गत् 8 मई को दो आदिवासी युवकों की गयी हत्या मामले में अभी तक नही हुई हत्यारो की गिरफ्तारी - इफ्तेखार महमूद

महुआटांड़ थाना क्षेत्र के सिमराबेड़ा निवासी 26 वर्षीय महावीर  मरांडी एवं 25 वर्षीय प्रदीप हांस्दा के पीड़ित परिवार से भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के राज्य कार्य समिति के सदस्य इफ्तेखार महमूद के नेतृत्व में पार्टी का प्रतिनिधिमंडल मिला और हत्या एवं उसके बाद की स्थिति की जानकारी लिया। उल्लेखनीय है कि गत् 8 मई को उपर्युक्त दोनों आदिवासी युवकों की हत्या कर दी गई है। इस मामले में अभी तक अपराधियों की गिरफ्तारी नहीं हुई है।


पीड़ित परिवार से मिलने के बाद इस संवाददाता से बात करते हुए इफ्तेखार महमूद ने बतलाया कि सिमराबेड़ा, कंडेर, धवैया- ये सब सदैव शांतिपूर्ण इलाका रहा है, किंतु एक साथ दो युवकों की हत्या से पूरा इलाका अचंभित है। पीड़ित परिवार के साथ-साथ सिमराबेड़ा- कन्डेर के लोग अपराधियों का पता करने में पुलिस को पूरा सहयोग कर रहे हैं। मांगे जाने पर पीड़ित परिवार के अतिरिक्त गांव के दर्जनों लोगों ने अपना अपना मोबाइल फोन थाना को दे दिये है।

 श्री महमूद ने कहा कि अपराधियों का उद्भेदन करने में अब विलंब हो रहा है। उन्होंने कहा कि पूर्व में महुआटांड थाना में पदस्थापित रहे पुलिस अधिकारियों को भी महावीर मरांडी एवं प्रदीप हांस्दा के हत्यारों को पता लगाने में लगाना चाहिए।श्री महमूद ने मृतक महावीर मरांडी की 21 वर्षीय पत्नी मनीषा भारती, पिता  हीरालाल मांझी एवं माता पैरों देवी के अलावा समाजसेवी श्री बीराम मरांडी, राजेश मांझी, सोनू मांझी (शिक्षक), जितेंद्र मांझी से भी जानकारी हासिल किया। प्रतिनिधिमंडल में जिला परिषद सदस्य मुकुंद साव, शाखा सचिव राजेश करमाली, तथा महताब आलम शामिल थे।        


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बरेली के बहेड़ी थाने में लेडी कांस्‍टेबल के चक्‍कर में पुलिस वालों में चलीं गोलियां, थानेदार समेत पांच पर गिरी गाज

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

लोनी नगर पालिका परिषद लोनी का विस्तार कर 11 गांव और उनकी कॉलोनियों को शामिल कर किया गया