हजरत अच्छे मियां का तीन रोज़ा उर्स पूरी शान ओ शौकत के साथ संपन्न हुआ,

रिपोर्ट-अनीता देवी

बरेली, बहेड़ी के मोहल्ला शाहजी नगर स्थित ख़ानक़ाहे शेरिया में ताजुल असफिया हजरत अच्छे मियां और बन्ने मियां का तीन रोज उर्स शाहजी एकेडमी की जानिब से ख़ानक़ाहे शेरिया में उर्स का ऐहतमाम किया गया। उर्स के पहले दिन जुलूस-ए परचम कुशाई निकाला गया। परचम कुशाई का जुलूस शेरी चौक मोती मस्जिद से शुरू होकर ख़ानक़ाहे शेरिया पहुंचा। जहां से जुलूस नैनीताल रोड सहित प्रमुख जगहों पर होता हुआ शेरी चौक पर वापस आकर खत्म हुआ।


परचम कुशाई की रस्म के बाद तरही मुशायरा हुआ। मुशायरे में उल्लेखों और शायरों ने कलम पढ़ते हुए कहा रसूल अल्लाह के महबूब हो, महेलिका का तुम हो, पहलुए शाहजी में है, जलवा कुना बन्ने मियां, मिसरे पर शायरों ने अपने-अपने कलाम पेश किए। वही उर्स के दूसरे दिन चादरों का जुलूस निकाला गया। रात में बाद नमाज़े ईशा ताजुल असफिया कॉन्फ्रेंस हुई, जिसमें उल्लेमाओं ने अपने-अपने अंदाज में बेहतरीन कलाम पेश करते हुए हज़रत अच्छे मियां व हज़रत बन्ने मियां की हयाते जिंदगी पर रोशनी डाली। कॉन्फ्रेंस में शिरकत करने काशीपुर से आए मुफ्ती कासिमुल क़ादरी अशरफी ने ख़िताब करते हुए बुजुर्गने दीन की तालीमत पर अमल करने पर जोर दिया। वही मुफ्ती फहीम अहमद सकलैनी अज़हरी ने सरकार नबी-ए-करीम की सीरत को अपना कर उस पर अमल करने पर जोर दिया। कॉन्फ्रेंस में आए शायर मोहम्मद आज़म, मोहम्मद फैजा़न और हाफिज अजीम अनवर ने नातों मन्क़बद पेश की। बारोज़ हफ्ते के दिन सलात-ओ-सलाम व फातिहा ख्वानी के बाद मुल्क में अमन -ओ-अमआन, तरक्की, और अमन चैन के लिए दुआ की गई। उर्स के मौके पर मौलाना खालिद मियां, निशात मियां की देखरेख में उसके सभी कार्यक्रम संपन्न हुए। वही जलसे की निजामत हाफिज अनवर अहमद कादरी ने की। उर्स के इस मुबारक मौके पर हजरत नासिर मियां, हाजी प्यारे मियां, हाजी फरीद मियां, अब्दुल हफीज मियां, मौलवी अरशद मियां, साजिद मियां, साबिर मियां, हाफिज जुल्फिकार, तस्लीम मियां, हाफिज तौसीफ आदि मुख्य रूप से शामिल रहे। कुल शरीफ की फातिहा के बाद ज़यरीनों और अक़ीदतमंदों ने दरगाह पर पहुंचकर हाजिरी दी और फातिहा पढ़कर दुआएं मांगी।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उज़मा रशीद को अपना बेशकीमती वोट देकर भारी बहुमत से विजई बनाएं

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उजमा आदिल की हार की समीक्षा

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश