मैली यमुना, प्रदूषित हवाएँ, टूटी सड़कें, असुरक्षित दिल्ली कौन देखने आएगा - कलीमुल हफ़ीज़

दिल्ली देखिए एप" के बजाय जनता की

समस्याएं हल करने पर ध्यान दें मुख्यमंत्री

प्रेस रिलीज़ 28 सितंबर 2021 नई दिल्ली ,दिल्ली सरकार ने दिल्ली देखिए ऐप जारी करके गरीबों के ज़ख्मों पर नमक छिड़का है। जहां यमुना मैली हो, जो दिल्ली महिलाओं पर अपराध के मामले में पहले नंबर पर हो, जहां की जर्जर इमारतें हादसों को दावत दे रही हो,जहां जगह-जगह कचरे के ढ़ेर हो जाएं,एक सांसद का घर भी सुरक्षित ना हो ऐसी दिल्ली देखने कौन आएगा ? वह दिन गए जब लोग दिल्ली देखने आते थे।


अब मज़बूरी में आते हैं इन विचारों को ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन दिल्ली के अध्यक्ष कलीमुल हफ़ीज़ ने आज दोपहर पूर्वी दिल्ली के नई सीमापुरी में मजलिस के वार्ड कार्यालय का उद्घाटन करने के बाद जनता से संबोधन करते हुए कहा मजलिस अध्यक्ष ने कहा कि दिल्ली में बेरोजगारी में बढ़ोतरी हो रही हो,जहां लोगों को दो वक्त की रोटी के लिए सौ जतन करने पड़ रहे हो, उस दिल्ली का मुखिया जनता की समस्याएं हल करने के बजाय शेर सपाटा का ऐप जारी करके फोटो खिंचवाने में व्यस्त है। दूसरी तरफ भाजपा शाही ईदगाह में झांसी की रानी की प्रतिमा स्थापित करने की बात कह कर एक बार फिर दिल्ली को दंगों में झोंकना चाहती है।कलीमुल हफ़ीज़ ने कहा कि तीनों एमसीडी पर क़ाबिज़ भाजपा ने जनता के भले के लिए कोई काम नहीं किया है। इसलिए अब वह धर्म और सांप्रदायिक कार्ड खेल रही है। हो सकता है वह चुनाव के नजदीक आते-आते दिल्ली को दंगों की आग में झोंक दें। मौजूदा सरकारों के पास समाज को बांटने के अलावा बनाने की कोई योजना नहीं है।अख़बारों,होर्डिंग, पोस्टर मैं बड़े-बड़े दावे हैं लेकिन वास्तविकता कुछ और है।मजलिस अध्यक्ष ने कहा कि मजलिस दिल्ली की जनता को ज़मीनी सच्चाई से जागरूक करेगी और जनता का खून चूसने वालों को बेनक़ाब करेगी। आने वाले चुनाव में दलित मुस्लिम एकता नया इतिहास रचेगी और एमसीडी में वह लोग निर्वाचित होकर आएंगे जो पिछड़े वर्गों के सच्चे नुमाइंदे होंगे। समारोह में मजलिस के दूसरे पदाधिकारियों में महासचिव और ईडीएमसी प्रभारी शाह आलम, ज्वाइंट सेक्रेट्री साजिद उर्फ़ बॉबी , अफ़जल ख़ान अफ़रीदी, असग़र अली अंसारी, संगठन सचिव अब्दुल ग़फ़्फ़ार सिद्दीक़ी, आईटी सेल इंचार्ज मारूफ़ ख़ान, सोशल एंड कल्चरल विंग कन्वीनर क़ासिम उस्मानी ,ज़िला अध्यक्ष एडवोकेट सरताज आलम के अलावा विभिन्न विधानसभाओं और वार्डों के अध्यक्ष व स्थानीय लोगों ने बड़ी संख्या में शिरकत की। स्थानीय लोगों ने मजलिस अध्यक्ष का फूल मालाओं से  स्वागत किया। इस मौक़े पर दर्जनों लोगों ने मजलिस की सदस्यता हासिल की।


अब्दुल ग़फ़्फ़ार सिद्दीक़ी

 मीडिया प्रभारी 

ए आई एम आई एम दिल्ली

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बरेली के बहेड़ी थाने में लेडी कांस्‍टेबल के चक्‍कर में पुलिस वालों में चलीं गोलियां, थानेदार समेत पांच पर गिरी गाज

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

लोनी नगर पालिका परिषद लोनी का विस्तार कर 11 गांव और उनकी कॉलोनियों को शामिल कर किया गया