समाजवादी पार्टी पीलीभीत के जिला कार्यालय पर समाजवादी पार्टी के संस्थापक व पूर्व मुख्यमन्त्री मुलायम सिंह यादव को श्रधान्जली दी गई।

बेताब समाचार एक्सप्रेस के लिए पीलीभीत से शाहिद खान की रिपोर्ट

अपने प्रिय नेता को श्रधान्जली देते हुए हुए नि. जिलाध्यक्ष जगदेव सिंह जग्गा ने कहा कि समाजवादी सोच के साथ ज़मीन से जुड़े रहने के कारण ही उन्हे धरती पुत्र की संज्ञा दी गई। मुख्यमन्त्री और रक्षा मंत्री रहते हुए उन्होंने आजीवन समाजवादी उसूलों को नही छोड़ा। 




जिस कारण विपक्ष ने हमेशा ही उनका समान किया। संविधान और समाजवाद के उसूलों से उन्होंने पूरे जीवन समझौता नहीं किया। डा. लोहिया व समाजवादी उसूलों पर डटे रहने से ही उन्हे सच्ची श्रधान्जली दी जा सकती है। पूर्व विधायक अरशद खां ने नेताजी को याद करते हुए कहा कि उन्होंने आजीवन सभी वर्गों के लिए संघर्ष किया और सामाजिक न्याय हेतु आवाज़ बुलंद की। नाम मुलायम होने के बावुजूद उन्हे उसूलों की खातिर सख़्त फैसले भी लेने पड़े। इसी लिए वह जनता के चहेते नेता बने और भारतीय राजनीति में अमिट छाप छोड़ी। 

निवर्तमान जिला महासचिव यूसुफ क़ादरी ने अपने महबूब नेता को खिराज ए मोहब्बत पेश करते हुए कहा कि यथार्थ के धरातल पर उन्होंने कभी सिद्धांतों की राजनीति से समझौता नहीं किया बल्कि देश की अखंडता के साथ साथ अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर देश की साख बढ़ाई। उनकी कमी को पूरा नही किया सकता। 

एक स्वर में सभी ने कहा कि समाजवादी सिद्धांतों को मजबूती से पकड़े रहने से, सामाजिक न्याय व जनहित के मामलों पर आवाज़ बुलंद करने से ही नेता जी को सच्ची श्रधान्जली होगी। 

इस मौके पर उपस्थित पार्टी के पदाधिकारी निवर्तमान जिलाध्यक्ष जगदेव सिंह जग्गा, पूर्व विधायक अरशद खाँ, ज़िला महासचिव यूसुफ क़ादरी, पूर्व चेयरमैन राजीव अग्रवाल टी टी, पूर्व ब्लॉक प्रमुख अरुण वर्मा, आसिफ अली क़ादरी, नरेंद्र मिश्र कट्टर, कांशीराम सरोज, ज़िला पंचायत सदस्य असलम जावेद अंसारी, नफीस अहमद अंसारी, कमलेश परिहार, पूर्व डी.जी. सी. अमित पाठक, संजय खां, संदीप सक्सेना, शरद जायस्वाल, ज़िया उल इस्लाम गुड्डू, हैदर जाफ़री, शराफत यार खां, अकबर अहमद अंसारी, शरफुद्दीन नूरी, मुजाहिद इस्लाम खां, शोएब अली, शहज़ाद शम्सी, सलमान मलिक, के के पाल, सुरेश वर्मा, मेहंदी रज़ा, सारिका रज़ा, शिबू मलिक, अप्रोष यादव, मोहम्मद याकूब, हसन खां, अक्लीम खां, हरपाल सिंह, वली शेर खां, प्रेम शंकर, अब्दुल क़ादिर अंसारी सहित काफी संख्या में सपा नेता शामिल रहे। इसके अलावा जनपद के विभिन्न स्थानों पर भी सपा संस्थापक व पूर्व मुख्यमन्त्री मुलायम सिंह यादव को श्रधान्जली दी गई।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बरेली के बहेड़ी थाने में लेडी कांस्‍टेबल के चक्‍कर में पुलिस वालों में चलीं गोलियां, थानेदार समेत पांच पर गिरी गाज

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

लोनी नगर पालिका परिषद लोनी का विस्तार कर 11 गांव और उनकी कॉलोनियों को शामिल कर किया गया