साउथ एमसीडी का रेवेन्यू तीनों निगमों में सबसे अधिक, बावजूद इसके कर्मचारियों को तनख्वाह नहीं मिल रही- प्रेम चौहान

नई दिल्ली: 31 अक्टूबर 2021आम आदमी पार्टी ने एमसीडी के कर्मचारियों को पिछले तीन महीने से वेतन नहीं मिलने के मुद्दे पर भाजपा के खिलाफ विरोध प्रदर्शन का एलान किया है। दिल्ली नगर निगम में आम आदमी पार्टी से तीनों एलओपी ने कहा कि, भाजपा शासित एमसीडी त्यौहारों के सीजन में भी कर्मचारियों को तनख्वाह नहीं दे रही है। इसलिए आम आदमी पार्टी के सभी पार्षद कल सुबह 11 बजे सिविक सेंटर के बाहर भाजपा शासित एमसीडी का घेराव करेगी। आम आदमी पार्टी की मांग है कि भाजपा कर्मचारियों को तुरंत तनख्वाह दे या इस्तीफा दे।


उत्तरी दिल्ली नगर निगम में आम आदमी पार्टी से नेता प्रतिपक्ष विकास गोयल ने रविवार को पार्टी मुख्यालय में प्रेसवार्ता को संबोधित किया। विकास गोयल ने कहा कि, त्यौहारों का सीजन शुरू हो गया है। दो दिनों बाद दिवाली है, गोवर्धन पूजा है, भाई दूज है और उसके बाद छठ है। इस दौरान सभी कंपनियां अपने कर्मचारियों को उपहार देती हैं, मिठाइयां देती हैं, बोनस देती हैं। लेकिन भाजपा शासित एमसीडी कर्मचारियों को बोनस और मिठाइयां तो दूर, जो उनके हक का पैसा है, उनके खून-पसीने की कमाई है, वह भी नहीं दे रही है। चाहे सफाई कर्मचारी हों, डीबीसी कर्मचारी हों, टीचर हों, नर्स हों या डॉक्टर हों, किसी को 2 महीने से तो किसी को 3 महीने से तनख्वाह नहीं मिली है। जिन लोगो ने सारी जिंदगी एमसीडी में रहकर काम किया और आज जब वह लोग पेंशन पर आश्रित हैं, तो उन्हें तीन महीने से पेंशन नहीं मिली है। 

भाजपा के नेता एक तरफ दिवाली के कार्यक्रम कर रहे हैं, दूसरी तरफ एमसीडी कर्मचारियों को त्यौहारों के सीजन में भी वेतन नहीं दे रहे हैं। ऐसा लगता है भारतीय जनता पार्टी के अंदर की नैतिकता पूरी तरह से खत्म हो चुकी है। मैं भाजपा के लोगों से पूछना चाहता हूँ कि आज जब एमसीडी के कर्मचारी भूखे हैं, दिवाली मनाने तक के पैसे नहीं हैं, तो आप खुद दिवाली कैसे मना सकते हैं। आज हज़ारों कर्मचारियों के घर मे चूल्हा नहीं जल पा रहा है, आप दिवाली में घी के दिये कैसे जला सकते हैं।

आम आदमी पार्टी मांग करती है कि भाजपा की एमसीडी जल्द से जल्द सभी कर्मचारियों की तनख्वाह और रिटायर्ड कर्मचारियों की पेंशन जारी करें। यदि आप ऐसा नहीं करते हैं तो आपको एमसीडी में रहने का कोई अधिकार नहीं है, आप तुरंत इस्तीफा दे दीजिए। इसी मुद्दे पर कल आम आदमी पार्टी के सभी पार्षद सिविक सेंटर  के बाहर भाजपा के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करेंगे।

साउथ एमसीडी के नेता प्रतिपक्ष प्रेम चौहान ने कहा, सभी को पता है कि तीनों निगमों में दक्षिणी दिल्ली नगर निगम पैसों के मामले में सबसे अधिक सक्षम है। इसके बावजूद यह लोग कर्मचारियों को एक-एक महीने सैलरी नहीं देते हैं। दिवाली का समय है,  भाजपा को समझना चाहिए कि कोरोना काल मैं वैसे ही लोगों के पास पैसा नहीं बचा है, ऊपर से आप त्यौहारों के दौरान जब पैसों की सख्त जरूरत पड़ती है, आप अपने कर्मचारियों को तनख्वाह नहीं दे रहे हैं। आम आदमी पार्टी एमसीडी कर्मचारियों के साथ हो रहे अन्याय के खिलाफ कल भाजपा का घेराव करेगी। इससे हम स्पष्ट करना चाहते हैं कि हम सभी कर्मचारियों के साथ हैं। उनको घबराने की बिल्कुल ज़रूरत नहीं है। आम आदमी पार्टी उनके हक के लिए हर संभव प्रयास करेगी।

ईस्ट एमसीडी के नेता प्रतिपक्ष मनोज त्यागी ने कहा कि जिस प्रकार से दिवाली से पहले हम सभी अपने-अपने घरों की सफाई करते हैं, उसी प्रकार से एमसीडी के कर्मचारी पिछले दस दिनों से दिल्ली की सफाई में लगे हुए हैं। लेकिन कितना अमानवीय है कि  इतनी मेहनत के बाद भी उन्हें तनख्वाह नहीं मिलेगी। पेंशनधारियों को, जिन्होंने सालों-साल एमसीडी की सेवा की है, आज उनको पेंशन के पैसे नहीं मिल पा रहे हैं। बोनस की बात करें तो दिल्ली नगर निगम के कर्मचारियों को पिछले दो सालों से बोनस नहीं मिला है। आम आदमी पार्टी के पार्षद लगातार सदन में उनके हक में मुद्दे उठाने की कोशिश कर रहे हैं। लेकिन भाजपा अपनी जिम्मेदारी से भाग रही है।दिल्ली में जहां विभिन्न प्रान्तों के लोग रहते हैं, किसी के लिए दिवाली खास है तो किसी के लिए छठ खास है। इस दौरान भी भाजपा शासित एमसीडी के कर्मचारियों को तनख्वाह नहीं मिल पा रही है। आज हम भाजपा को चेतावनी देना चाहते हैं कि या तो कल सुबह 10 बजे तक उनकी तनख्वाह जारी करें, उनकी पेंशन और बोनस जारी करें, अन्यथा कल प्रातः 11 बजे सिविक सेंटर के बाहर आम आदमी पार्टी के सभी पार्षद विरोध पर्दशन करेंगे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बरेली के बहेड़ी थाने में लेडी कांस्‍टेबल के चक्‍कर में पुलिस वालों में चलीं गोलियां, थानेदार समेत पांच पर गिरी गाज

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

लोनी नगर पालिका परिषद लोनी का विस्तार कर 11 गांव और उनकी कॉलोनियों को शामिल कर किया गया