देश भर में आक्रोश , विरोध और प्रदर्शन हुए कि "गुस्ताख़ रसूल को सख़्त सज़ा दो"

नई दिल्ली (अनवार अहमद नूर)

भारतवर्ष में पैग़ंबर मोहम्मद साहब पर विवादित टिप्पणी के ख़िलाफ़ और दोषियों ,'नूपुर शर्मा व नवीन जिंदल' को कठोर सज़ा की मांग को लेकर जुमे की नमाज़ के बाद कई राज्यों के, अनेक शहरों में विरोध प्रदर्शन हुए जिनमें कई स्थानों  पर प्रदर्शनों में हिंसा के भी समाचार हैं।

पश्चिम बंगाल के हावड़ा ज़िले में तनावपूर्ण हालात के मद्देनज़र 13 जून सुबह 6 बजे तक इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गई हैं।







महाराष्ट्र के नवी मुंबई में सैंकड़ों की संख्या में महिलाओं ने पैग़ंबर मोहम्मद साहब के मामले को लेकर विवादित बोल बोलने वाले बीजेपी के नेताओं के ख़िलाफ़ विशाल रैली निकाली। सोलापुर में भी बड़ी संख्या में लोग जमा हुए और नारेबाज़ी की।

उत्तर प्रदेश के अलग अलग शहरों में सैकड़ों की संख्या में लोगों ने विरोध प्रदर्शन किया और पैग़ंबर मोहम्मद पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने वालों को गिरफ्तार करने की मांग की। कई जगहों से आगज़नी और पत्थरबाजी और टकराव की खबरें भी आई हैं। मुरादाबाद में सैकड़ों लोगों ने नारेबाजी की। लोगों को हटाने के लिए पुलिस ने बल प्रयोग किया। प्रयागराज में विरोध प्रदर्शन और पत्थरबाज़ी की खबर है।

भीड़ को हटाने के लिए रैपिड एक्शन फोर्स ने आँसू गैस के गोले चलाए हैं। सड़कों पर खड़ी कई रिक्शाओं में आग लगा दी गई है।

सहारनपुर और देवबंद में पुलिस ने सख़्ती करते हुए लोगों को प्रदर्शन नहीं करने देने के लिए रोका मगर फिर भी बड़ी संख्या में लोगों ने  सड़कों पर उतर कर विरोध प्रदर्शन किया। और अपना रोष जताया।

लखनऊ की विभिन्न मस्जिदों में भी लोगों ने अपने रोष को प्रकट किया।  यहां टीले वाली मस्जिद के बाहर सुरक्षा के कड़े प्रबंधों के बीच भी लोगों ने अपनी नाराज़गी जताई है।

उत्तर प्रदेश के एडीजी लॉ एंड ऑर्डर, प्रशांत कुमार ने एक बयान जारी कर कहा है कि पैग़ंबर मोहम्मद के ख़िलाफ़ विवादित टिप्पणी को लेकर हुए विरोध प्रदर्शनों में अब तक सैकड़ों लोगों की गिरफ्तारी की जा चुकी है। उन्होंने कहा, "कुछ लोगों ने जानबूझकर शांति व्यवस्था भंग करने की कोशिश की है. जिसके बाद प्रशासन ने त्वरित कार्रवाई करते हुए अलग-अलग जगहों से सैकड़ों  लोगों की गिरफ्तारी की है। ये गिरफ्तारियां मुरादाबाद, सहारनपुर, अंबेडकरनगर, प्रयागराज और फिरोज़ाबाद में हुई हैं। साथ ही उन्होंने कहा, "तोड़फोड़ करने वालों की पहचान कर ली गई है और उनके ख़िलाफ़ गंभीर धाराओं में अभियोग दर्ज किया जा रहा है. जो भी सरकारी और प्राइवेट संपत्ति की क्षति हुई है उसकी दंगाइयों से वसूली की जाएगी। इन लोगों के विरुद्ध गैंगस्टर एक्ट लगाया जाएगा और उनकी संपत्ति जब्त की जाएगी।

राजधानी दिल्ली की जामा मस्जिद के बाहर लोगों ने हाथों में पोस्टर और बैनर लेकर नारेबाज़ी और प्रदर्शन किया। जबकि प्रदर्शन को लेकर जामा मस्जिद के शाही इमाम अहमद बुखारी ने कहा है कि मस्जिद कमेटी की ओर से प्रदर्शन का कोई आह्वान नहीं किया गया था। 

 पश्चिम बंगाल के हावड़ा जिले में कई जगहों पर धरना प्रदर्शन और आगज़नी का दौर जारी रहा। भाजपा नेताओं की गिरफ्तारी की मांग कर रहे लोगों ने उग्रता दिखाई। डोमजूड़ थाने के कुछ पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। ज़िले के पांचला ग्रामीण उलूबेड़िया इलाक़े में भाजपा के एक दफ्तर के अलावा कुछ वाहनों में भी आगज़नी हुई है। इससे पहले बृहस्पतिवार को भी इसी मुद्दे पर सैकड़ों लोगों ने हाईवे पर वाहनों की आवाजाही ठप कर दी थी। जिसे मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की अपील पर ख़त्म किया गया था। ये लोग नूपुर शर्मा और नवीन जिंदल को फौरन गिरफ्तार करने की मांग कर रहे थे।

हावड़ा ज़िले में तनावपूर्ण हालात के मद्देनज़र 13 जून सुबह 6 बजे तक इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गई हैं। ज़िले के चेंगाइल इलाके में रेल की पटरियों पर धरना-प्रदर्शन की वजह से हावड़ा-खड़गपुर सेक्शन में करीब सात घंटे तक ट्रेनों की आवाजाही ठप रही।

नूपुर शर्मा के बयान को लेकर बिहार में भी गुस्सा देखा गया। पटना और आरा में जुमे की नमाज़ के बाद प्रदर्शन हुए जबकि भागलपुर में बाजार बंद रहे। बक्सर, सीवान, और नवादा से नूपुर शर्मा के बयान पर विरोध प्रदर्शन की खबरें मिली हैं। 

हैदराबाद में मस्जिद के बाहर लोगों ने विरोध प्रदर्शन किया। हालात को काबू में रखने के लिए सीआरपीएफ को तैनात किया गया ।

देश भर में पूर्व भाजपा नेताओं के विवादित बयान से नाराज़ मुस्लिम समुदाय के लोगों ने शुक्रवार को जुलूस निकालकर अपनी नाराज़गी प्रकट की है। जुलूस में शामिल लोगों ने नूपुर शर्मा व नवीन जिंदल को अविलंब गिरफ्तार करो, उन्हें कठोर से कठोर सज़ा दो आदि नारे लगाये। लोगों के हाथों में तख्तियां थीं जिसमें नूपुर शर्मा व नवीन जिंदल को गिरफ्तार करने के लिए नारे लिखे हुए थे तथा चेहरों पर आक्रोश था।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बरेली के बहेड़ी थाने में लेडी कांस्‍टेबल के चक्‍कर में पुलिस वालों में चलीं गोलियां, थानेदार समेत पांच पर गिरी गाज

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

लोनी नगर पालिका परिषद लोनी का विस्तार कर 11 गांव और उनकी कॉलोनियों को शामिल कर किया गया