भाजपा शासित एमसीडी ने गैरकानूनी तरीके ‌से‌ विज्ञापन ठेकेदारों की लाइसेंस फीस पूरी तरह से माफ की- सौरभ भारद्वाज* *- एनडीएमसी की स्टैंडिंग कमेटी की बैठक में पास हुई मिनिट्स को बाद में अध्यक्ष छैल बिहारी गोस्वामी ने पत्र लिखकर अवैध तरीके से बदलवाया- सौरभ भारद्वाज* *- भाजपा सांठगांठ कर विज्ञापन मुफ्त में लगवाती ‌है‌ और इसके एवज में ठेकेदारों को जो करोड़ों रुपए एमसीडी को देना होता है उसे माफ करती है- सौरभ भारद्वाज* *- भाजपा इन विज्ञापन‌ ठेकेदारों का इस्तेमाल दिल्ली में मुफ्त में होर्डिंग लगाने के लिए करती है- सौरभ भारद्वाज* *- भाजपा शासित एमसीडी को विज्ञापन से 2640 करोड रुपए का राजस्व मिल सकता है, इसको भ्रष्टाचार कर भाजपा लूट रही है- सौरभ भारद्वाज* *- भाजपा की ओर से घोटाले को छिपाने के लिए अवैध तरीके से बैठक के मिनट्स बदले गए- सौरभ भारद्वाज* *नई दिल्ली, 26 अगस्त, 2021* आम आदमी पार्टी के मुख्य प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने कहा कि भाजपा शासित एमसीडी ने गैरकानूनी तरीके ‌से‌ विज्ञापन ठेकेदारों की लाइसेंस फीस पूरी तरह से माफ की। एनडीएमसी की स्टैंडिंग कमेटी की बैठक में पास हुई मिनिट्स को बाद में अध्यक्ष छैल बिहारी गोस्वामी ने पत्र लिखकर अवैध तरीके से बदलवाया। भाजपा सांठगांठ कर विज्ञापन मुफ्त में लगवाती ‌है‌ और इसके एवज में ठेकेदारों को जो करोड़ों रुपए एमसीडी को देना होता है उसे माफ करती है। उन्होंने कहा कि भाजपा इन विज्ञापन‌ ठेकेदारों का इस्तेमाल दिल्ली में मुफ्त में होर्डिंग लगाने के लिए करती है। भाजपा शासित एमसीडी को विज्ञापन से 2640 करोड रुपए का राजस्व मिल सकता है। इसको भ्रष्टाचार कर भाजपा लूट रही है। भाजपा की ओर से घोटाले को छिपाने के लिए अवैध तरीके से बैठक के मिनट्स बदले गए। आम आदमी पार्टी के मुख्य प्रवक्ता और विधायक सौरभ भारद्वाज ने गुरुवार को प्रेस वार्ता को संबोधित किया। सौरभ भारद्वाज ने कहा कि भाजपा शासित तीनों नगर निगमों को विज्ञापन से 2640 करोड रुपए का राजस्व मिल सकता है। उसको भ्रष्टाचार के चलते भाजपा लूट रही है। भाजपा के नेता विज्ञापन ठेकेदारों के साथ मिलकर एमसीडी को करोड़ों रुपए का नुकसान पहुंचा रहे हैं और जनता के पैसे को लूट रहे हैं। एमसीडी की जिन विज्ञापन साइट के ऊपर 1 लाख से 3 लाख किराया देकर विज्ञापन लगता है, वहां पर विज्ञापन लगाने का भाजपा एक रुपया भी एमसीडी को नहीं दे रही है। उन्होंने कहा कि उत्तरी दिल्ली नगर निगम की नवंबर 2020 की स्टैंडिंग कमेटी का एजेंडा है। एजेंडे के अंदर एक कमेटी बनाई गई थी, जिसने सिफारिश की थी कि क्योंकि दिल्ली में कोरोना और लॉकडाउन लागू रहा।‌ इसलिए विज्ञापन के ठेकेदार की कुछ महीने की लाइसेंस फीस पूरी माफ कर दिया जाए। इसके अलावा कुछ महीने की 75 फीसदी माफ कर दी जाए और कुछ महीनों की फीस मात्र 50 फीसदी ही ली जाए। इसकी डेडलाइन निर्धारित कर दी। सौरभ भारद्वाज ने दस्तावेज दिखाते हुए कहा कि स्टैंडिंग कमेटी के अंदर जो एजेंडा आया, वह अलग था। स्टैंडिंग कमेटी के अध्यक्ष भाजपा के नेता छैल बिहारी गोस्वामी थे। छैल बिहारी गोस्वामी ने खुद अपने हाथ से पत्र लिखकर फीस माफी की डेडलाइन को एजेंडे से एक महीना और आगे बढ़ा दिया।‌ विज्ञापन वालों की लाइसेंस फीस को पूरी तरह माफ कर दिया। स्टैंडिंग कमेटी के एजेंडे और मिनट्स में 22 मार्च से लेकर 7 जून तक लाइसेंस फीस माफ करने की बात थी।‌ छैल बिहारी गोस्वामी ने पत्र लिखकर उसको 30 जून तक बढ़ा दिया। इस तरह ठेकेदारों की विज्ञापन की, 100 फीसदी लाइसेंस फीस माफी को करीब 30 दिन बढ़ा दिया। इसके अलावा 75 फीसदी फीस माफी को एक महीने बढा दिया और 50 फीसदी फीस माफी को भी एक महीना बढ़ा दिया। सौरभ भारद्वाज ने कहा कि यह स्टैंडिंग कमेटी में पास नहीं हुआ, स्टैंडिंग कमेटी में कुछ और पास हुआ था। छैल बिहारी गोस्वामी ने पत्र लिखकर स्टैंडिंग कमेटी के मिनट्स को बदलवा दिया। इसकी वजह से उत्तरी दिल्ली नगर निगम को एक माह के विज्ञापन राजस्व का नुकसान हुआ है। छैल बिहारी गोस्वामी को आदेश गुप्ता का खास आदमी बताया जाता है। जितना भी उत्तरी एमसीडी के अंदर छैल बिहारी गोस्वामी कर रहे हैं, वह काम आदेश गुप्ता की छत्रछांया में चल रहा है।‌ उन्होंने कहा कि यह सांठगांठ इसलिए की गई ताकि भाजपा के विज्ञापन को ठेकेदार मुफ्त में लगाएं। इसके एवज में ठेकेदारों को जो करोड़ों रुपए एमसीडी को देना है, उसे हम माफ कर देंगे। उत्तरी दिल्ली नगर निगम की स्टैंडिंग कमेटी के‌ अध्यक्ष छैल बिहारी गोस्वामी स्टैंडिंग कमेटी की मिनट बदलवाने के लिए पत्र लिख रहे हैं। यह पूरी तरह से गैर कानूनी है और भी तरह से वैध नहीं है। इसके बावजूद पत्र लिखकर स्टैंडिंग कमेटी के एजेंडे और मिनट्स को बदला। जिससे करोड़ों रुपए का एमसीडी को नुकसान हुआ है।

