कुंजर बारामूला में पुलिस ने अलग-अलग कानून प्रवर्तन अधिकारियों के रूप में काम करने वाले व्यक्ति को गिरफ्तार किया*

 इशफाक वागे/

जम्मू-कश्मीर श्रीनगर, 14 अगस्त:* ```एक महत्वपूर्ण घटनाक्रम में, एक धोखेबाज व्यक्ति जो कानून प्रवर्तन अधिकारियों के रूप में प्रतिरूपण कर रहा था और निर्दोष नागरिकों को धोखा दे रहा था, को बारामूला में पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।  आरोपी की पहचान मुश्ताक अहमद वानी पुत्र गुलाम मोहम्मद वानी निवासी बरजुल्ला धोबीवन तहसील करहामा के रूप में हुई है, जिसे लिखित शिकायत के बाद पुलिस ने हिरासत में ले लिया। जांच से यह साबित हो गया है कि आरोपी लोगों को धोखा देने के लिए, खुद को सब-


इंस्पेक्टर और पुलिस उपाधीक्षक दोनों के रूप में पेश करके झूठे दिखावे के तहत काम कर रहा था।  इस कपटपूर्ण योजना के माध्यम से, आरोपी शिकायतकर्ता से धोखाधड़ी से ₹90,000 रुपये निकालने में कामयाब रहा। जांच के दौरान, कुन्ज़र पुलिस स्टेशन गलत तरीके से कमाए गए ₹40,000 रुपये बरामद करने और जब्त करने में सक्षम रहा, जो विभिन्न धोखाधड़ी गतिविधियों के माध्यम से अर्जित किए गए थे।  मामला पुलिस स्टेशन कुंजर में एफआईआर संख्या 83/2023 धारा 419, 420 आईपीसी के तहत दर्ज किया गया है और आगे की जांच जारी है। यह सफल ऑपरेशन गलत काम करने वालों को न्याय के कटघरे में लाने और जनता के हितों की रक्षा करने के लिए कानून प्रवर्तन एजेंसियों के समर्पण और प्रतिबद्धता को दर्शाता है।  शिकायतकर्ताओं और कानून प्रवर्तन के बीच सहयोग ने इस मामले का त्वरित समाधान सुनिश्चित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

अधिकारी संदिग्ध गतिविधियों की रिपोर्ट करने में नागरिकों की सतर्कता की सराहना करते हैं और सभी से अज्ञात व्यक्तियों से निपटने के दौरान सतर्क रहने का आग्रह करते हैं।  मुश्ताक अहमद वानी की गिरफ्तारी एक कड़ा संदेश देती है कि आपराधिक गतिविधियां अनियंत्रित नहीं होंगी, और निर्दोष लोगों के विश्वास का फायदा उठाने का प्रयास करने वाले व्यक्तियों को कानूनी परिणाम भुगतने होंगे।''

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उज़मा रशीद को अपना बेशकीमती वोट देकर भारी बहुमत से विजई बनाएं

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उजमा आदिल की हार की समीक्षा

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश