दम है कितना दमन में तेरे, देख लिया है देख भी लेंगे – डॉ. कन्हैया कुमार

-दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से मिले डॉ. कन्हैया कुमार

 गठबंधन की आगामी रणनीति पर चर्चा

नई दिल्ली, 12 मई 2024 – उत्तर पूर्वी दिल्ली से लोकसभा उम्मीदवार डॉ. कन्हैया कुमार ने रविवार को चुनाव प्रचार के बीच देर शाम दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से मिले। इस दौरान दोनों के बीच गठबंधन की आगामी रणनीति पर चर्चा भी हुई। वहीं दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने भी कहा कि इंडिया गठबंधन इस बार तानाशाही सरकार को मुंहतोड़ जवाब देगा। इसके साथ ही डॉ. कन्हैया कुमार ने कहा कि जुल्म के खिलाफ सदैव सच्चाई और संघर्ष की जीत हुई है। इस बार भी देश की जनता इंडिया गठबंधन के साथ संघर्ष कर रही है। सच्चाई का साथ देने वाली जनता को भी पता चल चुका है कि धर्म और नफरत को नहीं न्याय करने वालों को जीत दिलानी है।

मुख्यमंत्री केजरीवाल से मुलाकात करने के बाद उत्तर पूर्वी दिल्ली से कांग्रेस उम्मीदवार डॉ. कन्हैया कुमार ने कहा कि संघर्ष करने वाले जेल जाने से नहीं डरते। उन्होंने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि दम है कितना दमन में तेरे, देख लिया है देख भी लेंगे। दिल्ली की जनता जेल का बदला वोट से लेने को बेताब है। हम सब साथ मिल कर तानाशाही को उखाड़ फेंक एक न्याय वाली सरकार देश में स्थापित करने जा रहे हैं।

लोकसभा चुनाव प्रचार के तहत रविवार को बुराड़ी विधानसभा में न्याय स्थापना के लिए निकली पदयात्रा में शामिल होने और कामयाब बनाने के लिए डॉ. कन्हैया कुमार ने बुराड़ी के सभी साथियों का हार्दिक आभार जताया। उन्होंने कहा कि जनता ये प्यार और विश्वास ही महिला अधिकार के लिए लड़ी जा रही लड़ाई को मजबूती देगा। जब बड़े-बड़े धन्नासेठों का 16 लाख करोड़ रुपये का कर्ज माफ किया जा सकता है तो विद्यार्थियों का भी कर्जा माफ किया जाना चाहिये। इंडिया गठबंधन की सरकार बनने पर हम यह करके दिखाएँगे।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश

विधायक अताउर्रहमान के भाई नसीम उर्रहमान हज सफर पर रवाना

जिला गाजियाबाद के प्रसिद्ध वकील सुरेंद्र कुमार एडवोकेट ने महामहिम राष्ट्रपति एवं प्रधानमंत्री को देश में समता, समानता और स्वतंत्रता पर आधारित भारतवासियों के मूल अधिकारों और संवैधानिक अधिकारों को सुनिश्चित करने के लिए लिखा पत्र