मुसलमान जान दे देगा लेकिन अपने नबी की शान में गुस्ताख़ी बर्दाश्त नहीं करेगा - कलीमुल हफ़ीज़

 ऑल इंडिया मजलिस इत्तेहादुल मुस्लिमीन दिल्ली अध्यक्ष ने मलउन वसीम रिज़वी के ख़िलाफ़ शाहीन बाग थाने में कराई एफ़ आई आर 

प्रेस रिलीज़ 18 नवंबर 2021 मुर्तद और मलऊन वसीम रिज़वी को गिरफ्तार करके फौरन जेल भेजा जाए। कहीं ऐसा ना हो कि कोई जान निसारे रसूल कानून अपने हाथ में ले और गुस्ताख़ ए रसूल को नुक़सान पहुंचा दें। हुकूमत की ज़िम्मेदारी है कि वह मुसलमानों के जज़्बातों को मजरूह करने वालों की सरपरस्ती करना बंद करें।


इन विचारों को ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन दिल्ली के अध्यक्ष कलीमुल हफ़ीज़ ने शाहीन बाग पुलिस स्टेशन में उसके ख़िलाफ़ एफ आई आर दर्ज कराने के बाद मीडिया से ख़िताब करते हुए व्यक्त किया। इस मौक़े पर मजलिस के कार्यकर्ता और पदाधिकारी भी मौजूद थे । कलीमुल हफ़ीज़ ने कहा कि हजरत मुहम्मद सल्लल्लाहु अलैहि सल्लम हमारा ईमान भी है और जान भी । मुसलमान ज़मीन पर सबसे ज्यादा अगर मोहब्बत करता है तो अपने नबी सल्लल्लाहु अलैही वसल्लम से करता है हम सब कुछ बर्दाश्त कर सकते हैं लेकिन अपने रसूल की तौहीन बर्दाश्त नहीं कर सकते। सिर्फ मुसलमान ही नहीं कोई भी क़ौम अपने पैगंबर और महापुरुषों का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती और ना करना चाहिए। किसी को भी यह हक़ नहीं कि किसी के धर्मगुरु की शान में गुस्ताखी करें मजलिस अध्यक्ष ने कहा कि मौजूदा सरकार मुसलमानों को तकलीफ़ और दुख पहुंचाने वालों की सरपरस्ती कर रहे है इसलिए मुजरिमों के हौसले बुलंद है हजरत मोहम्मद सल्लल्लाहो अलैही वसल्लम सारी इंसानियत के पैगंबर है हुकूमत को चाहिए कि वह वसीम रिज़वी को गिरफ्तार करें और जेल भेजे वसीम की असल जगह जेल ही है उसने क़ानून के ख़िलाफ़ अमल किया है।कलीमुल हफ़ीज़ ने कहा कि हर शख़्स को अपनी पसंद का मज़हब अपनाने का इख़्तेयार है वसीम सनातन धर्म अपना सकते हैं मगर किसी को हज़रत मोहम्मद सल्लल्लाहो अलैही वसल्लम की शान में गुस्ताखी करने का हक़ नहीं है भारत के कानून के अनुसार भी जुर्म है।। पुलिस को क़ानून के अनुसार अपने लोगों को सजा दिलानी चाहिए ।यह लोग देश की अखंडता के लिए खतरा हैं इन पर देश से गद्दारी के मुक़दमे क़ायम होने चाहिए


अब्दुल ग़फ़्फ़ार सिद्दीक़ी

मीडिया प्रभारी

मजलिस दिल्ली

8287421080

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

सिविल डिफेंस में काम करने वाली राबिया की हत्या करके हत्यारा हरियाणा से दिल्ली के कालंदिकुंज थाने में आकर क्यों करता है सिरेंडर, खड़े हो रहे हैं कुछ सवाल?

लापता दो आदिवासी युवकों की संदिग्ध मौत की तुरंत जांच की मांग