भाजपा ने निकाली विपक्ष की जाति जनगणना की काट, ओबीसी सर्वे का कर सकती है ऐलान,

रिपोर्ट-मुस्तकीम मंसूरी

बीजेपी एक बड़ी घोषणा करेगी, जिसमें पिछड़ा वर्ग ओबीसी सर्वेक्षण की बात होगी। इस बैठक की अध्यक्षता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने की थी। जिसमें अमित शाह और जेपी नड्डा सहित कई बड़े नेता शामिल हुए, लोकसभा चुनाव में जाति का मुद्दा अभी रहने की पूरी संभावना है। बीजेपी ने भी विपक्ष की जाति जनगणना की काट निकाल है। रविवार को बिहार के मुजफ्फरपुर में एक रैली को संबोधित करते हुए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने इसके संकेत दिए हैं।


इस रैली के दौरान पार्टी की रणनीति में बदलाव के उन्होंने संकेत दिए हैं। जानकारी के मुताबिक बीजेपी की केंद्रीय चुनाव समिति की 1 नवंबर की बैठक के दौरान यह निर्णय लिया गया कि भाजपा एक बड़ी घोषणा करेगी जिसमें पिछड़ा वर्ग ओबीसी सर्वेक्षण की बात होगी। इस बैठक की अध्यक्षता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने की थी। इसमें अमित शाह और भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा सहित कई बड़े नेता शामिल हुए। इस बैठक के अगले ही दिन ओबीसी आउटरीच पर यह कुछ स्तरीय बैठक में इस पर मोहर लगा दी गई। मामले की जानकारी रखने वाले लोगों ने कहा कि तौर तरीकों पर अभी काम किया जाना बाकी है। लेकिन केंद्र सरकार जल्द ही इसको लेकर घोषणा कर सकती है। भाजपा के एक वरिष्ठ नेता ने नाम न छापने की शर्त पर कहा, कांग्रेस हिंदू वोटो को विभाजित करने के एकमात्र उद्देश्य जाति जनगणना के वादे को दोहराती रहती है। हम ओबीसी सर्वेक्षण की घोषणा करके उसे रणनीति को भी कुंद कर देंगे। वे इसे तभी मुद्दा बनाएंगे जब हम इसके विरोध में दिखेंगे। अगर हम सभी सहमत हैं और हम एक सर्वेक्षण का भी वायदा करते हैं, तो वह हिंदू वोट नहीं बांट सकेंगे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उज़मा रशीद को अपना बेशकीमती वोट देकर भारी बहुमत से विजई बनाएं

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उजमा आदिल की हार की समीक्षा

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश