आप पार्टी ने अपने संगठन को अंदर से मजबूत करके और पार्टियों को पीछे करने का काम किया

 *सपा यूपी में चार बार सत्ता में रही वो सहारा लेकर सत्ता में आना चाहती है जनता में अच्छी पकड़ 2012 से 2017 के कार्यकाल के आधार पर जनता के बीच*


     *जनता पसंद कर रही याद कर रही मा अखिलेश सरकार को और आज तक दिल्ली छोड कही सत्ता का मूंह नही देखा वो भी केन्द्र शासित राज्य दिल्ली वो आप पार्टी अकेले ताल ठोकने की तैयारी कर के पन्द्रह दिनों में अपने प्रत्याशी घोषित करने का दावा ठोक दिया राजनीतिक समीकरण तो यह कहते हैं आप पार्टी ने 40 परसेंट तो लड़ाई जीत ली, हिंदुस्तान का सबसे बड़ा प्रदेश उत्तर प्रदेश इसको केवल प्रदेश के अंदर मजबूत संगठन के आधार पर जीता जा सकता है यानी कि आप पार्टी ने अपने संगठन को अंदर से मजबूत करके और पार्टियों को पीछे करने का काम किया


है अन्य पार्टियों का संगठन सत्ता में रहने के बाद भी, और सत्ता में रहकर भी आप पार्टी की तैयारी के आगे वर्तमान समय में बहुत पीछे है और 15 दिन के अंदर 403 विधानसभा के प्रत्याशियों ने घोषित कर दिए उनके प्रत्याशियों को जनता के बीच में जाने के अपनी तैयारी करने में बड़ी मदद मिलेगी जो कि अन्य पार्टी के लिए खतरे की घंटी साबित हो सकती है

          महिपाल यादव

         वरिष्ठ पत्रकार (राज नैतिक विश्लेषक )

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

सिविल डिफेंस में काम करने वाली राबिया की हत्या करके हत्यारा हरियाणा से दिल्ली के कालंदिकुंज थाने में आकर क्यों करता है सिरेंडर, खड़े हो रहे हैं कुछ सवाल?

लापता दो आदिवासी युवकों की संदिग्ध मौत की तुरंत जांच की मांग