पीलीभीत-बहेड़ी लोकसभा सीट से सांसद वरुण गांधी ने अपने संसदीय क्षेत्र के दो दिवसीय दौरे के दौरान मंगलवार को ललौरीखेड़ा ब्लॉक में आयोजित जनसभाओं को संबोधित किया।*

बेताब समाचार एक्सप्रेस के लिए पीलीभीत से शाहिद खान की रिपोर्ट*

ब्लॉक के ग्राम भानपुर, हंडा, तेजनगर-मेहताब नगर, गौनेरी बदी, गौनेरी दान, गौनेरा, सूरजपुर शिवनगर, खुंडारा, चांददांडी, नूरपुर व ग्राम शाही में आयोजित जनसंवाद कार्यक्रमों में उन्होंने कहा कि वर्तमान राजनीति में शरीफ लोगों का हिस्सा कम होते जा रहा है। जो लोग राजनीति में आ रहे हैं उनकी सोंच कहीं न कहीं स्वार्थी है। वह सोंचते हैं


कि उनका फायदा हो और फायदा तुरंत हो जाए। राजनीति में क्रांति का प्रचलन कम होता जा रहा है। आज कोई बड़ी सोंच लेकर राजनीति में नहीं जाना चाहता। कहा कि वह सेवा के लिए राजनीति में आए हैं। उन्होंने कहा कि जितना वरुण गांधी बेबाकी से बोला, उसके पीछे एक कारण था कि देश का भला हो, उत्तर प्रदेश व किसान का भला हो।

आज भी जब आप थाने, तहसीलदार या अन्य किसी अधिकारी से मिलने जाते हैं तो वहां भले ही अफसर आपके बेटे की उम्र का हो, आपको अपनी बात दबी जुबां से करनी पड़ती है। आपके हमारे पूर्वजों ने अंग्रेजों से लड़ाई इसलिए लड़ी थी कि हिंदुस्तानियों को दबना न पड़े। आज के समय में कोई आम व्यक्ति लोन लेने जाए तो मुश्किल से दो चार लाख का मिलता है। लोन अदा करने में देर हो जाती है तो कुर्की, जेल भेजने की धमकी दी जाती है। बड़े-बड़े लोगों के दस दस हजार करोड़ के लोन पता नहीं कहां से आ रहे। दिल्ली बंबई के लड़कों को रोजगार मिल रहा लेकिन  ललौरीखेड़ा वालों या अन्य क्षेत्रवासियों को नहीं मिलता।  पैसे वाला तेजी से आगे बढ़ रहा है, गरीब जरुरतमंद पिछड़ता जा रहा है। उन्होंने कहा कि आप लोग किन्हीं कारण वश जो बात नहीं कह पाते हैं, आपकी आवाज बनकर वरुण गांधी उन्हीं मुद्दों को उठाता रहा है, ताकि आपके बच्चों को आगे दबना न पड़े।

जनसंवाद कार्यक्रमों के बाद उन्होंने लोगों की समसाएं सुनी और संबंधित अधिकारियों को उनके निस्तारण के लिए जरूरी निर्देश भी दिए। सांसद का जगह-जगह कार्यकर्ताओं ने भव्य स्वागत किया और उनके जिंदाबाद के नारे भी लगाए।

सुबह में सांसद वरुण गांधी ने शंकर सॉल्वेंट पर जनसमसाएं सुनी और कार्यकर्ताओं से मुलाकात की। उसके बाद वह शहर में अपने खास समर्थक व भीम सिंह चौहान की पत्नी तथा अपने करीबी कार्यकर्ता शाहबुद्दीन खां के पिता व शाही के पूर्व प्रधान डॉ बच्चन का निधन हो जाने पर उनके घर गए और शोकाकुल परिवार से मिलकर संवेदनाएं व्यक्त की और ढांढस बंधाया।

कार्यक्रमों में प्रमुखरूप से सांसद सचिव कमलकांत, प्रभारी विवेक चौहान, प्रतिनिधि अमित गंगवार, अभिषेक पांडेय, राधे गंगवार, लवकुश, सूरज शुक्ला, छेदालाल गंगवार, निर्दोष गंगवार, गुड्डू गंगवार, बंटी मिश्रा, रुपेश गंगवार, राजेश गंगवार, नन्हेंलाल,सतेंद्र वर्मा, बबलू गंगवार, बालकराम वर्मा, जगदीश लोधी, सुमित गंगवार, सतीश गुप्ता, सुमित मिश्रा, दीपक पांडेय, मोहसिन, शब्बू आदि मौजूद रहे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उज़मा रशीद को अपना बेशकीमती वोट देकर भारी बहुमत से विजई बनाएं

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उजमा आदिल की हार की समीक्षा

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश