पैनी नजर सामाजिक संस्था की अध्यक्ष सुनीता गंगवार एंड व एसपी बदायूं की गंभीरता से दो महा बाद पीड़ित परिवार में लौट आई खुशियां।

 पैनी नजर सामाजिक संस्था की अध्यक्ष सुनीता गंगवार एंड व एसपी बदायूं की गंभीरता से दो महा बाद पीड़ित परिवार में लौट आई खुशियां।



बेताब समाचार एक्सप्रेस के लिए मुस्तकीम मंसूरी की रिपोर्ट


संस्था अध्यक्ष सुनीता गंगवार एंड ने उझानी जाकर कोतवाल व एसपी बदायूं का तहे दिल से शुक्रिया अदा किया।


  पैनी नजर संस्था व जिला बदायूं पुलिस के द्वारा किए गए अथक प्रयासों से नाबालिक बच्ची उसके परिवार को मिली


  जनपद बदायूं के थाना उझानी क्षेत्र के गांव से 2 माह पूर्व लापता नाबालिग को थाना उझानी कोतवाल ने बरामद किया। दो माह पूर्व ग्राम के ही कुछ दबंग लोग नाबालिक का मुंह बांधकर लगभग शाम के 9:00 बजे घर से अपहरण कर के ले गए थे। एक माह तक नाबालिक के माता-पिता थाना कोतवाली के चक्कर लगाते रहे, जब उनकी कहीं से कोई सुनवाई की उम्मीद नहीं रही, तब उन्होंने पैनी नजर संस्था अध्यक्ष एडवोकेट सुनीता गंगवार से संपर्क साधा नाबालिक की मां व उसके

मामा  ने संस्था की अध्यक्ष एडवोकेट सुनीता गंगवार को जिला बरेली में आकर अपनी व्यथा सुनाई। संस्था अध्यक्ष ने उनकी व्यथा सुनकर तत्काल संज्ञान लिया, 25 मई 2021 को संस्था अध्यक्ष ने जिला बदायूं जाकर एसपी बदायूं को ज्ञापन देकर पूरी घटना का  व पुलिस की कार्रवाई का पूरा विवरण दिया। एसपी बदायूं ने संस्था अध्यक्ष के इस  ज्ञापन पर गंभीरता से संज्ञान लेने का आश्वासन दिया। इसके पश्चात संस्था अध्यक्ष ने कोतवाल उझानी से भी संपर्क किया एवं इस प्रकरण की विवेचना कर रहे विवेचक से भी मुलाकात की एवं पीड़ित की व्यथा को गंभीरता से संज्ञान लेने का अनुरोध किया। कोतवाल उझानी ने भी संस्था अध्यक्ष को नाबालिक को बरामद करने का पूर्ण आश्वासन दिया। इसके पश्चात संस्था अध्यक्ष लगातार कोतवाल  व विवेचक के संपर्क में बनी रही, संस्था अध्यक्ष ने यह भी कहा यदि पुलिस प्रशासन को संस्था की सहायता की कहीं भी आवश्यकता हो संस्था उनके लिए हमेशा तैयार हैं। संस्था व पुलिस प्रशासन का इस घटना पर बराबर संपर्क बना रहा इसके पश्चात 17 जून 2021 को थाना उझानी कोतवाल ने बड़ी संजीदगी से और पूरी मेहनत और लगन एवं मुस्तैदी से नाबालिक को बरामद करने में कामयाब हुए। इस कामयाबी की जानकारी नाबालिक के परिवार ने तुरंत संस्था को दी संस्था अध्यक्ष ने उझानी कोतवाल से संपर्क कर इसकी पुष्टि की उसके पश्चात नाबालिक का मेडिकल परीक्षण कराने के पश्चात 164 के बयान कराने की पुलिस ने त्वरित कार्यवाही की और आरोपियों को जिन्होंने एक नाबालिक को अपहरण करने का और उसे अपने साथ रखने का जो कृत्य किया उसके लिए उझानी कोतवाल ने उन्हें कड़ी व संगीन धाराओं के अंतर्गत मुकदमा लिख तुरंत जेल भेजा। 19 जून 2021 को संस्था अध्यक्ष ने उझानी जाकर कोतवाल उझानी को इस सफलता पर धन्यवाद दिया।और एसपी बदायूं का भी तहे दिल से शुक्रिया अदा किया, कि उन्होंने संस्था की इस गुहार पर संजीदगी से अमल किया और पीड़ित परिवार को उनकी खुशियां लौटाई। संस्था अध्यक्ष ने नाबालिग व उसके पूरे परिवार से भी मुलाकात की परिवार में खुशी का माहौल था कि 2 महीने बाद उनकी 13 वर्षीय बेटी उन्हें वापस मिली ।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बरेली के बहेड़ी थाने में लेडी कांस्‍टेबल के चक्‍कर में पुलिस वालों में चलीं गोलियां, थानेदार समेत पांच पर गिरी गाज

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

लोनी नगर पालिका परिषद लोनी का विस्तार कर 11 गांव और उनकी कॉलोनियों को शामिल कर किया गया