मंडोला योजना बिहार के किसानों ने स्थगित की महापंचायत

 आज दिनांक 14/01/2022 को मंडोला विहार योजना से प्रभावित किसानों का धरना आवास विकास परिषद के क्षेत्रीय कार्यालय परिसर में ही जारी रहा । अपनी अधिग्रहित जमीन के मुआवजे को भूमि अधिग्रहण अधिनियम 2013 से दिए जाने की मांग को लेकर मंडोला समेत छः गांव के किसान 2 दिसंबर 2016 से गांधीवादी सत्याग्रह आंदोलन करते आ रहे हैं लेकिन कोई समाधान नहीं होने से गुस्साए किसान पिछले सप्ताह कड़ाके की ठंड में अपने शरीर को ही कष्ट देते हुए अर्धनग्न होकर  परिषद के अधीक्षण अभियंता  कार्यालय के मुख्य द्वार को बंद करके भूख हड़ताल पर बैठ गए थे जिसमे किसानों और पुलिस प्रशासन के बीच टकराव भी हुआ जिसमे कई किसानों और किसान परिवार की महिलाओं के साथ साथ कई पुलिस कर्मी भी चोटिल हुए । 


आज धरनारत किसानों ने कोविड् 19 महामारी के बढ़ते प्रकोप के दृष्टिगत मंडोला विहार योजना से प्रभावित किसानों द्वारा आयोजित की जाने वाली महापंचायत जो कि दिनांक 15/01/2022 को होनी थी उसे स्थगित करने का निर्णय लिया गया है । 

एसडीएम लोनी संतोष यादव ने किसान सत्याग्रह आंदोलन के संयोजक मास्टर महेंद्र सिंह त्यागी से फोन पर बात करके अधीक्षण अभियंता कार्यालय के गेट पर बैठे किसानों को वहां से हटाने का आग्रह किया व कोविड 19 महामारी एवं आदर्श आचार संहिता संबंधी सरकार के दिशानिर्देशों का पालन करने की अपील की तो किसान नेताओ ने प्रशासनिक अधिकारियों को आश्वस्त करते हुए महापंचायत स्थगित करने के साथ ही अधीक्षण अभियंता कार्यालय के मुख्य द्वार से अलग हटकर आदर्श आचार संहिता व कोविड 19 के लिए सरकार के निर्देशों का पालन करते हुए परिसर के पार्क में बैठकर अपना सत्याग्रह जारी रखने की बात कही है ।


नीरज त्यागी

9811605124

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बरेली के बहेड़ी थाने में लेडी कांस्‍टेबल के चक्‍कर में पुलिस वालों में चलीं गोलियां, थानेदार समेत पांच पर गिरी गाज

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

लोनी नगर पालिका परिषद लोनी का विस्तार कर 11 गांव और उनकी कॉलोनियों को शामिल कर किया गया