आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता मनीष सिसोदिया जी का लखीमपुर खीरी की दुर्भाग्यपूर्ण

सारे देश और दुनिया ने देखा है कि भारतीय जनता पार्टी के केंद्रीय मंत्री के बेटे ने किसानों को अपनी गाड़ी के तले रौंदा है, उनकी हत्या की है। लेकिन बेशर्मी से योगी आदीत्यनाथ जी की सरकार ने उत्तर प्रदेश को जंगल राज बना दिया है और पूरे प्रदेश को अराजकता के माहौल में झोंक रखा है। इनके लिए न किसान कुछ हैं, न आम आदमी कुछ हैं, न जनता कुछ है। उनको केवल और केवल अपने नेताओं को बचाना है। और सारी की सारी भारतीय जनता पार्टी, योगी जी की सरकार और केंद्र की बीजेपी की सरकार कुल मिलाकर अपने नेता और उनके बेटे को बचाने में लगी हुई है। अब तक न तो उसको गिरफ्तार किया गया है, न उसके खिलाफ कोई कार्रवाही की गई है, न मंत्री जी के खिलाफ कारवाई की गई है। हमारी मांग है कि तुरंत उनके बेटे को, उस हत्यारे बेटे को जिसने किसानों की हत्या की है, उसको गिरफ्तार किया जाए और साथ-साथ में मंत्री जी, क्योंकि वे पद का दुरुपयोग कर रहे हैं, उनको पद से हटाया जाए अगर भारतीय जनता पार्टी को किसानों की और देश के लोगों की जरा भी चिंता है। पूरे के पूरे उत्तर प्रदेश को अराजकता के माहौल में झोंक करके सरकार नहीं चल सकती है। यह अत्याचार हो रहा है लोगों के ऊपर में।  अगर विपक्ष के नेता वहां जाना चाह रहे हैं, संजय सिंह जी हमारे सांसद हैं, अगर पीड़ित परिवारों के साथ सांत्वना देने रात को वहां जा रहे हैं, क्यों रोक दिया उनको? वहां उन्होंने क्या बिगाड़ा है? जिनको रात के ढाई बजे से ही गिरफ्तार करके रखा हुआ है। बाकी विपक्ष के नेताओं को भी नहीं जाने दे रहे हैं। तो क्या उत्तर प्रदेश में इमरजेंसी लगा दी है? लोगों की हत्या हो रही है, मंत्रियों के बेटे लोगों की हत्या कर रहे हैं और योगी सरकार इमरजेंसी लगा कर विपक्ष के नेताओं को रोक रही है। विपक्ष के नेताओं को गिरफ्तार कर रही है, ये कैसी सरकार है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बरेली के बहेड़ी थाने में लेडी कांस्‍टेबल के चक्‍कर में पुलिस वालों में चलीं गोलियां, थानेदार समेत पांच पर गिरी गाज

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

लोनी नगर पालिका परिषद लोनी का विस्तार कर 11 गांव और उनकी कॉलोनियों को शामिल कर किया गया