*पीलीभीत परिवहन विभाग का सडक सुरक्षा पखबाडे का पुरस्कार वितरण के साथ हुआ समापन*

बेताब समाचार एक्सप्रेस के लिए पीलीभीत से शाहिद खान की रिपोर्ट*

सडक सुरक्षा नियमों का पालन कर हम अपने परिवार का भला करें- *विधायक बाबूराम पासवान*

नियमों का पालन कर दुर्घटनाओं से बचें- *उत्तराखंड सांसद बलराज पासी*

पीलीभीत

पूरनपुर के विधायक बाबूराम पासवान ने कहा है कि सडक सुरक्षा के नियमों के पालन कर हम अपना और अपने परिवार का भला कर सकते है। सडक हादसों को रोकने के लिए आवश्यक है कि हम नियमों का पालन करें। 

बाबूराम पासवान रविवार को स्थानीय गांधी स्टेडियम प्रेक्षागृह में परिवहन विभाग द्वारा आयोजित सडक सुरक्षा पखबाडे के समापन समारोह में मुख्य अतिथि के रुप में संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहाकि सरकार की प्राथमिकता है कि सडकों पर दुर्घटनाओं में जन हानि को रोका जाए। इसके लिए जागरूकता आवश्यक है। 

समारोह के विशिष्ट अतिथि पूर्व सांसद तथा उत्तराखंड के कैबिनट मंत्री दर्जा प्राप्त बलराज पासी ने कहाकि यातायात के नियमों के पालन से न केवल हम अपने परिवार की बल्कि देश की हानि से बचाते है। उन्होंने कुछ संस्मरणों का हवाला देते हुए कहाकि यातायात केनियमों के पालन से वे स्वयं कई बार गंभीर दुर्घटनाओं में बचे है। उन्होंने इस बात पर अफसोस जाहिर किया कि सडक दुर्घटनाओं मे ंहम उदासीन हो जाते है, हमारा पहला कर्तव्य दुर्घटनाग्रस्त व्यक्ति की पहले जान बचाना होना चाहिए। उन्होंने कहाकि सडक सुरक्षा पखबाडा का समापन नहीं बल्कि इसके उद्ेश्य को जारी रखा जाना चाहिए।
समारोह में जिला उद्योग व्यापार मंडल के चैयरमेन तथा जिला ओलंपिक संघ के अध्यक्ष अनिल महेंदु्र ने अभिभावकों से आग्रह किया कि वे अपने बच्चों को अठारह बर्ष से कम उम्र में वाहन न चलाने दे। उन्होंने यातायात पुलिस से आग्रह किया कि जो नियमों का पालन न करें चाहे वह कोई भी उसका चालान अवश्य काटे साथ ही उन्होंने कहा कि हेलमेट वितरण के प्रयास भी किये जाने चाहिए। गन्ना कृषक महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ.सुधीर कुमार शर्मा ने बताया कि उन्होंने अपने महाविद्यालय में बिना हेलमेट दो पहिया वाहन चालकों को प्रवेश वर्जित किया हुआ है। इसके साथ ही उन्होंने सभी से सडक सुरक्षा नियमों का पालन का अनुरोध किया। नेक व्यक्ति के रुप में पुरस्कृत सभासद साकेत सक्सेना और संदीप खंडेलवाल, जिला विद्यालय निरीक्षक गिरजेश चौधरी, पुलिस उपाधीक्षक यातायात सुनील दत्त ने भी संबोधन किया। 

इससे पूर्व सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी वीरेंद्र सिंह ने सडक सुरक्षा पखबाडा में हुई गतिविधियों की आख्या प्रस्तुत करते हुए सडक सुरक्षा पखबाडा जागरूकता से सडक दुर्घटनाओं में आई कमी आने की जानकारी दी। उन्होंने इन नियमों को पालन करने में निरंतरता लाने का आग्रह किया। समारोह में नेक व्यक्ति के रुप में पूर्व सांसद बलराज पासी, सभासद साकेत सक्सेना, शाहिद खा, एबंुलेंस इएमटी गौरव कुमार, पायलट प्रमोद कुमार, समाजसेवी संदीप खंडेलवाल, वसीम कुरैशी अतिथियों ने प्रमाणपत्र तथा स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। इसके अतिरिक्त सामाजिक कार्यकर्ता डॉ.अमिताभ अग्निहोत्री, यातायात पुलिस के मुख्य आरक्षी शाहिद हुसैन, रविंद्र सिंह तथा आरक्षी शैंकी शर्मा, राज्य परिवहन निगम के चालक लोकेंद्र सिंह, तलविंदर सिंह, मोहम्मद शाहिद परिचालक अरूण कुमार, मदनलाल गंगवार तथा लखन सिंह, सहायक सूचना अधिकारी विपिन कुमार, माध्यमिक शिक्षा से डॉ.अजय कुमार सक्सेना, गोपाल कसौधन, राजेश शुक्ला, इंतजार खां, बस आपरेटर यूनियन से मोहम्मद अकरम, लियाकत उर्फ भूरे भाई, परिवहन विभाग से कनिष्ठ सहायक पीयूष गौड, प्रवर्तन दल के राजंेद्र पाल सिंह, राजकुमार, आशीष कुमार गुप्ता, सुभाष सरोज और सुधीर कुमार मिश्र को रोड सेफ्टी चैंपियन के रुप में सम्मानित किया। 

सडक सुरक्षा पखबाडा में भाषण प्रतियोगिता में मोहम्मद साहिल, मोहिनी कश्यपख् अंशिका गंगवार, काम्या मिश्रा, निमिष पाल, क्विज प्रतियोगिता में गुफरान खा, मोहम्मद दानिश, स्मृति वाजपेयी, बहाद्दीन खां, पोस्टर प्रतियोगिता में स्वाति मौर्य, रेनू मौर्य, मोहम्मद कैफ, स्काउट गाइड के स्वाति पाठक, अनामिका धर, मानसी, नितिन, मनोज, अरूण, कृष्णा, योगेश मौर्य, अभिषेक कुमार और शालिनी पांडेय को पुरस्कृत किया। कार्यक्रम अतिथियों का स्वागत संभागीय परिवहन निरीक्षक हरिओम तथा यात्री कर अधिकारी वर्डिस चतुर्वेदी ने स्वागत किया। कार्यक्रम का संचालन वरिष्ठ पत्रकार डॉ.अमिताभ अग्निहोत्री ने किया। कार्यक्रम राजेश कुमार, प्रतुल तथा हसन, भरत सैनी ने सहयोग किया। 

-----------

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरधना के मोहल्ला कुम्हारान में खंभे में उतरे करंट से एक 11 वर्षीय बच्चे की मौत,नगर वासियों में आक्रोश

विधायक अताउर्रहमान के भाई नसीम उर्रहमान हज सफर पर रवाना

जिला गाजियाबाद के प्रसिद्ध वकील सुरेंद्र कुमार एडवोकेट ने महामहिम राष्ट्रपति एवं प्रधानमंत्री को देश में समता, समानता और स्वतंत्रता पर आधारित भारतवासियों के मूल अधिकारों और संवैधानिक अधिकारों को सुनिश्चित करने के लिए लिखा पत्र