 नई दिल्ली, 26 अगस्त, 2021आम आदमी पार्टी के मुख्य प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने कहा कि भाजपा शासित एमसीडी ने गैरकानूनी तरीके ‌से‌ विज्ञापन ठेकेदारों की लाइसेंस फीस पूरी तरह से माफ की। एनडीएमसी की स्टैंडिंग कमेटी की बैठक में पास हुई मिनिट्स को बाद में अध्यक्ष छैल बिहारी गोस्वामी ने पत्र लिखकर अवैध तरीके से बदलवाया। भाजपा सांठगांठ कर विज्ञापन मुफ्त में लगवाती ‌है‌ और इसके एवज में ठेकेदारों को जो करोड़ों रुपए एमसीडी को देना होता है उसे माफ करती है।


उन्होंने कहा कि भाजपा इन विज्ञापन‌ ठेकेदारों का इस्तेमाल दिल्ली में मुफ्त में होर्डिंग लगाने के लिए करती है। भाजपा शासित एमसीडी को विज्ञापन से 2640 करोड रुपए का राजस्व मिल सकता है। इसको भ्रष्टाचार कर भाजपा लूट रही है। भाजपा की ओर से घोटाले को छिपाने के लिए अवैध तरीके से बैठक के मिनट्स बदले गए। 

