उत्तरकाशी के पुरोला में हिंदू संगठनों के लोगों द्वारा सत्ता संरक्षण में लव जिहाद के नाम पर खुलेआम मुस्लिम समुदाय को दी जा रही धमकियों से भयभीत मुस्लिम परिवार कर रहे हैं पलायन| मुस्तकीम मंसूरी

 उत्तरकाशी के पुरोला में हिंदू संगठनों के लोगों द्वारा सत्ता संरक्षण में लव जिहाद के नाम पर खुलेआम मुस्लिम समुदाय को दी जा रही धमकियों से भयभीत  मुस्लिम परिवार कर रहे हैं पलायन|

मुस्तकीम मंसूरी

बेताब समाचार एक्सप्रेस के लिए लखनऊ से ब्यूरो रिपोर्ट,

भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा उत्तरकाशी के जिला अध्यक्ष जाहिद मलिक ने असुरक्षित होकर परिवार सहित किया पलायन|

लखनऊ, ऑल इंडिया मुस्लिम मजलिस के राष्ट्रीय महासचिव उत्तराखंड प्रभारी मुस्तकीम मंसूरी ने  उत्तरकाशी के पुरोला नगर क्षेत्र में लव जिहाद का आरोप लगाकर पुरोला क्षेत्र के मुस्लिम दुकानदारों को भगाने और मुस्लिम समाज को उत्तरकाशी खाली करने की हिंदू संगठनों के लोगों द्वारा चेतावनी दिए जाने पर गहरी चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि एक तरफ देश के प्रधानमंत्री सबका साथ सबका विकास और सबके विश्वास की बात करते हैं परंतु भाजपा शासित राज्य उत्तराखंड में मुस्लिम समुदाय के लोगों को डराने और भयभीत करने का कार्य किया जा रहा है|  सत्ता संरक्षण में हिंदू संगठनों द्वारा खुलेआम मुस्लिम समुदाय को दी जा रही धमकियों से भयभीत जहां कई परिवार पलायन कर चुके हैं वहीं भारतीय जनता पार्टी अल्पसंख्यक मोर्चा उत्तरकाशी के जिलाध्यक्ष जाहिद मलिक द्वारा परिवार सहित उत्तरकाशी से पलायन कर देहरादून चले जाना अत्यंत चिंता का विषय है|

उत्तराखंड प्रभारी मुस्तकीम मंसूरी ने कहा उत्तरकाशी में जो लव जिहाद का आरोप लगाकर मुस्लिम दुकानदारों को भगाया जा रहा है, वह मामला लव जिहाद का नहीं बल्कि के प्रेम प्रसंग का मामला है| जिस लड़की को भगाने का मामला बताकर पूरे मामले को धार्मिक रंग देकर लव जिहाद बताकर हिंदू मुस्लिम का राग अलापा जा रहा है वह सरासर गलत और बेबुनियाद है| मुस्तकीम मंसूरी ने कहा जिस लड़की को भगाने का आरोप उबैद खान पर लगाया जा रहा है, उस लड़की का प्रेम प्रसंग एक हिंदू लड़के जितेंद्र सैनी जो यूपी के बिजनौर का रहने वाला है उसके साथ चल रहा है| जितेंद्र सैनी और उबैद खांन दोनों आपस में दोस्त है दोनों दोस्त और लड़की साथ घूम रहे थे ना कि कहीं भाग रहे थे| लड़की को भगाने का आरोप झूठा और निराधार है| मुस्तकीम मंसूरी ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी पर आरोप लगाते हुए कहा कि इस मामले में प्रशासन भी धार्मिक उन्माद फैलाने वालों के साथ खड़ा नजर आ रहा था जो इस बात का संकेत है| आज उत्तराखंड में हिंदू संगठनों द्वारा जो कुछ हिंदू-मुस्लिम का खेल खेला जा रहा है उसको सत्ता का संरक्षण प्राप्त है| मुस्तकीम मंसूरी ने कहा कि पुष्कर सिंह धामी प्रदेश की सत्ता संभालने में विफल साबित हुए हैं| धामी के कार्यकाल में कमरतोड़ महंगाई, चरम पर पहुंच चुके भ्रष्टाचार, बेरोजगारी, और बढ़ते हुए क्राइम पर से प्रदेश की जनता का ध्यान भटकाने और सरकार की विफलता को छुपाने के लिए लव जिहाद के नाम पर सत्ता के संरक्षण में मुस्लिम समुदाय को डराने और भयभीत करने के लिए हिंदू-मुस्लिम का खेल खेला जा रहा है| उसके परिणाम कर्नाटक की तरह केंद्र व अन्य राज्यों में भी भाजपा को सत्ता से बेदखल करने के लिए काफी है|

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सपा समर्थित उम्मीदवार श्रीमती उजमा आदिल की हार की समीक्षा

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश

विधायक अताउर्रहमान के भाई नसीम उर्रहमान हज सफर पर रवाना