भाईचारा एकता मंच की छवि खराब करने वालों के खिलाफ जिलाधिकारी एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को कार्रवाई की मांग को लेकर दिया ज्ञापन

 रिपोर्ट-मुस्तकीम मंसूरी

रुद्रपुर। भाईचारा एकता मंच की छवि खराब करने के उद्देश्य से संगठन के पदाधिकारी के खिलाफ ब्लैकमेलरो द्वारा की जा रही झूठी शिकायतों की निष्पक्ष जांच एवं कार्रवाई की मांग को


लेकर भाईचारा एकता मंच के पदाधिकारियो ने जिलाधिकारी और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन दिया।दिए गए ज्ञापन में भाईचारा एकता मंच के पदाधिकारियो ने बताया


कि संगठन के केंद्रीय अध्यक्ष के पी गंगवार की नजूल की जमीन को लेकर शहर के ब्लैकमेलरो द्वारा झूठी शिकायत की गई थी जिसकी जांच पुलिस द्वारा की जा रही है वही ब्लैकमेलरो द्वारा संगठन की महिला पदाधिकारी के विरुद्ध

सोशल मीडिया पर अनर्गल बयान बाजी कर छवि को खराब किया गया था उस पर भी पुलिस द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की गई है । इसके विपरीत रमपुरा पुलिस के कुछ अधिकारियों की मिली भगत के चलते भाईचारा एकता मंच की महिला

पदाधिकारियो के विरुद्ध एवं संगठन के केंद्रीय अध्यक्ष केपी गंगवार के विरुद्ध झूठी शिकायतें की जा रही है संगठन ने जिलाधिकारी व एस एस पी को ज्ञापन देकर कहा है कि शीघ्र ही इनके  खिलाफ कार्रवाई नहीं की गई तो भाईचारा एकता

मंच एक बड़ा आंदोलन करने को बिवश होगा ज्ञापन देने वालों में मुख्य रूप से संगठन के केंद्रीय अध्यक्ष केपी गंगवार ,ममता श्रीवास्तव, रेनू जुनेजा , सुमनपंत ,शील चौधरी, शकुंतला गंगवार, सबाना अफसाना ,उर्मिला, बबलू गंगवार, आधार श्रीवास्तव, रामपाल, आरती मौर्य, कंचन वर्मा, ज्योति, शांति

बावली ,राकेश तनेजा, निशा ,रामवती सुमित्रा, ज्योति दास, जसपाल सिंह, उमेश भारती, ओमकार गंगवार ,सुरेश गंगवार, गीता देवी, गीता सिंह, नन्ही देवी, विमला देवी, ममता विश्वास, आरती वैद्य,  मुन्नी,  रीना कश्यप आदि सैकड़ो लोग मौजूद थे

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उज़मा रशीद को अपना बेशकीमती वोट देकर भारी बहुमत से विजई बनाएं

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उजमा आदिल की हार की समीक्षा

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश