शंकराचार्य अविमुक्तेश्वरानंद ने लव जिहाद पर बड़ा बयान दिया विरोध करने पर शंकराचार्य भाजपा सांसद राजेंद्र अग्रवाल पर भड़क गए

 मेरठ। शंकराचार्य अविमुक्तेश्वरानंद ने लव जिहाद पर बड़ा बयान दिया है। वहीं, विरोध करने पर शंकराचार्य भाजपा सांसद पर भड़क गए। इस दौरान दोनों के बीच खूब तीखी बहस हुई।लव जिहाद को लेकर बुधवार को ज्योतिष पीठ के शंकराचार्य अविमुक्तेश्वरानंद ने भाजपा और संघ पर तीखा हमला बोला। इस मामले को लेकर शंकराचार्य और भाजपा सांसद राजेन्द्र अग्रवाल के बीच तीखी बहस हो गई।


इसके बाद शंकराचार्य के सेवकों ने सांसद को मन्दिर से बाहर निकाल दिया।गढ़ रोड स्थित राज राजेश्वरी मंदिर में चल रहे श्रीराम दरबार और पंच मुखी हनुमान जी की प्राण प्रतिष्ठा समारोह में भाग लेने के लिए ज्योतिष पीठ के शंकराचार्य अविमुक्तेश्वरानंद पहुंचे। इस समारोह में भाजपा और आरएसएस के पदाधिकारी भी बुलाये गए थे। वहां पर शंकराचार्य अविमुक्तेश्वरानंद ने कहा कि लव जिहाद पर कानून बनाने से क्या होगा, जब भाजपा की ही दोहरी नीति है। इस पर वहां उपस्थित आरएसएस के महानगर संघचालकसंघ विनोद भारतीय ने विरोध जताया और कहा कि आपको ऐसा नहीं बोलना चाहिएइस पर शंकराचार्य भड़क गए। उन्होंने कहा कि संघियों का यही रवैया है। अब तुम मुझे सिखाओगे, मुझे क्या बोलना चाहिए। मैने कुछ गलत नहीं बोला है।इस गहमा-गहमी को लोगों ने हस्तक्षेप कर शांत कराया।


इसके बाद भाजपा सांसद राजेंद्र अग्रवाल भी शंकराचार्य के दर्शन करने पहुंच गए। उन्होंने विवाद के विषय में बात करनी चाही तो शंकराचार्य उन पर भी भड़क गए।गुस्साए सांसद ने कहा कि मैं आपको भी सन्यासी मानने से इंकार करता हूं। इस बीच दोनों में तीखी बहस हुई। इसके बाद शंकराचार्य के सेवकों ने सांसद को खींचकर कमरे से बाहर निकाल दिया। इस बारे में सांसद का कहना है कि वे निमंत्रण पर मंदिर गए थे। शंकराचार्य को ऐसा व्यवहार नहीं करना चाहिए था। यह सन्यासी या शंकराचार्य का व्यवहार नहीं है


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उज़मा रशीद को अपना बेशकीमती वोट देकर भारी बहुमत से विजई बनाएं

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उजमा आदिल की हार की समीक्षा

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश