली की मौजूदगी में देश भर के नामवर उलेमा ने हुज्जातुल इस्लाम मुफ्ती हामिद मियां के किरदार और उनके द्वारा किए गए मज़हब-ओ-मसलक के कामों पर रौशनी डाली। मुफ्ती सलीम नूरी बरेलवी ने कहा कि मुल्क के बटवारे वक्त फैली अशांति को दूर करने और मुल्क में अमन कायम रखने को हुज्जातल इस्लाम ने मुल्क भर में दौरे कर कॉन्फ्रेंसो का आयोजन किया। रात 10 बजकर 35 मिनट पर हुज्जातुल इस्लाम के कुल शरीफ की रस्म अदा की गई। इसके बाद मदरसा मंज़र-ए-इस्लाम का दीक्षांत समारोह (दस्तारबंदी) का जश्न शुरू हुआ। 21 मुफ़्ती,75 फाजिल,04 हाफिज व 56 कारी के कुल 156 तलबा (छात्रों) को दरगाह प्रमुख हज़रत सुब्हानी मियां व सज्जादानशीन मुफ़्ती  अहसन मियां के हाथों डिग्रियां सौपकर दस्तारबंदी की। इनामी मुकाबले में शामिल विजेताओं के नामों की घोषणा मुफ्ती सलीम नूरी बरेलवी ने किया।  इनाम दरगाह प्रमुख के हाथों तकसीम (वितरित) किये गए।
उर्स की व्यवस्था को लेकर आज बैठक दरगाह पर हुई जिसमें मुख्य रूप से मौलाना जाहिद रज़ा,शाहिद नूरी,अजमल नूरी,परवेज़ नूरी,हाजी जावेद खान,औररंगज़ेब नूरी,ताहिर अल्वी,मंज़ूर रज़ा, अनवार उल सादात,मौलाना अबरार उल हक,आसिफ रज़ा,आलेनबी,मुजाहिद बेग,इशरत नूरी,तारिक सईद,सबलू अल्वी,अब्दुल माजिद,सय्यद एजाज़,सय्यद माजिद,इरशाद रज़ा,साजिद नूरी,नईम नूरी,अयान हुसैन,रोमान खान,साकिब रज़ा,समी खान,अजमल रज़ा,मोहसिन रज़ा, सुहैल रज़ा,साद रज़ा,नफीस खान,हाजी अब्बास नूरी,काशिफ सुब्हानी आदि।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उज़मा रशीद को अपना बेशकीमती वोट देकर भारी बहुमत से विजई बनाएं

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उजमा आदिल की हार की समीक्षा

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश