बसपा के पूर्व सांसद दाउद अहमद की 100 करोड़ की बिल्डिंग को सरकार ने गिराया



 लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार के अवैध कब्जेदारों पर कड़ी कार्रवाई के निर्देश के अनुपालन में जिला प्रशासन की टीम ने बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के पूर्व सांसद दाऊद अहमद की 100 करोड़ रुपये की पांच मंजिला इमारत को आज जमींदोज कर दिया।

आधिकारिक सूत्रों के अनुसार पूर्व सांसद दाऊद अहमद ने भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग की जमीन पर रिवर बैंक कॉलोनी में अवैध रुप से बहुमंजिला इमारत बनाई थी। पुरातत्व विभाग ने अवैध निर्माण पर आपत्ति जताते हुए पूर्व सांसद को नाेटिस भी जारी किया था। नोटिस के विरोध में अहमद उच्च न्यायालय की शरण में गये थे ,लेकिन अदालत से भी उन्हें कोई राहत नहीं मिली।
इस अवैध इमारत को गिरने के लिए जिला प्रशासन की टीम ने आज बड़ी संख्या में पुलिस बल की मौजूदगी में इमारत को तोड़ने की कार्रवाई पूरी की गई। पूर्व सांसद दाउद ने इस पांच मंजिला इमारत में अवैध रूप से अनेक फ्लैट बनाये थे।आज भले ही दाउद अहमद बसपा में न हों लेकिन कभी वह बसपा के लिए तुरुप का इक्का रहे हैं. शाहाबाद से सांसद और हरदोई की पिहानी विधानसभा सीट से विधायक रहे बसपा नेता दाउद अहमद को बसपा से निकाल दिया गया था. उन पर पार्टी विरोधी गतिविधियों में लिप्त होने का आरोप लगा था. बसपा हर बार दाउद अहमद पर दांव खेलती थी लेकिन पिछले एक दशक से वह कोई भी चुनाव जीत नहीं पाए. पिछले एक दशक से वह खीरी की दोनों लोकसभा सीटों पर अपनी किस्मत आजमा चुके हैं. उनकी पत्नी ने गोला विधानसभा से विधायकी का चुनाव लड़ा था. वह भी हार गई थी. दाउद अहमद 1999 से 2004 तक शाहाबाद के बसपा सांसद रहे. 2007 से 2012 तक पिहानी हरदोई से वह विधायक रहे हैं. 2017 के विधानसभा चुनाव में वह मोहम्मदी से बसपा के टिकट पर चुनाव लड़े थे, पर हार गए थे.

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बरेली के बहेड़ी थाने में लेडी कांस्‍टेबल के चक्‍कर में पुलिस वालों में चलीं गोलियां, थानेदार समेत पांच पर गिरी गाज

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

लोनी नगर पालिका परिषद लोनी का विस्तार कर 11 गांव और उनकी कॉलोनियों को शामिल कर किया गया