ऑल इंडिया आइडियल टीचर्स एसोसिएशन (आईटा) का बरेली में होगा शैक्षिक आयोजन,

रिपोर्ट-मुस्तकीम मंसूरी

बरेली (1 अक्टूबर 2023) शिक्षकों के प्रमुख संगठन ऑल इंडिया आइडियल टीचर्स एसोसिएशन द्वारा आयोजित एक पत्रकार वार्ता में आईटा के जिला संरक्षक बरेली अहमद अज़ीज़ खांन, जिला अध्यक्ष इरफान अली व स्टेट जनरल सेक्रेटरी मोहम्मद बदीउज्ज़मा ने संयुक्त रूप से पत्रकारों से वार्ता करते हुए बताया कि शिक्षकों के प्रमुख संगठन ऑल इंडिया


आइडियल टीचर एसोसिएशन की बरेली यूनिट ने एक मीटिंग में तय किया की बरेली में नई शिक्षा नीति पर एक संगोष्ठी आयोजित की जाएगी। जिसमें प्रतिभा का पोषण, और समाज को बदलना, आदर्श प्लेटफार्म, के केंद्रीय विषय पर आयोजित देशव्यापी राष्ट्रीय शैक्षिक अभियान का हिस्सा है। आईटा के बरेली यूनिट अध्यक्ष इरफान अली ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि आईटा शिक्षकों का एक राष्ट्रव्यापी पंजीकृत संगठन है। इसकी स्थापना सन् 1992 में हुई। अपनी नीतियों और कार्यक्रमों के साथ यह देश के करीब 19 राज्यों में विभिन्न शैक्षिक गतिविधियां सफलतापूर्वक अंजाम दे रही है। उक्त शैक्षिक अभियान भी इसी की एक कड़ी है।

आईटा शिक्षकों को वैचारिक परिपक्वता, शिक्षण कौशल में निपुणता और अपने पेशेवर व्यक्तित्व में विकास करवाने के साथ ही उनके जायज़ अधिकारों के प्रति निरंतर संघर्षरत है।

हजारों शिक्षकों पर आधारित यह संगठन शिक्षा के बदलते परिदृश्य


के बीच अपनी शैक्षिक सेवाएं प्रदान कर रही है। और समाज के सकारात्मक बदलाव में अपना अमूल्य योगदान दे रही है। आईटा न केवल शिक्षकों के जायज़ अधिकारों की बात करता है, अपितु उन्हें अपने दायित्वों के निर्वहन के प्रति सचेत भी करता है।

राष्ट्रीय शैक्षिक अभियान के बारे में आईटा के स्टेट जनरल सेक्रेटरी मोहम्मद बदीउज्ज़मा ने बताया कि शिक्षकों और छात्रों के विकास में ही समाज का विकास निहित है। आईटा के सदस्य केंद्रीय, प्रदेश,  जिला और स्थानीय स्तर पर शैक्षिक गतिविधियों के द्वारा शिक्षकों को वैचारिक परिपक्वता, कौशल में निपुणता और अपने पेशे में दक्षता हासिल करने के लिए सेमिनार, सिंपोजियम, व्याख्यान, शैक्षिक विषयों पर कार्यशालाओं जैसी अहम गतिविधियों का आयोजन करना। अभियान के सोशल मीडिया प्रभारी इरफान अली ने अभियान के उद्देश्यों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि समाज में शिक्षकों की मर्यादा प्रतिष्ठा को स्थापित करने और समाज के प्रति उन्हें अपनी जिम्मेदारियां के प्रति सचेत करना है। इसी संदर्भ में बरेली के इस्लामिया गर्ल्स इंटर कॉलेज में आगामी 8 अक्टूबर 2023 को एक संगोष्ठी का आयोजन किया जाएगा। संगोष्ठी में सैयद तनवीर अहमद राष्ट्रीय तालीमी सेक्रेटरी जेआईएच, दिल्ली से सलमान असद डायरेक्टर जामिया  सआएहआत रामपुर से आ रहे हैं। संगोष्ठी में शैक्षिक संस्थानों के प्रबंधकों को यह याद दिलाना है कि वह अपने संस्थानों के अंदर ऐसा माहौल तैयार करें, जहां आधुनिक शिक्षा प्राप्त, तकनीक में दक्ष और उच्च नैतिक गुणों से लैस छात्र तैयार हो सके। इन्हीं उद्देश्यों के मद्देनजर यह देशव्यापी अभियान 24 सितंबर 2023 से 15 अक्टूबर 2023 तक केंद्र, प्रदेश, जिला और स्थानीय स्तर पर विभिन्न कार्यक्रम आयोजित हो रहे हैं। इस अवसर पर पैग़ाम ए इंसानियत के अध्यक्ष अहमद अज़ीज़ खांन ने 8 अक्टूबर के प्रोग्राम को समाज की तालीमी तरक्की के लिए जरूरी करार दिया। उन्होंने टीचर्स के साथ छात्रों एवं अभिभावकों से प्रोग्राम में प्रतिभाग करने की अपील की इस मुहिम में मौलाना अतीक अहमद इस्लाही एवं क़दीर अहमद सहित आईटा के अन्य सभी सदस्य मौजूद रहेंगे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उज़मा रशीद को अपना बेशकीमती वोट देकर भारी बहुमत से विजई बनाएं

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उजमा आदिल की हार की समीक्षा

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश