सरधना में रिक्शा चालक के घर फटा गैस सिलेंड मकान की उड़ी छत*


रिपोर्ट- साजिद क़ुरैशी पत्रकार सरधना*

सिलेंडर फटने से रिक्शा चालक बाल-बाल बचासरधना (मेरठ) नगर के मोहल्ला भाटवाड़ा में रिक्शा चालक के घर खाना बनाते के समय लगी आग सिलेंडर पर लगे रेगुलेटर तक तक पहुंच गई आग की लपटे बढ़ती देख रिक्शा चालक घर से बाहर निकल आया इस दौरान आग ने गैस सिलेंडर को पूरी तरह अपनी चपेट में ले लिया और कुछ ही देर में वह फट गया जिसने उसके मकान की छत उड़ गई  गैस सिलेंडर के धमाके से आसपास के लोग सहम गए गनीमत रही कि घर का मालिक बच गया । 

जानकारी के अनुसार मोहल्ला भाटवाड़ा निवासी दिनेश वर्मा पुत्र पितांबर घर में अकेला रहता है । रिक्शा चलाकर वह अपना पालन पोषण करता है । बताया गया कि दिनेश वर्मा की पुत्रियों की शादी हो चुकी है जो अपने ससुराल में है पत्नी का देहांत हो चुका है जिसके चलते वह अकेला ही घर में रहता है । सोमवार की रात दिनेश वर्मा खाना बना रहा था । उसी समय गैस चूल्हे आग सिलेंडर में लगे रहते लेटर तक पहुंच गई । इस दौरान दिनेश वर्मा ने आग बुझाने का प्रयास किया । कुछ ही देर में आग ने विकराल रूप धारण कर लिया इस दौरान दिनेश वर्मा झुलस गया।  आग की लपटें उठती देख दिनेश वर्मा डर की वजह घर के बाहर निकल आया कुछ ही देर में आग ने भयंकर रूप अपनाया और गैस सिलेंडर को पूरी तरह से अपनी चपेट में लिया जिसके बाद गैस सिलेंडर का तापमान बढ़ा और वह फट गया गैस सिलेंडर ने उसके मकान की छत को भी उड़ा दिया। सिलेंडर के टुकड़े आसपास के इलाके  में दूर-दूर तक गिरे गनीमत रही कि कोई भी पड़ोसी उन की चपेट में नहीं पाया साथ ही मकान मालिक के घर के बाहर निकल जाने के कारण वह भी बाल-बाल बच गया गैस सिलेंडर के धमाके से आसपास के मकान भी दहल गए और लोग दहशत में आ गए लेकिन उसके मकान मालिक को सही सलामत देख लोगों की जान में जान आई घटना के बाद मोहल्ले के लोग उधर पहुंचे और मामूली रूप से झुलसे दिनेश वर्मा को उपचार के लिए ले गए ।



*रिपोर्ट- साजिद क़ुरैशी पत्रकार सरधना*

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बरेली के बहेड़ी थाने में लेडी कांस्‍टेबल के चक्‍कर में पुलिस वालों में चलीं गोलियां, थानेदार समेत पांच पर गिरी गाज

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

लोनी नगर पालिका परिषद लोनी का विस्तार कर 11 गांव और उनकी कॉलोनियों को शामिल कर किया गया