1000 रूपये के भरण पोषण भत्ते से कोई भी पात्र लाभार्थी न छूटने पाए - मण्डलायुक्त*


 *1000 रूपये के भरण पोषण भत्ते से कोई भी पात्र लाभार्थी न छूटने पाए - मण्डलायुक्त*


कोरोना संबंधित किसी भी कार्य में लापरवाही न बरती जाए राशन वितरण में कोविड-19 के नियमों का कडाई से अनुपालन कराया जाए ए.वी.राजमौलि

बेताब समाचार एक्सप्रेस के लिए यूपी प्रभारी मुस्तकीम मसूरी की रिपोर्ट

निगरानी समितियों को पर्याप्त सुरक्षा उपकरण उपलब्ध कराएं*

सहारनपुर,24 मई,मण्डलायुक्त श्री ए0वी0राजमौलि ने कहा कि कोरोना के नये मामलों में आई गिरावट के दृष्टिगत किसी भी प्रकार की लापरवाही न बरतें। उन्होने कहा कि ब्लैक फंगस के दृष्टिगत समय रहते जरूरी कदम उठाए जाएं। उन्होने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में साफ-सफाई, सेनेटाइजेशन युद्ध स्तर पर करते रहें। सभी स्थानों पर कोविड-19 के प्रोटोकाल का पूर्णतः पालन कराएं तथा कन्टेनमेंट जोन में कडाई बरती जाए। उन्होने कहा कि यह भी सुनिश्चित किया जाए कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के अन्तर्गत सभी पात्रों को निःशुल्क खाद्यान्न उपलब्ध करा दिया जाए। राशन वितरण में शत-प्रतिशत कोविड-19 के नियमों का पालन कराया जाए। बैंकों में सोशल डिस्टेसिंग और मास्क की अनिवार्यता सुनिश्चित की जाए। जनपदों मंे लगने वाले आॅक्सीजन प्लांट के कार्यों में तेजी लाई जाए। 

श्री ए0वी0राजमौलि आज वर्चुअल माध्यम से कोविड-19 की समीक्षा कर रहे थे। उन्होने कहा कि बिना किसी भेदभाव के सभी मरीजों और लक्षणयुक्त व्यक्तियों को शत-प्रतिशत मेडिकल किट उपलब्ध करायी जाए। साथ ही किट के साथ संबंधित पम्फलेट भी उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। उन्होने कहा कि अधिक से अधिक प्रचार-प्रसार के माध्यम से लोगों को प्रेरित कर वैक्सीनेशन कराया जाए। साथ ही अपने स्तर से गरीब व अनपढ लोगों के कोविड वैक्सीनेशन रजिस्ट्रेशन में भी मदद की जाए। उन्होने कहा कि दैनिक मजदूरी करने वालें श्रमिकों को भरण-पोषण के रूप में 1000 रूपये देने की सभी तैयारियां पूर्ण कर ली जाएं। उन्होने कहा कि 1000 रूपये की धनराशि से कोई भी पात्र लाभार्थी न छूटे। उन्होने कहा कि कम्यूनिटी किचन को सुचारू रूप से क्रियाशील रखा जाए। उन्होने कहा कि विकासखण्ड स्तर और ग्राम स्तर पर कम्यूनिकेशन प्लान होना चाहिए। निगरानी समितियों को क्रियाशील रखते हुए डोर-टू-डोर सर्वे और सैम्पलिंग में किसी भी प्रकार की ढिलाई न बरती जाए। 

मण्डलायुक्त ने कहा कि पब्लिक एड्रेस सिस्टम को लगातार क्रियाशील रखते हुए कोविड-19 के नियमों और बचाव के ऊपायों का प्रचार-प्रसार किया जाए। उन्होने कहा कि तहसील, ब्लाॅक व ग्राम स्तर पर मेडिकल किट की पर्याप्त मात्रा सुनिश्चित की जाए। ग्राम निगरानी समितियों को फेस शील्ड, मास्क, सेनेटाइजर, हैण्ड ग्लब्स आदि आवश्यक सुरक्षा उपकरण पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। उन्होने कहा कि पानी के टैंकों को समय-समय पर साफ कराया जाए और शत-प्रतिशत हैण्डपम्प क्रियाशील रहें। 

बैठक में अपर आयुक्त प्रशासन श्री डी0पी0सिंह तथा वर्चुअली माध्यम से जनपद मुजफ्फरनगर के अपरजिलाधिकारी, मुख्यचिकित्साधिकारी, समस्त उपजिलाधिकारी, खण्ड विकास अधिकारी तथा एम.ओ.आई.सी. उपस्थित रहे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बरेली के बहेड़ी थाने में लेडी कांस्‍टेबल के चक्‍कर में पुलिस वालों में चलीं गोलियां, थानेदार समेत पांच पर गिरी गाज

पीलीभीत के थाना जहानाबाद की शाही पुलिस चौकी के पास हुआ हादसा तेज़ रफ्तार ट्रक ने इको को मारी टक्कर दो व्यक्तियों की मौके पर हुई मौत, एक व्यक्ति घायल|

लोनी नगर पालिका परिषद लोनी का विस्तार कर 11 गांव और उनकी कॉलोनियों को शामिल कर किया गया