आम आदमी पार्टी के मुख्य प्रवक्ता और विधायक सौरभ भारद्वाज ने गुरुवार को प्रेस वार्ता को संबोधित किया। सौरभ भारद्वाज ने कहा कि भाजपा शासित तीनों नगर निगमों को विज्ञापन से 2640 करोड रुपए का राजस्व मिल सकता है। उसको भ्रष्टाचार के चलते भाजपा लूट रही है। भाजपा के नेता विज्ञापन ठेकेदारों के साथ मिलकर एमसीडी को करोड़ों रुपए का नुकसान पहुंचा रहे हैं और जनता के पैसे को लूट रहे हैं। एमसीडी की जिन विज्ञापन साइट के ऊपर 1 लाख से 3 लाख किराया देकर विज्ञापन लगता है, वहां पर विज्ञापन लगाने का भाजपा एक रुपया भी एमसीडी को नहीं दे रही है।

उन्होंने कहा कि उत्तरी दिल्ली नगर निगम की नवंबर 2020 की स्टैंडिंग कमेटी का एजेंडा है। एजेंडे के अंदर एक कमेटी बनाई गई थी, जिसने सिफारिश की थी कि क्योंकि दिल्ली में कोरोना और लॉकडाउन लागू रहा।‌ इसलिए विज्ञापन के ठेकेदार की कुछ महीने की लाइसेंस फीस पूरी माफ कर दिया जाए। इसके अलावा कुछ महीने की 75 फीसदी माफ कर दी जाए और कुछ महीनों की फीस मात्र 50 फीसदी ही ली जाए। इसकी डेडलाइन निर्धारित कर दी।

सौरभ भारद्वाज ने दस्तावेज दिखाते हुए कहा कि स्टैंडिंग कमेटी के अंदर जो एजेंडा आया, वह अलग था। स्टैंडिंग कमेटी के अध्यक्ष भाजपा के नेता छैल बिहारी गोस्वामी थे। छैल बिहारी गोस्वामी ने खुद अपने हाथ से पत्र लिखकर फीस माफी की डेडलाइन को एजेंडे से एक महीना और आगे बढ़ा दिया।‌ विज्ञापन वालों की लाइसेंस फीस को पूरी तरह माफ कर दिया।

स्टैंडिंग कमेटी के एजेंडे और मिनट्स में 22 मार्च से लेकर 7 जून तक लाइसेंस फीस माफ करने की बात थी।‌ छैल बिहारी गोस्वामी ने पत्र लिखकर उसको 30 जून तक बढ़ा दिया। इस तरह ठेकेदारों की विज्ञापन की, 100 फीसदी लाइसेंस फीस माफी को करीब 30 दिन बढ़ा दिया। इसके अलावा 75 फीसदी फीस माफी को एक महीने बढा दिया और 50 फीसदी फीस माफी को भी एक महीना बढ़ा दिया। 

सौरभ भारद्वाज ने कहा कि यह स्टैंडिंग कमेटी में पास नहीं हुआ, स्टैंडिंग कमेटी में कुछ और पास हुआ था। छैल बिहारी गोस्वामी ने पत्र लिखकर स्टैंडिंग कमेटी के मिनट्स को बदलवा दिया। इसकी वजह से उत्तरी दिल्ली नगर निगम को एक माह के विज्ञापन राजस्व का नुकसान हुआ है। छैल बिहारी गोस्वामी को आदेश गुप्ता का खास आदमी बताया जाता है। जितना भी उत्तरी एमसीडी के अंदर छैल बिहारी गोस्वामी कर रहे हैं, वह काम आदेश गुप्ता की छत्रछांया में चल रहा है।‌ 

उन्होंने कहा कि यह सांठगांठ इसलिए की गई ताकि भाजपा के विज्ञापन को ठेकेदार मुफ्त में लगाएं। इसके एवज में ठेकेदारों को जो करोड़ों रुपए एमसीडी को देना है, उसे हम माफ कर देंगे। उत्तरी दिल्ली नगर निगम की स्टैंडिंग कमेटी के‌ अध्यक्ष छैल बिहारी गोस्वामी स्टैंडिंग कमेटी की मिनट बदलवाने के लिए पत्र लिख रहे हैं। यह पूरी तरह से गैर कानूनी है और भी तरह से वैध नहीं है। इसके बावजूद पत्र लिखकर स्टैंडिंग कमेटी के एजेंडे और मिनट्स को बदला। जिससे करोड़ों रुपए का एमसीडी को नुकसान हुआ है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

सिविल डिफेंस में काम करने वाली राबिया की हत्या करके हत्यारा हरियाणा से दिल्ली के कालंदिकुंज थाने में आकर क्यों करता है सिरेंडर, खड़े हो रहे हैं कुछ सवाल?

लापता दो आदिवासी युवकों की संदिग्ध मौत की तुरंत जांच की मांग