सपा नेता नसीम अहमद ने विरोधियों द्वारा वायरल वीडियो का किया खंडन।

बेताब समाचार एक्सप्रेस के लिए बहेड़ी से अनीता देवी की रिपोर्ट

मेरी राजनीतिक छवि को धूमिल करने के लिए मेरी लोकप्रियता से परेशान होकर वायरल किया गया वीडियो, नसीम अहमद

बहेड़ी,आपको बताते चलें 2 दिन पहले नगर पालिका बहेड़ी चेयरमैन पति और समाजवादी पार्टी नेता नसीम अहमद का एक वीडियो एक न्यूज़ एजेंसी द्वारा ट्वीट किया गया था जिसमें नसीम अहमद  कहते हुए दिखाई दे रहे हैं कि हमसे बड़ा गुंडा कोई नहीं लड़के 2 मिनट में चटनी बना देंगे मगर नसीम अहमद की माने तो यह वीडियो लगभग 4 महीने पुराना है और यह वीडियो उनके अस्पताल का है जिसमें कुछ लोगों द्वारा बिल बनाने को लेकर स्टाफ के साथ मारपीट की गई थी जिसमें जिस महिला स्टाफ के साथ भी बदतमीजी की गई थी कोरोना का दौर  चल रहा था और उस दौर में कोरोना वॉरियर्स के साथ मारपीट करना बहुत गलत बात है


मगर जब उन्हें पता लगा तो उन्होंने अस्पताल जाकर समझा-बुझाकर मामला शांत कराया था इसी को लेकर उन्होंने कहा था कि अगर आप गुंडागर्दी करेंगे तो कैसे काम चलेगा अगर यह स्टाफ भी आपके साथ मारपीट करेगा तो 2 मिनट में चटनी बना देगा लेकिन हम शरीफ हो सब लोग हैं इसलिए आप को समझा रहे हैं और मामले को शांत कराकर उन्हें वापस भेज दिया था लेकिन कुछ शरारती लोगों ने मेरी राजनीतिक छवि को धूमिल करने के लिए और मेरी  लोकप्रियता से परेशान होकर उस वीडियो का छोटा सा अंश काटकर वायरल कर दिया है लेकिन मेरा मानना है किस सत्य परेशान हो सकता है पराजित नहीं जनता सभी को जानती है जनता को पता है कौन सही है कौन गलत सत्यमेव जयते बाकी फैसला जनता को करना है कि आज तक लोगों पर मुकदमे दायर  कराने वाला प्रत्याशी चाहिए या लोगों के काम में आने वाला उनका अपना भाई बाकी जनता जनार्दन है। दिन पहले नगर पालिका बहेड़ी चेयरमैन पति और समाजवादी पार्टी नेता नसीम अहमद का एक वीडियो एक न्यूज़ एजेंसी द्वारा ट्वीट किया गया था जिसमें नसीम अहमद  कहते हुए दिखाई दे रहे हैं कि हमसे बड़ा गुंडा कोई नहीं लड़के 2 मिनट में चटनी बना देंगे मगर नसीम अहमद की माने तो यह वीडियो लगभग 4 महीने पुराना है और यह वीडियो उनके अस्पताल का है जिसमें कुछ लोगों द्वारा बिल बनाने को लेकर स्टाफ के साथ मारपीट की गई थी जिसमें जिस महिला स्टाफ के साथ भी बदतमीजी की गई थी कोरोना का दौर  चल रहा था और उस दौर में कोरोना वॉरियर्स के साथ मारपीट करना बहुत गलत बात है मगर जब उन्हें पता लगा तो उन्होंने अस्पताल जाकर समझा-बुझाकर मामला शांत कराया था इसी को लेकर उन्होंने कहा था कि अगर आप गुंडागर्दी करेंगे तो कैसे काम चलेगा अगर यह स्टाफ भी आपके साथ मारपीट करेगा तो 2 मिनट में चटनी बना देगा लेकिन हम शरीफ सब लोग हैं इसलिए आप को समझा रहे हैं और मामले को शांत कराकर उन्हें वापस भेज दिया था लेकिन कुछ शरारती लोगों ने मेरी राजनीतिक छवि को धूमिल करने के लिए और मेरी  लोकप्रियता से परेशान होकर उस वीडियो का छोटा सा अंश काटकर वायरल कर दिया है लेकिन मेरा मानना है किस सत्य परेशान हो सकता है पराजित नहीं जनता सभी को जानती है जनता को पता है कौन सही है कौन गलत सत्यमेव जयते बाकी फैसला जनता को करना है कि आज तक लोगों पर मुकदमे दायर  कराने वाला प्रत्याशी चाहिए या लोगों के काम में आने वाला उनका अपना भाई बाकी जनता जनार्दन है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

सिविल डिफेंस में काम करने वाली राबिया की हत्या करके हत्यारा हरियाणा से दिल्ली के कालंदिकुंज थाने में आकर क्यों करता है सिरेंडर, खड़े हो रहे हैं कुछ सवाल?

लापता दो आदिवासी युवकों की संदिग्ध मौत की तुरंत जांच की मांग