इस नफरत भरे माहौल में क्या मुस्लिम समाज भाजपा की ओर जाएगा..!!

बेताब समाचार एक्सप्रेस के लिए मुस्तकीम मंसूरी की खा़स रिपोर्ट, 

क्या विपक्षी पार्टियां मुस्लिमों को कर पाएंगे आकर्षित?

  लखनऊ, देश की राजनीति में कब क्या करवट ली जाए यह तो समय ही बताता है| लेकिन देखने में यह आ रहा है| कि जब से विपक्षी पार्टियां एकजुट हो रही है| तो भाजपा के लिए खतरे की घंटी बजती हुई नजर आ रही है| और इस घंटी के बजने के बाद भाजपा मुस्लिम वोटर्स को लुभाने के लिए जी जान से जुट गई है| लेकिन वहीं दूसरी ओर यह भी सवाल पैदा हो रहा है| कि जैसे-जैसे देश में नफरत बढ़ रही हैं|


तो क्या मुस्लिम समाज भाजपा की ओर जाएगा या कांग्रेस के साथ अन्य पार्टियों को समर्थन करेगा| लेकिन यह भी बोला नहीं जा सकता है कि ओवैसी की तरफ भी मुस्लिमों का रुझान काफी बढ़ रहा है!विपक्षी दलों और भाजपा की कवायद को देखते हुए लोकसभा 2024 के चुनाव में मुसलिम मतदाताओं पर सभी की निगाहें होंगी! भाजपा ने जून से उत्तर प्रदेश के इस्लामिक शिक्षा केंद्र देवबंद से मुसलमानों को भाजपा से जोड़ने के लिए ‘मोदी मित्र’ कार्य योजना पर कार्य करना शुरू कर दिया है!इस योजना के तहत देश भर की 65 लोकसभा सीटों से करीब कई लाख मुसलिमों को भाजपा से जोड़ा जाएगा!राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़े राष्ट्रीय मुसलिम मंच की ओर से समान नागरिक संहिता के समर्थन के लिए मुसलिम समाज को तैयार किया जा रहा है!उत्तर प्रदेश के निकाय चुनाव में भी भाजपा ने करीब 350 मुसलिम पार्षदों को टिकट दिया था| जिसमें से 75 को जिताने में कामयाब भी रही  और नगर पालिका तथा नगर पंचायत में भी भाजपा के मुसलिम प्रत्याशियों ने अध्यक्ष पद का चुनाव जीता है!दरअसल कर्नाटक चुनाव में मिली हार के बाद भाजपा की समझ में आ चुका है| कि मुसलिम समाज को भी साथ लेने से 2024 की राह आसान होगी! यह स्पष्ट है कि भाजपा का यह राजनीतिक दांव है सबका साथ सबका विश्वास के सिद्धांत पर मुसलमानों को जोड़ रही है!भाजपा की यह रणनीति कितनी कामयाब होती है और कितना समर्थन भाजपा को मिलता है यह वक्त बताएगा!लेकिन मुसलिम बाहुल्य वाले लोकसभा चुनाव क्षेत्रों में विपक्षी एकता की अग्निपरीक्षा होगी। वहीं भाजपा के खिलाफ़ विपक्षी एकता से जो अलग हटकर जाएगा वह भाजपा का मददगार कहलाएगा|

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उजमा आदिल की हार की समीक्षा

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश

विधायक अताउर्रहमान के भाई नसीम उर्रहमान हज सफर पर रवाना